E-Governance Kya Hai? E Governance in Hindi और इसके Fayde और नुकसान


ई गवर्नेंस इन हिंदी: हैलो दोस्तों Hindi Sahayta में आपका स्वागत है। आज की पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे है E-Governance Kya Hai क्या आप भी E-Governance का उपयोग करना चाहते है लेकिन आपको इसकी जानकारी नहीं है तो आप बिल्कुल सही जगह पर आये है। इसके साथ ही आप यह भी जानेंगे की E-Governance Ke Labh क्या है।

विषयों की सूची

E-Governance Ke Nuksan भी आप आज इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे। हम आपको यह बिल्कुल सरल भाषा में समझाएँगे। आशा करते है की आपको हमारी सभी पोस्ट पसंद आ रही होगी। इसी तरह आप आगे भी हमारे ब्लॉग पर आने वाली प्रत्येक पोस्ट को पसंद करते रहे।

आज प्रत्येक काम को ऑनलाइन किया जाने लगा है जिससे सारे कार्य आसान हो गए है। और इससे समय की बचत भी होती है। सरकार ने देश की तरक्की के लिए कई तरह की योजनायें बनाई है। जिससे देश को शक्तिशाली बनाया जा सके। सरकार भी अपने कार्य के तरीकों को बेहतर तरीके से करने के लिए अलग-अलग तरह के प्रयास कर रही है।

सरकारी कामों को करने में बहुत समय लगता था जिससे जनता को अपने कार्यों में बाधा आती थी। इंटरनेट की दुनिया ने इस समस्या से बाहर आने में बहुत मदद की है। जिससे सरकारी कार्यों की गति बढ़ी है। कुछ समय पहले किसी तरह के सरकारी कार्यों को करने के लिए बार-बार दफ्तरों के चक्कर लगाने पड़ते थे। लेकिन अब E Governance UPSC ने इस काम को आसान बना दिया है।

तो आइये जानते है E-Governance Kya Hota Hai इस सुविधा का लाभ प्राप्त करने के लिए यह पोस्ट What Is E-Governance In Hindi शुरू से अंत तक ज़रुर पढ़े तभी आपको इसकी पूरी जानकारी प्राप्त होगी और आप E Governance MP से जुड़ पाएँगे।

E-Governance Kya Hai

E-Governance एक ऐसी सर्विस है जिसमें सभी सरकारी कार्यों को ऑनलाइन सर्विस के द्वारा जनता तक पहुँचाया जाएगा। इंटरनेट के द्वारा अब जनता सरकारी सुविधाओं का लाभ उठा सकेगी। किसी भी सरकारी काम को करवाने के लिए दफ्तरों के चक्कर लगाने पड़ते है लेकिन इस सर्विस के द्वारा आप कम समय में अपने सरकारी काम निपटा सकेंगे।

इन कामों को करने की एक समय सीमा बनाई गई है। इससे रिश्वतखोरी को रोका जाएगा। इससे कहीं जाने की जरुरत भी नहीं होगी और घर से ही आप सरकारी कार्य के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। इसके तहत आपको गवर्मेंट सर्विस और सूचनाएं ऑनलाइन प्राप्त हो जाएगी। बहुत से राज्यों की सरकार इंटरनेट के द्वारा यह सुविधा लोगों तक प्रदान कर रही है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: Sarkari Job Ki Vacancy Kaise Dekhe – जानिए Government Job App Kaise Download Kare हिंदी में!

ई-शासन पूर्ण रूप:

इलेक्ट्रॉनिक शासन

E-governance के उद्देश्य

यह सर्विस किन उद्देश्यों को पूरा करने के लिए बनाई गई है यह आप आगे जानेंगे। जानते है इस सर्विस को शुरू करने के पीछे क्या उद्देश्य है।

  • यदि आप E-Governance का प्रयोग करेंगे तो आपको इंटरनेट का इस्तेमाल करके डिजिटल काम करना होंगे। जिससे देश की जनता इंटरनेट का प्रयोग करना सीखेगी।
  • इससे सरकारी कामों की गति में भी वृद्धि होगी। सरकारी कामों में बहुत समय लग जाता है और सरकार जनता की समस्या को हल करने में समय लगाती है। E-Governance के द्वारा इस समस्या को कम समय में हल किया जा सकेगा।
  • जनता अगर किसी तरह के कार्य से नाखुश है तो वह ऑनलाइन अपनी समस्या के लिए फीडबैक भी दे सकती है।

E-governance द्वारा दी जाने वाली सुविधाएँ

E-Governance के माध्यम से आप बहुत तरह के सरकारी कामों को कर सकते है। इसके अंतर्गत आप कौन-कौन से कार्य कर सकते है और सेवाओं का लाभ ले सकते है यह हम आपको नीचे बता रहे है।

  • आप ऑनलाइन नागरिक सेवाओं का लाभ प्राप्त कर सकते है। जिसमें आप ऑनलाइन पैन कार्ड, पासपोर्ट बनवा सकते है अपने आधार कार्ड, जाती प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आई-डी कार्ड आदि का वेरिफिकेशन करवा सकते है।
  • इसके द्वारा आप पानी का बिल, बिजली बिल, टेलीफ़ोन बिल, मोबाइल बिल आदि तरह के बिल ऑनलाइन भर सकते है।
  • ई-गवर्नेंस का प्रयोग करके विभिन्न तरह के टिकट बुक कर सकते है। पहले के समय में रेल की टिकट लेने के लिए लोगों को बहुत देर लाइन में खड़े रहना पड़ता था लेकिन अब आप रेल टिकट, हवाई टिकट, आई टिकट की सेवा, बस टिकट को ऑनलाइन ही बुक कर सकते है।
  • शिक्षा सेवाओं का प्रयोग भी अब ई-गवर्नेंस के माध्यम से किया जा सकता है। कॉलेज में एडमिशन ले सकते है, किसी भी सरकारी नौकरी के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है, छात्रवृत्ति के लिए आवेदन, किसी भी परीक्षा का परिणाम और शिक्षा से संबंधित कई तरह के कार्य किया जा सकते है।
  • किसी भी तरह का प्रमाण पत्र ऑनलाइन बनवा सकते है इसके लिए अब आपको कहीं जाने की जरुरत भी नहीं होगी।

E-governance Ke Prakar

ई गवर्नेंस का लाभ जनता के साथ – साथ सरकार को भी होता है ई गवर्नेंस के प्रकारों के बारे में आपको नीचे जानकारी दी गई है।

जरूर पढ़े: ई कॉमर्स क्या है? E Commerce Business Kaise Start Kare – जानिए ई कॉमर्स के प्रकार हिंदी में!

G से G (सरकार से सरकार)

इसका मतलब होता है सरकार से सरकार तक। जब एक सरकारी विभाग किसी दूसरे सरकारी कार्यालय या विभाग से किसी प्रकार की सरकारी सूचना और सेवा के लिए संपर्क करती है तो वह जी टू जी कहलाती है।

G से C (नागरिक के लिए सरकार)

G to C का अर्थ है सरकार से नागरिक तक। जब सरकार और नागरिक के बीच किसी तरह का संपर्क होता है तो वह Government to Citizen कहलाता है।

G से B (व्यवसाय के लिए सरकार)

इसका अर्थ होता है सरकार से व्यवसाय तक। इसमें सरकार और व्यापारिक क्षेत्र के बीच संपर्क होता है। इसके माध्यम से व्यापारी घर से ही ऑनलाइन सरकारी कामों को कर सकते है तथा सरकार व्यापारिक क्षेत्रों में संपर्क कर लेन-देन का काम करती है।

G से E (कर्मचारियों के लिए सरकार)

G to E का मतलब सरकार से कर्मचारी होता है। यह सरकार और कर्मचारी के बीच संपर्क को बनाये रखने में सहायक है। सरकार सरकारी कर्मचारी से सरकारी कार्यों के लिए संपर्क रखती है।

C से C (नागरिक से नागरिक)

इस श्रेणी में नागरिकों का आपस में संपर्क होता है।

हिंदी में ई-गवर्नेंस की विशेषताएं

E-Governance की कुछ मुख्य विशेषताएँ भी होती है जिसके द्वारा इस सुविधा का अधिक से अधिक उपयोग किया जाने लगा है।

  • इस सुविधा से कागजी कार्य कम हो गए है जिससे काम में हो रही समस्या पर रोक लगी है।
  • इस सर्विस में एक ही काम को रिपीट नहीं किया जाता है।
  • अधिकतर सरकारी सेवाओं का लाभ ऑनलाइन लिया जा सकेगा।

ई-गवर्नेंस का हिंदी में लाभ

E-Governance के प्रयोग से बहुत से लाभ प्राप्त होते है। E-Governance में कौन-कौन से लाभ शामिल है यह हम आगे जानेंगे।

  • इससे पर्यावरण को बचाया जा सकेगा। कागज़ का प्रयोग कम करने से पेड़ो को बचा पाएँगे यह भी इसका एक बड़ा लाभ है।
  • रिश्वतखोरों, भ्रष्ट अधिकारी, अपराधियों से बचा जा सकेगा।
  • इसकी मदद से कार्य कम समय में किया जा सकता है। पहले कार्य को करने में समय लगता था वहीँ अब कुछ ही समय में कार्य आसानी से हो जाते है।
  • इससे बहुत सी चीजों के खर्चे भी कम हुए है कागज़ों का इस्तेमाल कम हुआ है जिससे खर्चों में कमी आयी है।
  • इसका उपयोग जनता अपने मोबाइल और कंप्यूटर पर ही कर सकती है।
  • सरकार को इससे अपने कार्यों को करने में सरलता और दक्षता मिलती है।

E-Governance Ke Nuksan

E-Governance के जिस प्रकार बहुत से लाभ है उसी प्रकार इसके कुछ नुकसान भी है जिन्हें हम आगे जानेंगे।

  • इसका उपयोग करने के लिए हमें इंटरनेट का प्रयोग करना होता है और इंटरनेट पर अपनी व्यक्तिगत जानकारी देना होती है जो की असुरक्षित हो सकती है।
  • बहुत से लोग अभी तक इस सुविधा का इस्तेमाल करने से वंचित है। जहाँ पर E-Governance के प्रयोग करने के बारे में बहुत ही कम लोगों को जानकारी होती है वह इस सुविधा का लाभ नहीं उठा पाते है।
  • हमारे देश में अभी भी ज्यादातर लोगो को कंप्यूटर और मोबाइल का ज्ञान नहीं है। जिसके चलते वह इस सुविधा का फायदा नहीं ले पा रहे है।
  • देश में ऐसे बहुत से गाँव है जहाँ अभी तक इंटरनेट की सुविधा नहीं पहुँचाई जा सकी है। जिसके कारण प्रत्येक नागरिक को इसकी सुविधा प्राप्त नहीं है।

ई-गवर्नेंस और ई-गवर्नमेंट के बीच अंतर हिंदी में

सरकारी सेवा को जनता तक पहुँचाने के लिए संचार तथा सूचना प्रौद्योगिकी का प्रयोग किया जाता है और यह जिन साधनों से जनता तक पहुँचाई जाती है उसे E-Governance कहते है। सरकारी सूचना और सेवा जनता को प्रदान करने के लिए संचार तथा सूचना प्रौद्योगिकी का प्रयोग करना E Government कहलाता है।

निष्कर्ष:

आज की पोस्ट में आपने जाना E-Governance Kya Hota Hai और इसके साथ ही ई-गवर्नेंस के फेयडे भी आपको पता चले। आशा करते है की हमारे द्वारा प्रदान की गई जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।

E-Governance In Hindi के बारे में जानने के लिए हमारी इस पोस्ट की मदद ज़रूर ले। E-शासन के फायदे और नुकसान हिंदी में की जानकारी आप इस पोस्ट के द्वारा अच्छे से जान गए होंगे। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके बताये।

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: Ujala Yojana Kya Hai? Ujala Yojana Ke Labh कैसे ले? – जानिए Ujala Yojana Kis Se Sambandhit Hai और इसके क्या-क्या फायदे है!

इस पोस्ट की जानकारी आप अपने दोस्तों को भी दे तथा सोशल मीडिया पर भी यह पोस्ट E-Governance Kya Hai ज़रुर शेयर करे। जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों के पास यह जानकारी पहुँच सके। हमारी पोस्ट हिंदी में ई-गवर्नेंस का मतलब में आपको कोई परेशानी है या आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट में अपने सवाल ज़रूर पूछे। हमारी टीम आपकी मदद ज़रुर करेगी।

अगर आप हमारी वेबसाइट के Latest अपडेट पाना चाहते है तो आपको हमारी Hindi Sahayta की वेबसाइट को सब्सक्राइब करना होगा। फिर मिलेंगे आपसे कुछ ऐसी ही आवश्यक जानकारी लेकर तब तक के लिए अलविदा दोस्तों, आपका दिन मंगलमय हो।

योगदान देने वाला

क्या आपको एडिटोरियल टीम के आर्टिकल पसंद आयें? अभी फॉलो करें सोशल मीडिया पर!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *