VISA Kya Hai? – जानिए Visa Full Form और वीजा की जानकारी हिंदी में


लेख़ इसके बाद शुरु होगा।

अगर आप इस बात से अनजान है कि VISA पूर्ण प्रपत्र, VISA Kya Hota Hai, VISA Meaning in Hindi तो हम आपको बता दे की हम एक देश में कहीं भी कभी भी घूम फिर सकते है लेकिन अगर हम एक देश से दूसरे देश जाना चाहे तो हमे वीज़ा की ज़रूरत पड़ती है।

विषयों की सूची

विदेश यात्रा के लिए वीज़ा अनिवार्य बन जाता है। अगर हम बिना VISA के दूसरे देश में जाए तो यह ग़ैरक़ानूनी माना जाएगा और उस देश की सरकार आप को घुस पैठिया घोषित कर सकती है। विश्व में कुछ देश ऐसे भी है जहाँ जाने के लिए आपको VISA की ज़रूरत न पड़े ऐसा दो देशों के बीच पारस्परिक सन्धि और अच्छे मैत्री-संबंधों के कारण होता है। तो चलिए जानते है वीजा क्या है, VISA Ka Full Form, वीजा की जानकारी के बारे में विस्तार से

इस स्थिति में दो राष्ट्र एक दूसरे के नागरिकों को प्रवेश देने के लिए वीज़ा की अनिवार्यता को ख़त्म करते है और उन्हें छूट देते है। जैसे भारत और नेपाल के नागरिक बिना वीज़ा के एक-दूसरे के देश आ-जा सकते है।

VISA इतना महत्त्वपूर्ण है की इसके बारे में कुछ बातें जैसे- वीज़ा क्या होता है (What is VISA in Hindi), वीज़ा का अर्थ क्या है (VISA Meaning in Hindi), वीज़ा का फुल फॉर्म क्या है (VISA Full Form in Hindi), Types Of VISA in Hindi आपको जानना बहुत ज़रूरी है।

VISA Kya Hai

वीज़ा एक अस्थाई आधिकारिक अनुमति है, जो दूसरे देश में रहने, घूमने या काम करने के लिए दी जाती है। आप जिस देश में जाना चाहते है उसकी सरकार आपका वीज़ा जारी करती है। यह एक दस्तावेज़ या आपके पासपोर्ट पर Official Stamp के रूप में हो सकता है। वीज़ा जारी करने का मकसद विदेश में प्रवेश करने की Permission लेना होता है।

VISA का पूरा फॉर्म

VISA का फुल फॉर्म है – “आगंतुक अंतर्राष्ट्रीय प्रवास प्रवेश”।

VISA Ki Jankari Hindi Me

VISA क्या है ये आप सब समझ ही चुके होंगे लेकिन क्या आपको पता है कि VISA Kaisa Hota Hai, VISA Ke Kitne Prakar Hai, वीज़ा की पूरी जानकारी हिंदी में (VISA information in Hindi) जानने के लिए हमारे लेख को अंत तक पढ़ें।

दूसरे देश से आने वाले व्यक्तियों के लिए वीज़ा एक तरह का Permission Letter होता है, जो Government द्वारा आपको किसी दूसरे देश में रहने की Permission देता है। Generally ये किसी आपके Passport पर एक मोहर की तरह होता है जो अनुमति दर्शाती है।

आप दूसरे देश में कितने दिन रह सकते है और आप वहां क्या कर सकते है, ये आपके वीज़ा पर निर्भर करता है। किसी भी दूसरे देश का वीज़ा पाना आसान नहीं है, क्योंकि वीज़ा भी अलग-अलग तरह के होते है। वीज़ा लेते समय उसका एक उसका कारण सरकार को बताना पड़ता है।

वीज़ा मुख्यतः दो प्रकार के होते है –

  1. गैर अप्रवासी वीज़ा: अगर व्यक्ति सीमित समय के लिए विदेश जाना चाहता है तो गैर-प्रवासी वीज़ा यानि Non-Immigrant VISA लेना पड़ता है।
  2. मैं तुम्हारे कज़िन को याद करता हूँ: अगर व्यक्ति दूसरे देश में जाकर वहीं बसना चाहता है तो प्रवासी वीज़ा यानि Immigrant VISA लेना होगा।

इसके अतिरिक्त इन दोनों Categories के अंतर्गत 8 प्रकार के वीज़ा आते है।

  • पार करने का आज्ञापत्र
  • पर्यटक आज्ञापत्र
  • व्यापार वीजा
  • आगमन पर
  • छात्र वीजा
  • विवाह वि.सं.
  • मैं तुम्हारे कज़िन को याद करता हूँ
  • मेडिकल वीज़ा

निष्कर्ष

साधारणतः वीज़ा से केवल उसी देश में जाने की अनुमति मिलती है, जो देश उसे जारी करता है। लेकिन कुछ वीज़ा ऐसे भी होते है जिनसे एक से अधिक देशों में जाने की अनुमति मिलती है ऐसे वीज़ा को Common VISA कहा जाता है।

तो दोस्तों कैसी लगी आपको यह जानकारी Comment Box में बताये और आप कब अपना VISA बनवा रहे है यह भी बताये। इस Post को अपने दोस्तों के साथ सामाजिक मीडिया Platform जैसे- instagram, फेसबुक, WhatsApp पर ज़रुर शेयर करे।

वीज़ा से जुडी और भी जानकारियां जो आपको ज़रूर पढ़ना चाहिए।

Visa Kaise Banwaye? – Visa Ke Liye Zaruri Documents क्या-क्या है जानिए पूरी जानकारी सरल भाषा में!

Passport Ke Liye Apply Kaise Kare? – जाने पासपोर्ट बनवाने के लिए डॉक्यूमेंट, खर्च और समय!

योगदान देने वाला

क्या आपको एडिटोरियल टीम के आर्टिकल पसंद आयें? अभी फॉलो करें सोशल मीडिया पर!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *