Marriage Certificate, विवाह प्रमाण पत्र रजिस्ट्रेशन


झारखण्ड विवाह पंजीकरण, Jharkhand Marriage Registration, Jharkhand Marriage Certificate की पूरी जानकारी आपको इस लेख इस लेख में प्रदान की जाएगी। विवाह प्रमाण पत्र एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसका उपयोग कानूनी रिकॉर्ड के रूप में किया जाता है। इसे ध्यान में रखते हुए, झारखंड सरकार द्वारा विवाह प्रमाण पत्र अनिवार्य कर दिया गया है, जिससे सरकार द्वारा दिए जाने वाले लाभ इस प्रमाण पत्र के माध्यम से उठाये जा सके।

हम जानते हैं कि पहले के समय में विवाह प्रमाणपत्र बनवाने की आवश्यकता नहीं पड़ती थी, जिससे लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता था। विवाह प्रमाणपत्र न होने के कारण किसी के पास विवाह का प्रमाण नहीं होता था, धोखाधड़ी के केस ज्यादा बनते थे या कोई भी विवाह करके एक दूसरे को छोड़ दिया करते थे। इसी समस्या को देखते हुए झारखण्ड सरकार द्वारा झारखंड मैरिज सर्टिफिकेट को शुरू किया गया है।

झारखंड विवाह पंजीकरण

झारखंड सरकार के माध्यम से राज्य के नागरिकों को विवाह के 1 वर्ष के भीतर अपना झारखण्ड विवाह पंजीकरण करवाना जरुरी कर दिया है। यह निर्णय को विवाह पंजीकरण नियम 2018 के तहत राज्य सरकार द्वारा लिया गया है। राज्य के नागरिक विवाह पंजीकरण ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से भी कर सकते हैं। विवाहित जोड़ों का विवाह पंजीकरण के बाद कानूनी माना जाता है, पंजीकरण के बाद नागरिकों को एक विवाह प्रमाणपत्र प्रदान किया जाता है।

इस विवाह प्रमाण पत्र का उपयोग कई सरकारी नौकरियों में एक आवश्यक दस्तावेज के रूप में भी किया जाता है। झारखंड सरकार द्वारा Jharkhand Marriage Certificate प्राप्त करने की पूरी प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया गया है। इससे पहले, नागरिकों को विवाह प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए सरकारी कार्यालयों का दौरा करना पड़ता था, जिसने समय और धन दोनों बर्बाद किया। अब झारखंड के नागरिक घर बैठे आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से अपना विवाह प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते हैं।

झारखण्ड विवाह पंजीकरण में जुर्माने की स्थिति

यदि विवाहित जोड़े को विवाह के 1 वर्ष के भीतर विवाह का प्रमाणपत्र नहीं मिलता है, तो उन्हें प्रति दिन 5 रुपये का जुर्माना देना होगा। यह राशि अधिकतम 100 रुपये होगी। झारखण्ड विवाह पंजीकरण करवाने के लिए नागरिकों को 50 रुपये का शुल्क भी देना होगा, क्योंकि यह नियम राज्य के सभी धर्मों के नागरिकों के लिए है। सरकार द्वारा लागू किये गए सभी नियमों को सभी धर्मों का स्वीकारना अनिवार्य है।

झारखण्ड विवाह पंजीकरण शहरी क्षेत्र के नागरिकों, नगर परिषद, नगर परिषद, नगर पालिका और अधिसूचना क्षेत्र समिति के जन्म मृत्यु पंजीकरण अधिकारियों से भी किया जा सकता है। ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिक जन्म प्रमाण पत्र और मृत्यु प्रमाण बनाने वाले अधिकारियों से विवाह प्रमाणपत्र प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा, विवाह पंजीकरण छावनी परिषद और प्रज्ञा केंद्र द्वारा भी किया जा सकता है।

झारखंड विवाह प्रमाण पत्र की मुख्य विशेषताएं

योजना का नामझारखण्ड विवाह पंजीकरण
आरम्भ की गईझारखंड सरकार
लाभार्थीझारखंड के विवाहित नागरिक
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यराज्य सरकार द्वारा विवाहित नागरिकों के पास विवाह प्रमाणपत्र की अनिवार्यता
लाभनागरिकों के पास कानूनी विवाह प्रमाणपत्र होगा
श्रेणीराज्य सरकार योजना
आधिकारिक वेबसाइटhttps://jharSHa.jharkhand.gov.in/

Jharkhand Marriage Certificate का उद्देश्य

हम जानते हैं कि हमारे देश में अधिकतर विवाह अवैध होते हैं, जिससे समाज में जुर्म बढ़ने की आशंका बनी रहती है। इस अवैध विवाह को रोकना कानून का कर्तव्य होता है, जिससे समाज में शांति बनी रहे। पहले के समय विवाह प्रमाणपत्र  प्राप्त करने के लिए सरकारी कार्यलय के चक्कर लगाने पड़ते थे, जिससे नागरिकों के समय और धन की हानि होती थी। इसी समस्या को देखते हुए झारखण्ड सरकार द्वारा झारखंड मैरिज सर्टिफिकेट ऑनलाइन जारी किये गए हैं।

झारखण्ड विवाह पंजीकरण का मुख्य उद्देश्य यह है कि राज्य के सभी विवाहित नागरिकों को विवाह प्रमाणपत्र प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से झारखंड के सभी नागरिकों के लिए विवाह पंजीकरण अनिवार्य कर दिया गया है। यह पंजीकरण आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से किया जा सकता है। अब झारखंड के नागरिकों को विवाह पंजीकरण करवाने के लिए किसी सरकारी कार्यालय जाने की आवश्यकता नहीं है। वह घर में आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से विवाह पंजीकरण करवा सकते हैं। इससे समय और धन दोनों की बचत होगी और प्रणाली में पारदर्शिता आएगी।

झारखण्ड विवाह प्रमाण पत्र आवेदन की फीस

यदि राज्य के नागरिक प्रमाण पत्र बनवाना चाहते हैं तो इसके लिए शादी से 15 दिन पहले पंचायत सचिवालय में जाकर आवेदन करना होगा, जिसके लिए 50 रुपये का शुल्क जमा करना होगा। अगर किसी को शादी पर आपत्ति है, तो उन्हें 7 दिनों के भीतर इसके लिए आवेदन करना होगा, जिसका आवेदन शुल्क 500 रुपये निर्धारित किया गया है। राज्य सरकार के तहत Jharkhand Marriage Registration को अधिकृत पंचायत सचिव द्वारा हस्ताक्षरित होना अनिवार्य है। इस प्रक्रिया को गांव में पंचायत सचिव और प्रज्ञा केंद्र के द्वारा की जाएगी। पंचायत सचिव और प्रज्ञा केंद्रों को दिनांक 28 जनवरी 2021 को प्रशिक्षण दिया गया है। इसके अलावा, झारखंड के नागरिक आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से भी अपनी शादी का पंजीकरण करा सकते हैं।

झारखण्ड विवाह पंजीकरण के अंतर्गत मिलने वाले लाभ

  • झारखंड सरकार ने झारखंड के नागरिकों को विवाह के 1 वर्ष के भीतर अपना विवाह पंजीकरण करवाना अनिवार्य कर दिया है।
  • राज्य सरकार द्वारा यह निर्णय पंजीकरण नियम 2018 के तहत लिया गया है।
  • अब झारखंड के नागरिक अपना विवाह पंजीकरण ऑनलाइन भी करवा सकते हैं।
  • विवाहित जोड़े का विवाह पंजीकरण के बाद कानूनी रूप से वैध माना जाता है।
  • झारखण्ड विवाह पंजीकरण प्राप्त करने के बाद, नागरिकों को विवाह प्रमाण पत्र से सम्मानित किया जाता है।
  • राज्य सरकार द्वारा जारी किये गए झारखंड मैरिज सर्टिफिकेट का उपयोग कई प्रकार के सरकारी कार्यों में एक आवश्यक दस्तावेज के रूप में किया जाता है।
  • झारखंड विवाह पंजीकरण कराने के लिए अब नागरिकों को किसी भी सरकारी कार्यालय का दौरा नहीं करना पड़ेगा। वह इस प्रमाण पत्र को घर बैठे आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।
  • इस ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से राज्य के नागरिकों का धन और समय दोनों की बचत होगी।

झारखंड विवाह प्रमाण पत्र की विशेषताएं

  • यदि विवाहित जोड़े को विवाह के 1 वर्ष के भीतर विवाह प्रमाणपत्र नहीं मिलता है, तो उन्हें प्रति दिन 5 रुपये का जुर्माना देना होगा।
  • अधिकतम जुर्माना 100 रुपये होगा।
  • विवाह पंजीकरण करवाने के लिए नागरिकों को 50 रुपये का आवेदन शुल्क देना होगा।
  • झारखण्ड सरकार द्वारा इस नियम को सभी धर्मों के नागरिकों के लिए लागू किया गया है।
  • शहरी क्षेत्रों के लिए विवाह पंजीकरण नागरिकों द्वारा नगर निगम, नगर परिषद, नगर पालिका और अधिसूचना क्षेत्र समिति में जन्म मृत्यु का पंजीकरण भी कराया जा सकता है।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में, यह Jharkhand Marriage Certificate उन अधिकारियों से भी बनवाया जा सकता है जिन्होंने नागरिक जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र बनाया है।
  • इसके अलावा, विवाह पंजीकरण छावनी परिषद और प्रज्ञा केंद्र द्वारा भी किया जा सकता है।
  • प्रमाण पत्र बनवाने के लिए शादी से 15 दिन पहले पंचायत सचिवालय में आवेदन किया जाता है।
  • अगर किसी को शादी पर आपत्ति है, तो उन्हें 7 दिनों के भीतर आवेदन करना होगा, जिसके लिए आवेदन शुल्क 500 रुपये है।
  • विवाह प्रमाणपत्र को अधिकृत पंचायत सचिव द्वारा हस्ताक्षरित होना अनिवार्य है।
  • पंचायत सचिव और प्रज्ञा केंद्रों को दिनांक 28 जनवरी 2021 को भी प्रशिक्षण प्रदान किया गया है।

झारखण्ड विवाह पंजीकरण के पात्रता मानदंड

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको दिए गए पात्रता मानदंडों को अनिवार्य रूप से निम्न प्रकार पूरा करना होगा-

  • किसी भी विवाहित जोड़े को मानसिक असंतुलन से पीड़ित नहीं किया जाना चाहिए।
  • दुल्हन की उम्र 21 साल से कम नहीं होनी चाहिए और दुल्हन की उम्र 18 साल से कम नहीं होनी चाहिए।
  • विवाह पंजीकरण करवाने के लिए आवेदक को झारखण्ड का मूल-निवासी होना आवश्यक है।

आवश्यक दस्तावेज

  • दूल्हा-दुल्हन की संयुक्त तस्वीर
  • शीर्ष पर पासपोर्ट आकार का फोटो
  • दुल्हन की पासपोर्ट साइज फोटो
  • तीन गवाहों की पासपोर्ट साइज फोटो
  • तीन गवाहों के डिजिटल हस्ताक्षर
  • पर डिजिटल हस्ताक्षर
  • दुल्हन डिजिटल हस्ताक्षर
  • आयु प्रमाण पत्र पर
  • दुल्हन का आयु प्रमाण पत्र
  • वर का निवास प्रमाण पत्र
  • दुल्हन का निवास प्रमाण पत्र
  • वर्ग के आधार कार्ड की प्रति
  • वधु की आधार कार्ड कॉपी

झारखण्ड विवाह पंजीकरण कैसे करें?

आपके द्वारा ऊपर दिए गए पात्रता मानदंडों को पूरा किये जाने की स्थिति में आप दिए गए चरणों के द्वारा ऑनलाइन मोड में आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको झरसेवा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “रजिस्टर योरसेल्फ” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा।
झारखंड विवाह पंजीकरण
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, पासवर्ड, राज्य तथा कैप्चा कोड दर्ज कर देना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी  दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक  कर देना है।
  • इस प्रकार आप झरसेवा पोर्टल पर पंजीकृत हो जायेंगे।
  • अब आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने लॉगिन फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- लॉगिन आईडी, पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगिन बटन पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • अब आपको “मैरिज रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण दर्ज करके सभी आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड कर देना है।
  • अब आपको आवेदन शुल्क का भुगतान करके सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार आपका झारखण्ड विवाह पंजीकरण सफल हो जायेगा।

पंजीकरण के बाद की प्रक्रिया क्या है?

  • ऑनलाइन फॉर्म जमा करने के बाद आपको एक रेफरेंस संख्या प्राप्त होगी।
  • यह संदर्भ संख्या आपकी नामांकन पर्ची पर भी होगी।
  • इसके बाद, आपको अपनी नामांकन पर्ची और आवेदन पत्र का एक प्रिंट आउट प्राप्त करना होगा।
  • आपको यह प्रिंटआउट अपने पास रखना होगा।
  • आपको अपने साथ मुद्रित सभी अपलोड किए गए दस्तावेजों की एक प्रति प्राप्त करने की भी आवश्यकता होगी।
  • भौतिक सत्यापन के दौरान आपको इसकी आवश्यकता होगी।
  • आपके आवेदन के 15 दिन बाद आपको संबंधित कार्यालय में बुलाया जाएगा।
  • आपको कार्यालय में सत्यापित किया जाएगा।
  • सत्यापन के बाद, आपको एक विवाह प्रमाणपत्र दिया जाएगा।

पोर्टल पर लॉगिन कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको झरसेवा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “लॉगिन” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने लॉगिन फॉर्म खुल जायेगा।
झारसेवा लॉगिन करें
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- लॉगइन आईडी, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज कर देना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार आपका झरसेवा पोर्टल पर लॉगिन सफल हो जायेगा।

विवाह एप्लीकेशन स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको झरसेवा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “एप्लीकेशन स्टेटस” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने लॉगिन फॉर्म खुल जायेगा।
  • इस फॉर्म में आपको कैटेगरी का चयन करके पूछी गयी जानकारी का विवरण दर्ज कर देना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन की स्थिति से सम्बंधित जानकारी प्रदर्षित हो जाएगी।

यह भी पढ़े – झारखंड जाति प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन, SC/ST/OBC Jharsewa पंजीकरण

हम उम्मीद करते हैं की आपको झारखण्ड विवाह पंजीकरण से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *