Tally क्या है कैसे सीखें और उसके फायदे क्या हैं

Tally –
दोस्तों हम सभी जानते हैं किसी भी Business में Accounting Sector बहुत ही Important Roll निभाता है। ,,
क्योंकि इसी के आधार पर Business के Profit और Loss के बारे में Information प्राप्त होती है। Accounting के माध्यम से ही हम अपने Business पर पुरा Command रख सकते हैं। इसमें Tally मुख्य भूमिका निभाता है।
Tally जो कि एक Accounting Software है जिसे बहुराष्ट्रीय Company Tally Solutions Pvt Ltd  द्वारा बनाया गया है।
आज हर बड़ी से बड़ी Company हो या छोटे से छोटा दुकानदार सब अपने Business का सारा लेखा जोखा इस Tally Softaware के माध्यम से ही रखतें हैं।
दोस्तों आज हम आपको बताएंगे Tally के इतिहास के बारे में..।।

Tally क्या है।..??

दोस्तों TALLY का Full Form
Transactions Allowed in a Linear Line Yards.
है।

Tally Definition In Hindi:
“Tally का अर्थ पैसे की गणना करना साथ ही उसका व्यस्थापन और संरक्षित करना हैं. इसके अलावा वस्तु कहाँ से खरीदी गयी कितने में खरीदी गई इन सभी कामो का रिकार्ड Tally में रखा जाता है।.”

यह भारत में प्रयोग होने वाला सबसे पॉपुलर Accounting Software है।.
 Tally Solutions Pvt. Ltd. 
एक मल्टीनेशनल कंपनी है जिसने Tally का निर्माण किया है।.
इसका Headquarter भारत के बैंगलोर शहर में स्थित है।
हाल ही के रिपोर्ट के अनुसार 10 लाख से ज्यादा लोग इसका प्रयोग करते हैं।
पहले की जमाने की बात करे तो पहले लोगों को अपने आय व्यय का हिसाब रखने के लिए कलम और कागज की जरूरत पड़ती थी फिर कुछ समय बाद कैलकुलेटर की भी जरूरत पड़ने लगी।
और ये हिसाब मुनिम जी रखा करते थे।
लेकिन जब से Tally Software का उपयोग होने लगा तब से काम बहुत आसान हो गया
हर छोटी बड़ी कंपनी में Account Department होता है जो संगठन या फिर Organization के सभी Account से जुड़े कामों को देखते हैं।. Account वाले Department में Tally का इस्तेमाल जरूर किया जाता है इसलिए अब हर Company Accounting के लिए Tally Expert को अपनी Company में रखती है जिससे वो सारे लेखा जोखा का हिसाब Computer में रख पाए लेकिन इस प्रकार के काम को करने के लिए इसका कोर्स करना जरूरी है। यह एक ऐसा Computer Application है जो कई प्रकार के जटिल Mathematical Calculation को बहुत ही आसानी से कर देता है।
दोस्तों आपको जानकर हैरानी होगी कि Tally का इस्तेमाल तो भारत में होता है लेकिन यह भारत के अलावा कई अन्य देशों में भी Tally Software बहुत प्रचलित है।.
ये Software बहुत साडी Company और Accounting Field से जुड़े लोगो के रोज़मर्रा काम आने वाला एक बहुत ही महत्वपूर्ण Software है।

Tally का इतिहास..??

दोस्तों हम सभी जानते हैं कि आज के समय
Tally का Work अधिकतर ऐसे जगह जैसे किसी Company , Bank आदि में किया जाता है।
जब भी कोई Accouting का रिकॉर्ड कंप्यूटर में रखनें के बारे में सोचता है तो इसके लिए सबसे पहले इसी सॉफ्टवेयर का नाम दिमाग में आता है।
Company में Tally Software का Use कर के हम Account Department से संबंधित सभी जानकारियों का ब्यौरा बड़े आसानी से रख पाते हैं।
Tally का विकास सन् 1986 में श्री श्याम सुनदर गोयनका और उनके पुत्र भारत गोयनका के द्वारा मिलकर किया गया था
Tally Solution Pvt Ltd का हेडक्वाटर बेंगलोर में है। , आज अधिकतर छोटी या बड़ी कंपनिया एकाउंटिंग के लिए टैली का ही प्रयोग करती है। , Tally Solution Pvt Ltd को पहले Peutronics के नाम से जाना जाता था , श्याम सुन्दर गोयनका एक कंपनी का सञ्चालन करते थे जिसके अंतर्गत वे दुसरे प्लांट और टेक्सटाईल मिलो को कच्चा मॉल और पार्ट्स की सप्लाई करते थे , उनके पास अपने व्यापर का लेखा जोखा Computer में रखने के लिए कोई Software नहीं था जिसमे वे अपने Company का लेखा जोखा रख सके ,
तब उन्होंने अपने बेटे भारत गोयनका से कहा की एक ऐसा Software बनाओ जिसमे हम अपने कारोबार का लेखा जोखा Computer में आसानी से रख सके, इसके बाद भारत गोयनका ने सबसे पहले अकाउंट के लिए सॉफ्टवेयर MS-DOS बनाया, जिसमे कुछ Basic Features थे जिनके माध्यम से भी Account को Manage किया जा सके और इस Software का नाम इन्होने Peutronics Financial Accountant रखा।

सन् 1988 में इस Software का नाम बदलकर पहली बार Tally रखा गया.

सन् 1999 में इस कंपनी ने Formally कंपनी का नाम बदलकर Tally Solutions रखा.

सन् 2001 के साल में Tally के नए संस्करण यानि Tally 6.3 को लांच किया गया. ये संस्करण से थोड़ा Advance था क्यों की इस में Accounting के अलावा Educational उद्देश्य से उपयोग करने की योग्यता थी. इसके साथ इस में License की सुविधा भी दी गई.

सन् 2005 में Tally को और भी अच्छा Design के साथ बाजार में उतारा गया।
Value Added Taxation (VAT)
जिसका मुख्य Feature था।
जो की भारतीय Customer के लिए बहुत उपयोगी था. ये Tally 7.2 Version था.

सन् 2006 में Tally के 2 Version को Release किया गया जिनमे से एक Tally 8.1 था और दूसरा Tally 9. ये Tally के Maultilingual Version थे.

सन् 2009 में इस Company ने Tally ERP 9 एक Business Management Solution रिलीज़ किया.

सन् 2016 में GST Server और Tax Payers के बिच में Interface के रूप में GST सुविधा प्रदान करने के लिए Tally Solutions को चुना गया और 2017 में Company ने बिलकुल Updated GST Compliance Software लांच किया.

Tally कैसे सीखें –


दोस्तों अगर आप Tally सिख जाते है तो इससे आप बहुत सारे काम कर सकते है। साथ ही साथ आप चाहें तो कहीं पर जॉब भी कर सकते है।
आप Tally को दो तरह से सीख सकते हैं।
Offline OR Online

1. किसी Institute के माध्यम से (Offline

2. Internet के माध्यम से (Online)

किसी Institute के माध्यम से (Offline
अगर आप किसी Institute के माध्यम से यह Tally या Accounting Based Courses करते हैं तो वह। आपको Cartificate Provide करवाते जिससे आपको आसानी से कहीं पर भी जॉब मिल सकता है।
दोस्तों Tally सीखने के साथ ही आपके पास उसका सर्टिफ़िकेट भी होना चाहिए। तभी आप कहीं पर जॉब कर सकते है।

2. Internet के माध्यम से (Online)

Internet के माध्यम से यानी कि (Online)
यदि आप Internet से Tally सीखते है तो आपको Tally का Cartificate नहीं मिलेगा। जिससे आपको किसी Company में या Bank में जॉब नहीं मिलेगी।
क्योंकि Tally सीखने के साथ ही आपके पास उसका Cartificate भी होना चाहिए। तभी आप कहीं पर जॉब कर सकते है।

Tally सीखने की अवधि..??

दोस्तों जैसा कि हमने आपको बताया कि Accounting और Tally Based Courses करने के फायदे के बारे में अब आपको बताते हैं इसके Courses Duration के बारे में
ज्यादातर Tally और Accounting से संबंधित Courses 3 महीने का होता है। पहले महीने में आपको इसका बेसिक सिखाया जाएगा। और दूसरे और तीसरे महीने में Tally के Advance Features सीखाये जाते है। इसके साथ ही आप इसका 1 Year का Diploma Course भी कर सकते है।
ध्यान दें सभी Institutions अपने अपने हिसाब से इन Courses Duration , Course Timing और Course Fee ,
Decide कर सकते हैं इसलिए यह हर Institute में अलग-अलग हो सकता है।

Tally क्यो सीखें और उसके फायदे..??

आइये दोस्तों अब हम आपको बताते हैं Tally को सीखने के क्या क्या फायदे हैं।
दोस्तों अब तो Tally Based Special Course आ गए हैं इसके साथ ही Account से संबंधित Short Term Courses भी हो रहे हैं यदि आप Tally का Course कर लेते है तो आपको इसके बहुत से फायदे मिलते है।

1. Tally Course करने से आप Computerized Accounting की जानकारी प्राप्त कर लेते है।

2. आज के समय में लगभग हर Company में Account Department होता है। यह कोर्स पूरा करने के बाद आप किसी भी Company में जॉब कर सकते है। अधिकतर Companies अपने यहाँ Accountants को हायर करती है।

3. इस कोर्स को करने के बाद आप न केवल किसी Company बल्कि कहीं Institute वगैरह में  भी एक Tally के Teacher के रुप में नौकरी करके अच्छा वेतन भी प्राप्त कर सकते है।

4. ये केवल नौकरी नही बल्कि अगर आप बिज़नेस करते है और आपने Tally Course किया है तो आप अपने Business की Financial Condition को अच्छे से समझ सकते है।

 

दोस्तों आज की Post में आपको
Tally क्या है और इसे कैसे सीखें..??
इसकी जानकारी मिली आपको मेरा ये पोस्ट
कैसा लगा मुझें जरुर बताएं।
साथ ही अगर आपके पास इस विषय से जुड़ी
कोई सवाल या जिज्ञासा है तो आप वो भी हमें
बता सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *