शादी प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन व स्टेटस


Vivah Panjikaran Online | शादी प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन | विवाह पंजीकरण एप्लीकेशन स्टेटस | Vivah Panjikaran Form | मैरिज रजिस्ट्रेशन फॉर्म डाउनलोड

भारत में अब विवाह प्रमाण पत्र बनवाना अनिवार्य कर दिया गया है। अब भारत के प्रत्येक नागरिक को विवाह के उपरांत विवाह प्रमाण पत्र बनवाना होगा। यह विवाह प्रमाण पत्र विवाह पंजीकरण के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है। यह पंजीकरण करवाने के कई लाभ हैं। प्रत्येक राज्य के नागरिकों के लिए सरकार द्वारा पंजीकरण के लिए आधिकारिक वेबसाइट लांच कर दी गई है। यह पंजीकरण ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों माध्यमों से किया जा सकता है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से Vivah Panjikaran 2021 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि विवाह पंजीकरण क्या है?, इसके लाभ, उद्देश्य, पात्रता, विशेषताएं, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप Marriage Registration से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Vivah Panjikaran 2021

Vivah Panjikaran सभी विवाहित जोड़ों को विवाह के उपरांत करवाना होता है। विवाह पंजीकरण करवाने के बाद सरकार द्वारा एक विवाह प्रमाण पत्र प्रदान किया जाता है। यह विवाह प्रमाण पत्र विवाह का प्रमाण होता है। विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से महिलाओं के अधिकारों की रक्षा की जा सकती है। अब भारत के हर धर्म के नागरिक को विवाह प्रमाण पत्र बनवाना अनिवार्य है। विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से महिलाओं के साथ होने वाली घरेलू हिंसा, बाल विवाह, शादी में धोखाधड़ी, तलाक आदि जैसी परेशानियों से भी मुक्ति मिलेगी। विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से कई अन्य दस्तावेज भी बनवाए जा सकते हैं।

विवाह पंजीकरण

बालिका अनुदान योजना

शादी प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन

यदि आप विवाह प्रमाण पत्र बनवाने के लिए विवाह पंजीकरण करवाना चाहते हैं तो आपको अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इससे समय और पैसे दोनों की बचत होगी तथा प्रणाली में पारदर्शिता आएगी। यदि आप ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो आप ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। विवाह पंजीकरण कराने के लिए आपको एक निर्धारित शुल्क का भी भुगतान करना होगा। यदि आप समय पर विवाह पंजीकरण नहीं करवाते हैं तो आपको जुर्माना भी देना होगा। यह जुर्माने की राशि अलग-अलग राज्यों के लिए अलग-अलग निर्धारित की गई है।

मुख्य विचार विवाह पंजीकरण 2021 का

योजना का नामविवाह पंजीकरण 2021
किस ने लांच कीभारत सरकार
लाभार्थीभारत के नागरिक
उद्देश्यसभी विवाहित जोड़ों का विवाह पंजीकरण करवाना
साल2021

विवाह पंजीकरण का उद्देश्य

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं विवाह के उपरांत महिलाओं को कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जैसे कि घरेलू हिंसा, बाल विवाह, पति की मृत्यु हो जाने पर घर से निकाला जाना आदि। इन समस्याओं को देखते हुए भारत सरकार द्वारा विवाह पंजीकरण करवाना अनिवार्य कर दिया गया है। जिससे कि महिलाओं के साथ होने वाले इस अन्याय को रोका जा सके। अब प्रत्येक धर्म के नागरिक को यह पंजीकरण करवाना अनिवार्य है। आप विवाह पंजीकरण घर बैठे आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से भी करवा सकते हैं। Vivah Panjikaran के माध्यम से महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा प्राप्त होगी तथा वह सशक्त बनेंगी।

विवाह पंजीकरण के लाभ तथा विशेषताएं

  • मैरिज रजिस्ट्रेशन विवाह प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए करवाया जाता है।
  • यह पंजीकरण करवाना सभी विवाहित जोड़ों के लिए अनिवार्य कर दिया गया है।
  • विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से महिलाओं के अधिकारों की रक्षा की जा सकती है।
  • अब हर धर्म के नागरिकों को विवाह प्रमाण पत्र बनवाना अनिवार्य कर दिया गया है।
  • इस प्रमाण पत्र के माध्यम से कई अन्य दस्तावेज भी बनवाए जा सकते हैं।
  • यदि आप विवाह प्रमाण पत्र बनवाना चाहते हैं तो आपको अपने राज्य से आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • आप विवाह पंजीकरण ऑफलाइन माध्यम से भी करवा सकते हैं।
  • विवाह पंजीकरण करवाने के लिए आपको एक निर्धारित शुल्क का भुगतान करना होगा।
  • यदि आप समय से पंजीकरण नहीं करवाते हैं तो आपको जुर्माने का भी भुगतान करना होगा।
  • यदि पति की मृत्यु हो जाती है तो पत्नी को विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से सारे अधिकार प्राप्त होते हैं।
  • नागरिकता प्राप्त करने के लिए भी इस प्रमाण पत्र का उपयोग किया जाता है।
  • विवाह पंजीकरण के माध्यम से बाल विवाह में भी रोक लगाई जा सकेगी।

Vivah Panjikaran 2021 की पात्रता

  • आवेदक पुरुष की आयु 21 वर्ष तथा महिला की आयु 18 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए।
  • आवेदक या फिर आवेदक का पति या पत्नी भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • विवाह पंजीकरण शादी के 1 महीने के अंदर करवाना अनिवार्य है।
  • यदि वर या वधू में से किसी की तलाक हुई है तो उनको तलाक प्रमाण पत्र जमा करना अनिवार्य है।

विवाह पंजीकरण करवाने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • वर-वधू का आधार कार्ड
  • शादी के समय की तस्वीर
  • शादी का निमंत्रण कार्ड
  • वर वधु का आयु प्रमाण पत्र
  • दुल्हन की पासपोर्ट साइज फोटो
  • शादी के समय दो गवाह के बारे में पूरी जानकारी एवं उनका प्रमाण पत्र।
  • विदेश में शादी की स्थिति में एंबेसी द्वारा नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट।
  • आवासीय प्रमाण पत्र

विवाह पंजीकरण की ऑनलाइन प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अप्लाई नाउ के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने पंजीकरण फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस पंजीकरण फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप Vivah Panjikaran कर पाएंगे।

विवाह पंजीकरण की ऑफलाइन प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको सब रजिस्ट्रार के ऑफिस जाना होगा।
  • इसके पश्चात आपको वहां से विवाह पंजीकरण फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • अब आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • अब आपको यह फॉर्म सब रजिस्ट्रार के ऑफिस में जमा करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको एक रेफरेंस नंबर प्रदान किया जाएगा।
  • इस रेफरेंस नंबर के माध्यम से आप अपनी पंजीकरण की स्थिति देख सकते हैं।

विवाह पंजीकरण करने के लिए सभी राज्यों की आधिकारिक वेबसाइट

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *