राज किसान साथी 150 ऐप ऑनलाइन पोर्टल लाभ और उद्देश्य


राज किसान साथी १५० ऐप | राज किसान साथी ऑनलाइन पोर्टल | राजस्थान राज किसान साथी ऐप ऑनलाइन पोर्टल | राज किसान साथी पोर्टल के लाभ और उद्देश्य

राज किसान साथी पोर्टल को शुरू करने की तैयारी राजस्थान सरकार द्वारा राज्य के किसानो को आसान तरीके से सरकारी योजनाओ का लाभ प्रदान करने के लिए की जा रही है। इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से राजस्थान कृषि  विभाग अब राज्य के किसानो और पशुपालको को सरकार द्वारा  शुरू की जा रही सभी सरकारी योजनाओ की जानकारी तथा लाभ दोनों मुहैया कराई जाएगी। यह राज किसान साथी पोर्टल राजस्थान के किसानों और पशुपालकों के लिए बहुत  मददगार साबित होगा। तो चलिए आज हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस Raj Kisan Sathi Online Portal पर दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में सम्पूर्ण जानकारी आपके साथ साझा करने जा रहे है अतः हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े कर लाभ उठाये।

Table of Contents

Raj Kisan Sathi 150 App

इस ऑनलाइन पोर्टल पर किसानो और पशुपालको के लिए 150 मोबाइल ऍप एक ही स्थान पर उपलब्ध कराये जायेगे। इस ऍप के माध्यम से राजस्थान के किसानो को सरकारी योजनाओ और खेती से सम्बन्धित हर जानकारी जैसे कृषि योजनाओं, उन्नत तकनीक, बीज उत्पादन, जैविक खेती, मंडी की कीमतों, और कृषि मशीनरी लेने आदि सुविधाएं प्रदान की जाएगी। राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी किसान इस Raj Kisan Sathi Online Portal से जुड़ना चाहते है तो उन्हें इस ऑफिसियल वेबसाइट पर  अपना पंजीकरण करना होगा। अब, डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT) मोड के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करने के बाद, अधिकांश किसान योजनाओं का लाभ प्राप्त किया जा सकता है। इस आवेदन प्रक्रिया में केंद्र सरकार की राज्य सरकार की योजनाएं भी शामिल हैं। कृषि मंत्री का कहना है कि इस ऑनलाइन पोर्टल पर 20 से ज्यादा मोबाइल ऍप का काम पूरा हो चूका है।

राज किसान साथी पोर्टल

राजस्थान कर्ज माफी लिस्ट

राजस्थान राज किसान साथी पोर्टल का उद्देश्य

जैसे कि आप सभी लोग जानते है कि राज्य के किसानो को राज्य सरकार कि कृषि से जुड़ी योजना का लाभ उठाने के लिए तथा उससे जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए सरकारी विभागों के चक्कर काटने पड़ते है जिससे उन्हें काफी परेशानिया उठानी पड़ती है और उनके समय कि भी बर्बादी होती है इन सभी समस्याओ को देखते हुए राजस्थान सरकार ने किसानो को ऑनलाइन सुविधा प्रदान करने के लिए राजस्थान राज किसान साथी पोर्टल को आरम्भ करने जा रहे है। इस ऑनलाइन पोर्टल के ज़रिये राज्य के किसानो और पशुपालको को सरकारी योजनाओ का लाभ प्रदान करना। किसानों को अब सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने की जरुरत नहीं पड़ेगी। इससे किसानो के समय की बचत भी होगी।

Rajasthan Raj Kisan Sathi Portal Highlights

पोर्टल का नामराज किसान साथी पोर्टल
इनके द्वारा शुरू किया जायेगाराजस्थान सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य के किसान
उद्देश्यसरकारी  योजनाओ का लाभ प्रदान करना
वेबसाइटअभी लॉन्च नहीं की गयी

राजस्थान संपर्क पोर्टल

Rajasthan Raj Kisan Sathi Portal के लाभ

  • इस ऑनलाइन पोर्टल का लाभ राजस्थान की किसानो और पशुपालको को प्रदान किया जायेगा।
  • राज्य  के किसान इस ऑनलाइन पोर्टल पर सरकारी योजनाओं और खेती से सम्बन्धित हर जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी।
  • राज किसान साथी’ पोर्टल पर कृषि के साथ ही सम्बन्धित विभागों की सभी जानकारियां भी एक ही जगह ऑनलाइन उपलब्ध होंगी। इनमें उद्यान विभाग, कृषि विपणन विभाग, पशुपालन विभाग, सहकारिता विभाग, मत्स्य पालन विभाग, राज्य बीज निगम और जैविक प्रमाणीकरण संस्था को शामिल किया गया है।
  • इस ऑनलाइन पोर्टल के शुरू होने से विभागों के कामकाज में भी इससे पारदर्शिता आएगी।
  • इसके शुरू होने के बाद, किसान एक स्थान पर विभिन्न योजनाओं के लिए आवेदन कर सकेंगे।
  • एक स्थान पर राजस्थान के किसानों लगभग 150 ऐप विकसित किए जाएंगे ।

राज किसान साथी पोर्टल के मुख्य विशेषताएं

  • Raj Kisan Sathi के माध्यम से किसान के खाते में अनुदान के भुगतान से लेकर भुगतान तक की प्रक्रिया अब ऑनलाइन पूरी की जाएगी।
  • आवेदकों को अपने पंजीकृत मोबाइल फोन पर चरण दर चरण प्रक्रिया के संदेश प्राप्त होंगे।
  • पोर्टल पर, कृषि मशीनरी, बागवानी, कृषि विपणन, सहकारी समितियों, पशुपालन, मत्स्य विभाग, बीज निगम और जैविक प्रमाणीकरण निकाय को शामिल किया गया है।
  • यह पोर्टल राजस्थान के सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग के सहयोग से विकसित किया गया है।

राजस्थान राज किसान साथी पोर्टल के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक राजस्थान का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत राजस्थान के केवल किसानो और पशुपालको को भी पात्र माना जायेगा।
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

लाइसेंस (सीड/फर्टिलाइजर/पेस्टीसाइड) के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

राज किसान साथी पोर्टल
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपको गेट ओटीपी के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको ओटीपी को ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा।
  • अब आप को सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने आवेदन पत्र खुलकर आएगा।
  • आप को आवेदन पत्र में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप लाइसेंस के लिए आवेदन कर पाएंगे।

फार्मर/सिटीजन/मैन्युफैक्चरर/इंस्टीट्यूट यूजर लॉगइन करने की प्रक्रिया

राज किसान साथी पोर्टल
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा।
  • आपको इस पेज पर अपने यूजरटाइप का चयन करना होगा।
  • अब आपको डिजिटल आईडेंटिटी तथा पासवर्ड दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप लॉगइन कर पाएंगे।

पोर्टल पर डिपार्टमेंट लॉगइन करने की प्रक्रिया

Raj Kisan Sathi
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको डिपार्टमेंट लॉगिन के सेक्शन में जाना होगा।
  • इसके पश्चात आपको अपने डिजिटल आईडेंटिटी तथा पासवर्ड दर्ज करना है।
  • अब आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पोर्टल पर डिपार्टमेंट लॉगिन कर पाएंगे।

बीटी कॉटन सेल परमिशन के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

Raj Kisan Sathi
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपको गेट ओटीपी के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके मोबाइल पर प्राप्त हुआ ओटीपी आपको ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन पत्र खुलकर आएगा।
  • आपको इस आवेदन पत्र में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके बाद आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप बीटी कॉटन सेल परमिशन के लिए आवेदन कर पाएंगे।

राजस्थान एग्री प्रोसेसिंग, एग्री बिजनेस तथा एग्री एक्सपोर्ट प्रमोशन पॉलिसी 2019 के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

Raj Kisan Sathi Portal
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको निम्नलिखित में से किसी एक का चयन करना होगा।
    • कैपिटल इन्वेस्टमेंट सब्सिडी
    • फ्रेट सब्सिडी
    • लोन फ्रॉम राजस्थान स्टेट कोऑपरेटिव बैंक लिमिटेड
  • अब आपके सामने लॉगइन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में आपको यूजर आईडी तथा पासवर्ड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको साइन इन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको संवेदन फॉर्म में सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • अब आपको सबमिट कर विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप आवेदन कर पाएंगे।

एग्रीकल्चर स्कूल/कॉलेज रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

एग्रीकल्चर स्कूल/कॉलेज रजिस्ट्रेशन
  • इसके बाद आपको अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपको गेट ओटीपी के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको ओटीपी को ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन पत्र खुलकर आएगा।
  • आप को आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि आपका पता, जिला, तहसील, ग्राम पंचायत, ग्राम, पिन कोड आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको संबंधित प्रमाण पत्र अपलोड करना होगा।
  • इसके बाद आपको सबमिट कर विकल्प पर क्लिक करना होगा
  • इस प्रकार आप एग्रीकल्चर स्कूल या कॉलेज के लिए आवेदन कर पाएंगे।

अपना एप्लीकेशन स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

एप्लीकेशन स्टेटस चेक
  • अब आपको अपने टाइप तथा स्कीम सब्सिडी का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको अपना एप्लीकेशन नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप अपना एप्लीकेशन स्टेटस चेक कर पाएंगे।

कांटेक्ट डिटेल्स

हमने अपने इस लेख के माध्यम से आपको राज किसान साथी पोर्टल से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप नीचे दिए गए संपर्क विवरण के माध्यम से संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। संपर्क विवरण कुछ इस प्रकार है।

  • हेल्पडेस्क नंबर (एग्रीकल्चर): 0141-2922613,2927047
  • फैक्स नंबर (हॉर्टिकल्चर): 0141-2922614
  • ईमेल आईडी: [email protected]



Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *