शादी का प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन, स्थिति की जांच


Vivah Panjikaran 2021, विवाह पंजीकरण एप्लीकेशन स्टेटस, Vivah Panjikaran Online, शादी का प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन, Marriage Registration Form डाउनलोड करने के चरण इस लेख में दिए गए हैं। भारत में विवाह प्रमाण पत्र एक आवश्यक दस्तावेज और अब इसे भारत सरकार द्वारा अनिवार्य कर दिया गया है। सरकार द्वारा जारी किए गए नए दिशा निर्देशों के अनुसार भारत के प्रत्येक नागरिक को अपने विवाह के उपरांत विवाह प्रमाण पत्र बनवाना होगा। आप अपना विवाह प्रमाण पत्र, विवाह पंजीकरण के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। विवाह पंजीकरण के कई लाभ हैं एवं प्रत्येक राज्य के नागरिकों के लिए सरकार ने Vivah Panjikaran की एक अधिकारिक वेबसाइट भी लांच कर दी है।

आप ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी माध्यम से अपना Vivah Panjikaran 2021 करवा सकते हैं। आज हम यहां आपको अपने इस लेख में विवाह पंजीकरण 2021 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं जैसे कि विवाह पंजीकरण क्या है इसके लाभ उद्देश्य पात्रता मानदंड आवश्यक दस्तावेज एवं आवेदन प्रक्रिया आदि। तो यदि आप भी Marriage Registration से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

Vivah Panjikaran 2021

सभी विवाहित जोड़ों को अपने विवाह के उपरांत विवाह का पंजीकरण करवाना होता है। विवाह पंजीकरण करवाने के बाद सरकार एक विवाह प्रमाण पत्र भी प्रदान करती है जो कि आपके विवाह का प्रमाण होता है। यह विवाह प्रमाणपत्र महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करता है। आप भारत के चाहे किसी भी राज्य से संबंध रखते हो या किसी भी धर्म को मानते हो आपको अपने विवाह के बाद अपना Vivah Panjikaran करवाना ही होगा।

इस Marriage Registration कि सहायता से आप महिलाओं को उनके साथ होने वाली घरेलू हिंसा बाल विवाह शादी में धोखाधड़ी तलाक आदि जैसी परेशानियों से मुक्ति दिला सकते हैं। विवाह प्रमाण पत्र और भी कई दस्तावेज बनवाने में एक आवश्यक दस्तावेज की भूमिका निभाता है। तो यदि आपने भी अभी हाल ही में शादी की है यां करने वाले हैं तो आपको अपना विवाह प्रमाण पत्र अवश्य बनवाना होगा।

Highlights of Vivah Panjikaran 2021

नामशादी का प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन
आरम्भ की गईभारत सरकार के द्वारा
वर्ष2021
लाभार्थीनव विवाहित दंपत्ति
पंजीकरण की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यविवाह पंजीकरण की ऑनलाइन व्यवस्था
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं

विवाह पंजीकरण ऑनलाइन आवेदन

यदि आप भी अपने विवाह का प्रमाण पत्र बनवाने के लिए Vivah Panjikaran 2021 करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपने राज्य की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। विवाह पंजीकरण की प्रक्रिया की ऑनलाइन सुविधा का सबसे बड़ा लाभ यह है कि यह आपका पैसा और समय बचाएगी, इसके साथ ही ऑनलाइन सुविधा के कारण प्रणाली में पारदर्शिता देखने को भी मिलेगी।

विवाह प्रमाण पत्र के लिए सरकार ने ऑफलाइन आवेदन की सुविधा भी प्रदान की है, इसलिए यदि आप इसके लिए ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं, तो आप ऑफलाइन प्रक्रिया के माध्यम से भी अपना आवेदन जमा करवा सकते हैं। विवाह पंजीकरण 2021 करने के लिए आपको एक निर्धारित शुल्क का भुगतान भी करना होगा। समय पर पंजीकरण ना करवाने पर आपको एक जुर्माने की राशि भी भरनी पड़ेगी। यह जुर्माने की राशि सभी राज्यों में अलग-अलग है इसलिए आपको अपने राज्य के अनुसार जुर्माना भरना होगा।

Vivah Panjikaran का उद्देश्य

भारत में विवाह के बाद महिलाओं को कई प्रकार के समस्याओं का सामना करना पड़ता है जिसमें घरेलू हिंसा, बाल विवाह, पति की मृत्यु के उपरांत घर से निकाल दिया जाना आदि मुख्य समस्याएं हैं। यही कारण है कि भारत सरकार ने विवाह पंजीकरण 2021 को अनिवार्य कर दिया है, ताकि महिलाओं के साथ होने वाले अन्याय को रोका जा सके। भारत सरकार ने प्रत्येक धर्म जाति एवं क्षेत्र के लोगों के लिए यह विवाह पंजीकरण अनिवार्य कर दिया है। अब आप अपने घर बैठे Vivah Panjikaran करवा सकते हैं इसके लिए आपको अधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन एप्लीकेशन जमा करवानी होगी। विवाह पंजीकरण महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने में सहायक होगा एवं इसके साथ ही वे महिलाओं को सशक्त बनने में भी सहायता करेगा।

विवाह पंजीकरण के लाभ एवं विशेषताएं

विवाह पंजीकरण के कुछ मुख्य लाभ तथा विशेषताएं इस प्रकार हैं।

  • विवाह पंजीकरण विवाह प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए करवाया जाता है।
  • भारत सरकार ने भारत के सभी विवाहित जोड़ों के लिए Vivah Panjikaranको अनिवार्य कर दिया है।
  • विवाह प्रमाणपत्र महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करने में भी काफी सहायक होगा।
  • भारत के हर धर्म के नागरिक को अपने विवाह के बाद अपना विवाह प्रमाण पत्र बनवाना होगा।
  • कई अन्य सरकारी दस्तावेज बनवाने में भी विवाह प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है।
  • आप अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना विवाह प्रमाण पत्र बनवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं।
  • यदि आप ऑनलाइन प्रक्रिया द्वारा विवाह प्रमाण पत्र बनाने में सक्षम नहीं है तो आप ऑफलाइन आवेदन के द्वारा भी विवाह प्रमाण पत्र बनवा सकते हैं।
  • विवाह पंजीकरण करवाने के लिए आपको एक निर्धारित शुल्क का भुगतान करना होगा।
  • समय पर Vivah Panjikaran ना करवाने पर आपको जुर्माने का भुगतान भी करना होगा।
  • किसी स्थिति में पति की मृत्यु होने पर यदि पत्नी के पास विवाह प्रमाण पत्र होगा तो वह अपने सभी अधिकार प्राप्त कर सकती है।
  • विवाह पंजीकरण के द्वारा आप नागरिकता भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • Vivah Panjikaran बाल विवाह को रोकने में भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

Vivah Panjikaran 2021 पात्रता मानदंड

  • विवाह पंजीकरण के लिए आवेदन करने में पुरुष की आयु 21 वर्ष एवं महिला की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। भारत में विवाह के लिए न्यूनतम निश्चित आयु भी यही है यदि इस आयु से पहले कोई व्यक्ति विवाह करता है तो ऐसी स्थिति में उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जा सकती है।
  • पंजीकरण करवाने के लिए आवेदक का पति या पत्नी भारत के स्थाई निवासी होने चाहिए केवल तभी से भारत में अपना विवाह पंजीकरण करवा सकते हैं।
  • शादी के 1 महीने के अंदर Vivah Panjikaran करवाना अनिवार्य है।
  • विवाह पंजीकरण 2021 के लिए आवेदन करने के समय यदि वह यहां वधू में से कोई व्यक्ति पहले तलाकशुदा है तो उन्हें अपने तलाक का प्रमाण पत्र भी जमा कराना होगा।

शादी प्रमाण पत्र आवेदन आवश्यक दस्तावेज

आपको अपने Vivah panjikaran के लिए आवेदन करने के समय निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी।

  • आवासीय प्रमाण पत्र
  • वर-वधू का आधार कार्ड
  • वर वधु का आयु प्रमाण पत्र
  • दुल्हन की पासपोर्ट साइज फोटो
  • विदेश में शादी की स्थिति में एंबेसी द्वारा नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट।
  • शादी का निमंत्रण कार्ड
  • शादी के समय की तस्वीर
  • शादी के समय दो गवाह के बारे में पूरी जानकारी एवं उनका प्रमाण पत्र।

ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से विवाह पंजीकरण

आप नीचे दी गई चरण दर चरण प्रक्रिया का पालन करके ऑनलाइन माध्यम से अपना Vivah Panjikaran करवा सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको अपने राज्य की विवाह पंजीकरण की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “अप्लाई नाउ” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आप पंजीकरण फॉर्म देख सकते हैं। इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक भरी जैसे आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करें एवं सब्मिट का बटन दबाकर अपना आवेदन जमा करा दें।
  • इस प्रकार आपके विवाह पंजीकरण की ऑनलाइन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

ऑफलाइन प्रक्रिया के माध्यम से विवाह पंजीकरण

भारत सरकार ने विवाह पंजीकरण के लिए ऑनलाइन पोर्टल तो शुरू कर दिया है। परंतु अभी भी सरकार ने इसके आवेदन की ऑफलाइन प्रक्रिया को बंद नहीं किया है। तो यदि आप अपने Vivah Panjikaran के लिए ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो इसकी प्रक्रिया नीचे दी गई है।

  • सबसे पहले आपको अपने जिले के संबंधित सब रजिस्ट्रार के ऑफिस में जाना होगा।
  • सब रजिस्ट्रार के ऑफिस में जाकर आप वहां से विवाह पंजीकरण का फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं।
  • अब इस विवाह पंजीकरण के फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक एवं साफ साफ शब्दों में भरे जैसे आपका नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर आदि।
  • फॉर्म में सभी जानकारी भरने के बाद एक बार दोबारा इसकी जांच कर ले एवं इसके साथ सभी आवश्यक दस्तावेजों को अटैच कर ले।
  • अब इस फॉर्म को सब रजिस्ट्रार के ऑफिस में जाकर संबंधित अधिकारी को जमा करा दें।
  • फॉर्म को जमा कराने के बाद आपको एक रेफरेंस नंबर प्रदान किया जाएगा जिसके माध्यम से आप अपने पंजीकरण की स्थिति देख सकते हैं।

विवाह पंजीकरण के लिए राज्यवार अधिकारिक वेबसाइट

आपकी सुविधा के लिए दीजिए हमने सभी राज्यों की Vivah Panjikaran के लिए आधिकारिक वेबसाइट के लिंक प्रदान कर दिए हैं।

यह भी पढ़े – किसान कॉल सेंटर हेल्पलाइन नंबर: Toll Free Customer Care Helpline, SMS Alert

हम उम्मीद करते हैं की आपको विवाह पंजीकरण से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *