FSSAI Kya Hai? – जानिए FSSAI Full Form in Hindi और एफएसएसएआई की जानकारी


लेख़ इसके बाद शुरु होगा।

इस पोस्ट में आपको जानकारी मिलने वाली है FSSAI फुल फॉर्म हिंदी में, फूड लाइसेंस क्या होता है, FSSAI in Hindi के बारे में, तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़िए और जानिए FSSAI Meaning in Hindi, FSSAI Ka Licence Kaise Le in Hindi और एफएसएसएआई के बारे में विस्तार से।

विषयों की सूची

कोई भी खान-पान की वस्तु हम तक पहुँचने से पहले कई परीक्षा से गुजरती हैं। यह परीक्षा एफएसएसएआई लेता हैं। इसकी स्थापना ग्राहकों तक सही पदार्थ पहुंचाने के लिए की गई हैं।

अगर आपको कोई भी पदार्थ मिलावट वाला लगे तो आप उसकी जानकारी एफएसएसएआई को कर सकते हैं। इस लेख में आप यही जानेंगे कि What is FSSAI in Hindi, FSSAI Ka Matlab Kya Hota Hai, FSSAI Meaning in Hindi,  एफएसएसएआई की पूरी जानकारी हिंदी में।

FSSAI Kya Hai

एफएसएसएआई (FSSAI) यानि Food Safety and Standards Authority of India. एफएसएसएआई एक भारतीय स्वतंत्र निकाय हैं जो भारत में हर तरह के खाद्य पदार्थ के उत्पादन, बिक्री, संचयन और आयात में सुरक्षा, पौषण और स्वच्छता बनाए रखने के लिए ज़िम्मेदार हैं। इसमें 14 आंकड़ों का लाइसेंस नंबर होता हैं। इसके नियमों का अमल स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय से किया जाता हैं।

FSSAI Ka Full Form

FSSAI पूर्ण फॉर्म – “भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण“। FSSAI हिंदी में पूर्ण फॉर्म – “भारतीय खाद्य संरक्षा और मानक प्राधिकरण“।

FSSAI Ki Jankari Hindi Me

ग्राहकों को जहरीले तथा खतरनाक खाद्य पदार्थों से बचाने के उद्देश्य से FSSAI Ki Sthapna की गई थी। एफएसएसएआई की स्थापना किसने की? इसे 2011 में तब के यूनियन मिनिस्टर “अंबुमणी रामडोस्स” के द्वारा स्थापित किया गया था।

एफएसएसएआई विज्ञान पर आधारित मापदंड पर काम करता हैं। यह वैज्ञानिक तौर पर निश्चित करता हैं कि जो खाद्य पदार्थ बाज़ार में उपलब्ध हैं या उपलब्ध होने वाले हैं वे लोगों के लिए पूरी तरह से स्वस्थ हैं। इसलिए एक खान-पान के उत्पादक, संचयकर्ता और विक्रेता के पास एफएसएसएआई लाइसेंस होना आवश्यक हैं।

हालांकि कुछ के लिए यह लाइसेंस ज़रूरी नहीं हैं जैसे – वाहन विक्रेता, अस्थाई स्टॉल धारक, छोटे पैमाने के उद्योग, फेरीवाला आदि जैसे उत्पादक। जिसे लाइसेंस चाहिए वह नामित अधिकारी को आवेदन कर सकता हैं।

एफएसएसएआई के फायदे

  • जनता को शुद्ध खान-पान मिलता हैं।
  • हानिकारक और जहरीले पदार्थ बाज़ार तक नहीं पहुँचते।
  • एफएसएसएआई खान-पान सुरक्षा और खाद्य नियमों के मापदंड की मुख्य और एकमात्र संस्था हैं।
  • एक क्षेत्र में अलग-अलग प्रकार की खाद्य सामग्री के लिए एक ही लाइसेंस की ज़रूरत होती हैं।
  • किसी खाद्य पदार्थ के विक्रेता के पास एफएसएसएआई लाइसेंस होने से उसके ग्राहकों को उसपे विश्वास रहता हैं।

आम तौर पर एफएसएसएआई लाइसेंस पाने में दो महीने लगते हैं। भारत में तीन प्रकार के एफएसएसएआई लाइसेंस होते हैं –

  • बेसिक एफएसएसएआई लाइसेंस (Basic FSSAI License): यह क्षुद्र और लघु उद्योग के लिए हैं जो सामान्य तौर पर एक से पाँच साल के लिए दिया जाता हैं। यह उनके लिए हैं जिनकी वार्षिक आमदनी 12 लाख रुपये से कम हो।
  • स्टेट एफएसएसएआई लाइसेंस (State FSSAI License): यह मध्यम वर्गीय उत्पादकों और विक्रेताओ के लिए हैं जिनकी सालाना आमदनी 12 लाख से ज़्यादा हो। यह भी एक साल से पाँच साल के लिए दिया जाता हैं।
  • सेंट्रल एफएसएसएआई लाइसेंस (Central FSSAI License): यह उन खाद्य व्यापारियों के लिए हैं जिनकी सालाना आमदनी 20 करोड़ से ऊपर हैं।

एफएसएसएआई लाइसेंस रजिस्टर करवाने के लिए एक ई-मेल आई-डी और फोन नंबर होना आवश्यक हैं। अपने आवेदन में अपने नाम की स्पेलिंग सही लिखें और उसे सबमिट करें। उस आवेदन के बाद आपको एक अपना अलग आई-डी दिया जाएगा जो आगे की प्रक्रिया के लिए ज़रूरी होगा।

अंत में आपको एक निर्धारित रकम का भुगतान करना होगा। अपने आवेदन पत्र की कॉपी और भुगतान की राशि के साथ एक डिमांड ड्राफ्ट तैयार कीजिए और उसे सबमिट करें।

निष्कर्ष

इस तरह हम तक साफ़ और पौषणयुक्त खाना पहुँचता हैं। एक उपभोक्ता का उत्तरदायित्व हैं कि वह एफएसएसएआई की आज्ञा वाली ही चीज़ों का सेवन करें। और अगर किसी स्थापित उद्योग के पास लाइसेंस नहीं हैं तो उसकी फरियाद करें। आज तक एफएसएसएआई ने कई ऐसे पदार्थों और उद्योग को बंध किया हैं जो कई सालों बाद हानिकारक साबित हुए हैं।

आपने इस लेख में यह चीज़ें पढ़ी – FSSAI क्या है? एफएसएसएआई का फुल फॉर्म क्या है? FSSAI की पूरी जानकारी हिंदी में/FSSAI Information in Hindi. हमें आशा हैं कि एफएसएसएआई का अर्थ क्या है यह जानकर आप एक महत्व की सूचना से अवगत हुए होंगे। यदि आपको यह लेख पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों से शेयर ज़रूर करें और हमें कमेंट में प्रतिक्रिया दें।

एक नज़र यहाँ भी:

Poultry Farm Kaise Khole? – जानिए मुर्गी पालन कैसे करते है और इसमें कितना खर्चा आता है की पूरी जानकारी!

Dairy Farm Business Kaise Shuru Kare? – डेरी फार्म व्यवसाय शुरू करने से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी!

Trademark Kya Hai? Trademark Registration के लिए कैसे Apply करे!

योगदान देने वाला

क्या आपको एडिटोरियल टीम के आर्टिकल पसंद आयें? अभी फॉलो करें सोशल मीडिया पर!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *