FIR आपके द्वार योजना”एफआईआर-आपके द्वार’ की शुरुआत

[ad_1]

मध्य प्रदेश FIR आपके द्वार योजना|एमपी एफआईआर-आपके द्वार योजना| fir aapke dwar yojana|Mp fir aapke dwar yojana

प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल मध्य प्रदेश FIR आपके द्वार योजना में की जानकारी देने जा रहे हैं| हम आपको बताएंगे कि एमपी एफआईआर-आपके द्वार योजना क्या है| मध्य प्रदेश के सरकार ने fir aapke dwar yojana की शुरुआत की है|इसके तहत शिकायत प्राप्त होते ही पुलिस की ‘डायल 100’ टीम शिकायतकर्ता के घर जाकर प्राथमिकी दर्ज करेगी|मध्यप्रदेश के गृह, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने इस योजना का यहां नवीन पुलिस कंट्रोल रूम में शुभारंभ करते हुए कहा

‘यह योजना 11 संभागीय मुख्यालयों के एक शहरी थाना और एक ग्रामीण थाने और गैर संभागीय मुख्यालय दतिया के एक शहरी थाना सहित पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में 23 थानों में से प्रारंभ की गई है|उन्होंने कहा कि डायल 100 सेवा ने सड़क दुर्घटनाओं में लोगों को अस्पताल पहुंचाकर कई की जान बचाई है. अब शिकायत प्राप्त होते ही डायल 100 शिकायतकर्ता के घर जाकर प्राथमिकी दर्ज करेगी|

एमपी एफआईआर-आपके द्वार योजना

कोरोना वायरस महामारी के इस दौर में ‘एफआईआर-आपके द्वार’ योजना से समस्याओं का निवारण आसानी से हो सकेगा. प्राथमिकी दर्ज कराने के लिये जनता को थाने तक नहीं जाना पड़ेगा|

पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी ने कहा कि डायल 100 में प्राथमिकी दर्ज करने के लिये प्रशिक्षित प्रधान आरक्षक रहेंगे. सामान्य प्रकार की शिकायतों की डायल 100 द्वारा मौके पर ही प्राथमिकी दर्ज की जायेगी. गंभीर शिकायतों पर वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन प्राप्त कर निर्णय लिये जायेंगे|

‘एफआईआर-आपके द्वार’ योजना 31 अगस्त तक पायलट प्रोजेक्ट के रूप में चलेगी. इसके बाद इसका आकलन किया जाएगा और व्यवस्था को पुख्ता बनाकर आवश्यक सुधार व परीक्षण के बाद पूरे प्रदेश में लागू किया जायेगा|

FIR आपके द्वार योजना कैसे दर्ज होगी शिकायत

इस मौके पर डीजीपी विवेक जौहरी ने बताया कि अगर किसी को शिकायत दर्ज कराना है तो सबसे पहले उसे डायल 100 पर कॉल करना होगा। उसके बाद डायल 100 मौके पर पहुंचेगी और सामान्य प्रकार के केस में एफआईआर दर्ज करेगी। इस प्रोजेक्ट के तहत गाड़ी चोरी, गाली-गलौज, हंगामा या अन्य तरह की छोटी घटनाएं ही शामिल किया गया है। इस प्रोजेक्ट में गंभीर अपराध को शामिल नहीं किया गया है।

डीजीपी ने बताया कि अगर किसी जगह कोई घटना होती है तो सबसे पहले डायल 100 पर जानकारी देना होगा। उसके बाद इस सूचना एफआरवी को भेजी जाएगी। सूचना पर FRV की टीम तत्काल मौके पर पहुंचेगी और घटना का आंकलन के बाद मौके पर ही एफआईआर दर्ज करेगी।

[ad_2]

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Porno Gratuit Porno Français Adulte XXX Brazzers Porn College Girls Film érotique Hard Porn Inceste Famille Porno Japonais Asiatique Jeunes Filles Porno Latin Brown Femmes Porn Mobile Porn Russe Porn Stars Porno Arabe Turc Porno caché Porno de qualité HD Porno Gratuit Porno Mature de Milf Porno Noir Regarder Porn Relations Lesbiennes Secrétaire de Bureau Porn Sexe en Groupe Sexe Gay Sexe Oral Vidéo Amateur Vidéo Anal