National Recruitment Agency PDF, नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी


राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी पीडीएफ डाउनलोड करें, केंद्र की राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी 2021 को मंजूरी पीडीएफ, नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी के लागु होने से युवाओ को होने वाले लाभों का विवरण आपको इस लेख में दिया जायेगा। केंद्र सरकार द्वारा नेशनल एजुकेशन पालिसी (New Education Policy) को लागु किए जाने के बाद एक और बड़ा निर्णय लेते हुए नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी को मंजुर दे दी है।

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा वर्ष 2021 में पहली बार केंद्रीय बजट 2021 को प्रस्तावित करते हुए राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी को जारी किए जाने की बात कही थी। केंद्रीय मंत्रिमंडल के द्वारा राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी की स्थापना को मंजूरी दिए जाने के बाद युवाओ को किसी भी सरकारी नौकरी को प्राप्त करने के लिए एक पात्रता पेपर देना होगा। इसे एक सामान्य पात्रता परीक्षा के रूप में समझा जा सकता है।

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी क्या है?

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी जिसे राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के नाम से भी जाना जाता है यह एक केंद्रीय मंत्रिमंडल का प्रस्ताव है। इस प्रस्ताव के मंजूर कर लिए जाने के बाद अब केंद्र सरकार और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में अराजपत्रित पदों पर चयन के लिए एक कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट (CET) आयोजन किया जायेगा। नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी के बारे में बात करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर लिखा  – की “राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी करोड़ों युवाओं के लिए एक वरदान साबित होगी।”

इस घोषणा के बाद सभी गैर-राजपत्रित पदों के लिए जिसमे ग्रुप B और C शामिल हैं एक एकल प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जायेगा। इस कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (CET) को उत्तीर्ण करने के बाद उम्मीदवार उच्च स्तर की परीक्षा के लिए किसी भी भर्ती एजेंसियों में आवेदन कर सकते हैं। राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के तहत कराई गयी परीक्षा का स्कोर तीन साल तक वैध माना जायेगा। इसके आधार पर म्मीदवार अपनी योग्यता और पसंद के अनुसार विभिन्न क्षेत्रों में नौकरियों के लिए आवेदन कर सकते हैं।

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी का अवलोकन

नामNational Recruitment Agency, राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी
आरम्भ की गईकेंद्र सरकार द्वारा
आरम्भ की तिथि19 अगस्त 2021
लाभार्थीविभिन्न सरकारी नौकरियों के लिए तैयारी कर रहे उम्मीदवार
उद्देश्यविभिन्न भर्तियों के लिए एकल परीक्षा का आयोजन
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटwww.mygov.in/

राष्ट्रीय भर्ती परीक्षा से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बिंदु

  • NRA के तहत अभी तक RRB, SSC, IBPS इन तीनो के पैटर्न को मर्ज कर दिया गया है। अभी तक इन तीन परीक्षाओ को कॉमन किया गया है।
  • एजेंसी के तहत दिल्ली में एक हेड क्वार्टर बनाया गया है जिसमे 12 क्षेत्रियों भाषाओँ में दी जा सकती है।
  • राष्ट्रीय भर्ती परीक्षा के तहत साल में दो बार परीक्षाओ का आयोजन किया जायेगा। कोशिश की जाएगी की परीक्षार्थोयों की परीक्षा उनके जिले में ही संपन्न कराई जाये।
  • CET की परीक्षा में मेरिट लिस्ट तीन साल तक के लिए मान्य होगी, उम्मीदवारों को उम्र में छूट नहीं दी गयी है।
  • फीस में कोई बदलाव नहीं किया गया है। पहले आवेदन में जितनी फीस जमा की जाती थी अभी भी उतनी ही की जाती है।
  • पुरे देश में 1 हजार टेस्ट सेंटर बनाये जायेंगे।

नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी का कार्यान्वयन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर के माध्यम से कहा की “सामान्य पात्रता परीक्षा के जरिए यह कई टेस्टों को खत्म कर देगा और कीमती समय के साथ-साथ संसाधनों को भी बचाएगा”। विभिन्न सरकारी रिक्तियों के प्रारंभिक चयन के लिए  कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट (सीईटी) का आयोजन करने के लिए राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (एनआरए) के गठन को एक क्रांतिकारी सुधार के रूप में देखा जा रहा है। इससे उम्मीदवारों के भर्ती और चयन में आसानी होगी।

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी

इसके आलावा उम्मीदवारों को विभिन्न भर्तियों के लिए अलग-अलग आवेदन करने की आवश्यकता नहीं होगी जिससे उम्मीदवारों के जीवन-स्तर में सुधार होगा और समय और धन की बचत होगी। केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह के द्वारा इसकी घोषणा पर कहा गया की राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी), रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) और इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग सर्विस पर्सनेल (आईबीपीएस) के लिए एक सामान्य पात्रता परीक्षा आयोजित करेगा।

केंद्र सरकार के इस कदम से केंद्र तथा राज्य के अंतर्गत आने वाली भर्ती एजेंसियों के लिए कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट करा पाएंगे। इस समय केंद्रीय सरकार में लगभग 20 से अधिक भर्ती एजेंसियां ​​हैं जिसमे से अभी तक केवल तीन एजेंसियों ही परीक्षाएं कर रहे हैं। केंद्रीय सचिव सी चंद्रमौली द्वारा बैठक में बताया गया की सरकार का लक्ष्य सभी भर्ती एजेंसियों के लिए कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट को लागु करना है।

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी को जारी किये का उद्देश्य

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (एनआरए) को पहली बाटर वर्ष 2021 के केंद्रीय बजट में प्रस्तावित क्या गया था। राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी एक स्वतंत्र, पेशेवर, विशेषज्ञो का एक संगठन होगा जो विभिन्न भर्ती एजेंसिया के द्वारा अलग-अलग श्रेणियों में उम्मीदवारोंके चयन के लिए लिए जाने वाली परीक्षा के स्थान में एक कॉमन पात्रता परीक्षा का आयोजन करेगा। इस पात्रता परीक्षा (सीईटी) के स्कोर को  केंद्र सरकार, राज्य सरकारों / केंद्र शासित प्रदेशों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम और निजी क्षेत्र में अन्य भर्ती एजेंसियों के साथ साझा किया जायेगा।

सामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी) स्कोर के आधार पर उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया को पूरा किया जायेगा। इस प्रक्रिया की शुरुआत से उम्मीदवारों को हर श्रेणी में नियुक्ति के लिए अलग-अलग परीक्षा में भाग लेने की आवश्यकता नहीं होगी। सभी उम्मीदवारों का चयन सिर्फ (CET) स्कोर के आधार पर ही किया जायेगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने केंद्रीय बजट में उल्लेख करते हुए कहा की इस पात्रता परीक्षा को सामान्य पात्रता परीक्षा के रूप में जाना जायेगा।

निष्कर्ष

दोस्तों हमने आपको अपने इस लेख के माध्यम से केंद्रीय मंत्रिमंडल के द्वारा शुरू की गयी राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी) के बारे में अभी तक प्राप्त जानकारियों की जानकारी दी है। राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी को लागू किया जाना केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार का एक क्रांतिकारी फैसला है जिससे भविष्य में छात्रों को बहुत लाभ दिए जा सकेंगे। हम उम्मीद करते है की आपको हमारे द्वारा दी गयी नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी की जानकारी समझ में आयी होगी। हम अपने इस आर्टिकल में आपको इससे सम्बंधित अपडेट उपलब्ध कराते रहेंगे। आप से निवेदन है कि आप हमारे से जुड़े रहे।

यह भी पढ़े – पीएम मोदी स्वास्थ्य आईडी कार्ड 2021, आवेदन वन नेशन वन हेल्थ कार्ड

हम उम्मीद करते हैं की आपको राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

पूछे गए प्रश्नों के उत्तर

राष्ट्रीय भर्ती परीक्षा की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

बताते चले की अभी तक National Recruitment Agency की कोई आधिकारिक वेबसाइट लांच नहीं की गयी है।

एन.आर.ए. में कितनी एजेंसियों को शामिल किया गया है?

अभी तक तीन एजेंसियों को जोड़ा गया है, इन समय तक RRB, SSC, IBPS को ही मर्ज किया गया है।

राष्ट्रीय भर्ती परीक्षा का उद्देश्य क्या है?

राष्ट्रीय भर्ती परीक्षा का मुख्य उद्देश्य CET के माध्यम से साल में सिर्फ दो परीक्षाओ का आयोजन करना है।

राष्ट्रीय भर्ती परीक्षा नेता होने से कैंडिडेट को क्या लाभ होगा?

कॉमन एजीबिलिटी टेस्ट के माध्यम से अब कैंडिडेट को एक ही परीक्षा देनी होगी जिसमे पास होने वाले कैंडिडेट की एक मेरिट सूची तैयार की जाएगी। इस सूची में नाम आने पर सीधा सिलेक्शन किया जा सकेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *