(रजिस्ट्रेशन) हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन


HP Medha Protsahan Yojana Application Form, मेधा प्रोत्साहन योजना हिमाचल प्रदेश 2021 आवेदन फॉर्म, Himachal Pradesh Medha Protsahan Yojana Registration पात्रता और अन्य जानकारिया आपको इस लेख में दी जाएँगी। इस योजना की शुरुआत राज्य सरकार ने मेधावी छात्रों की आर्थिक मदद करने के लिए की है। इस योजना के तहत, कोचिंग के उद्देश्य से राज्य के गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों (SC, ST, OBC, BPL, IRDP) के छात्रों को सरकार द्वारा 1 लाख रुपये का प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा।

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए, हिमाचल प्रदेश सरकार ऑनलाइन कोचिंग के लिए मेधावी छात्रों के लिए धन भी प्रदान करेगी। कोविद 19 को देखते हुए सरकार ने मेधा प्रोत्साहन योजना को संशोधित किया है। योग्य छात्रों को 10 फरवरी तक ऑनलाइन या ऑफलाइन कोचिंग के लिए आवेदन करने और संस्थानों का चयन करने के लिए कहा गया है। हिमचार प्रदेश सरकार बारहवीं और पात्र कॉलेजों में पढ़ने वाले 500 छात्रों को कोचिंग के लिए एक लाख रुपये की राशि देती है। हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना 2021 के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदक के परिवार की वार्षिक आय 2.5 लाख रुपए होनी चाहिए।

Himachal Pradesh Medha Protsahan Yojana 2021

इस हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना 2021 के तहत, एचपी सरकार द्वारा कक्षा 12 और कॉलेज के मेधावी छात्रों के लिए यूपीएससी और एसएससी (यूपीएससी, एसएससी) द्वारा आयोजित सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग प्रदान करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। 1 लाख रुपये तक की सहायता और NEET, IIT-JEE, AIIMS, CLAT, AFMC परीक्षा (NIIT, IIT – JEE, AIM, CLIT AFMC) की तैयारी के लिए मेधा प्रोत्साहन योजना शुरू की गई है।

राज्य सरकार द्वारा शुरू की गयी एचपी मेधा प्रोत्साहन योजना 2021 में, इंटरमीडिएट स्तर के 350 छात्रों और स्नातक के 150 उम्मीदवारों का चयन उनकी योग्यता के आधार पर किया जाएगा। इस योजना के तहत, मेधावी छात्रों को उच्च शिक्षा विभाग, हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा राज्य और राज्य के बाहर कोचिंग प्रदान की जाएगी, जिससे छात्र अपनी शिक्षा पूरी कर सकते हैं और अपनी लक्ष्य की प्राप्ति आसानी से कर सकते हैं।

हिम केयर योजना

एचपी मेधा प्रत्साहन योजना की मुख्य विशेषताएं

योजना का नामहिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना
आरम्भ की गईहिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य के विद्यार्थी
पंजीकरण प्रक्रियाऑफलाइन
उद्देश्यराज्य के छात्रों को मुफ्त कोचिंग करना
लाभआर्थिक रूप से कमज़ोर छात्रों को कोचिंग के लिए आर्थिक सहायता मिलेगी
श्रेणीराज्य सरकार योजना
आधिकारिक वेबसाइट

हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना के नियमों में संशोधन

राज्य सरकार द्वारा शुरू की गयी Himachal Pradesh Medha Protsahan Scheme के तहत प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत, हिमाचल प्रदेश सरकार छात्रों को ऑनलाइन कोचिंग प्राप्त करने के लिए पैसे भी प्रदान करेगी। इस योजना के दिशानिर्देशों को सरकार द्वारा कोरोनावायरस संक्रमण के मद्देनजर संशोधित किया गया है। सभी पात्र छात्र 10 फरवरी 2020 तक ऑनलाइन संस्थान का चयन करके आवेदन कर सकते हैं।

एचपी मेधा प्रत्साहन योजना

हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना के अनुसार बारहवीं और कॉलेज में पढ़ने वाले छात्रों को कोचिंग प्रदान करने का प्रावधान किया गया है। इस योजना के तहत 500 छात्रों को कोचिंग प्रदान करने के लिए 1 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत, छात्रों द्वारा ऑनलाइन कोचिंग भी प्राप्त की जा सकती है और व्यक्तिगत रूप से कोचिंग भी अपनी पसंद के संस्थान से प्राप्त की जा सकती है। इसके लिए उनके लिए पहले से कोचिंग पैनल में शामिल होना अनिवार्य नहीं है। केवल वे छात्र जिनकी वार्षिक पारिवारिक आय 2.5 लाख रुपये से कम है, इस योजना के तहत पात्र हैं।

हिमाचल प्रदेश राशन कार्ड लिस्ट

एचपी मेधा प्रोत्साहन योजना 2021 के लाभार्थी

हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना 2021 के तहत, इंटरमीडिएट कक्षा में पढ़ने वाले सामान्य वर्ग के छात्रों को 10 +1 कक्षा में कम से कम 75 प्रतिशत अंक प्राप्त करने चाहिए और एससी, एसटी, ओबीसी, आईआरडीपी, बीपीएल आदि वर्गों के छात्रों के लिए यह अनिवार्य है, की 10 +1 कक्षा में कम से कम 65 प्रतिशत अंक प्राप्त करना आवश्यक है। इस योजना के तहत, जिन छात्रों ने इंटरमीडिएट कक्षा उत्तीर्ण की है, उनके मामले में सामान्य वर्ग के छात्रों के पास 75% और आरक्षित वर्ग के छात्रों के पास 65% अंक होने चाहिए। स्नातक स्तर के सामान्य वर्ग के छात्रों के अंकों का प्रतिशत 50 और आरक्षित वर्ग के छात्रों के अंकों का प्रतिशत 45 प्रतिशत होना चाहिए।

हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना संस्थानों का चयन

यदि किसी संस्थान की सफलता दर बहुत अधिक है, तो उसे 3 साल से कम समय के लिए भी काम करने के लिए योग्य माना जा सकता है। कोचिंग संस्थान जो प्रवेश परीक्षाओं के लिए कोचिंग कर रहे हैं और उनके छात्र प्रतिष्ठित कॉलेजों, संस्थानों में प्रवेश पाने में सक्षम हैं, तो उन्हें इस श्रेणी के तहत प्राथमिकता दी जाएगी।

  • कोचिंग संस्थान तय करने के लिए सरकार द्वारा कुछ दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना के तहत, कोचिंग संस्थानों में शिक्षकों की आवश्यक संख्या होना अनिवार्य है।
  • यह शिक्षक नियमित या दैनिक या अंशकालिक वेतन पर हो सकता है और संस्था में आवश्यक बुनियादी ढाँचा होना अनिवार्य है। जिसके पास परिसर, पुस्तकालय आदि होना चाहिए, संस्थानों में संचालित होने वाले कोचिंग कार्यक्रमों में न्यूनतम 3 वर्ष का अनुभव होना अनिवार्य है।
  • यदि कोई ऐसा संगठन है जिसके तहत सफलता की दर बहुत अधिक है, तो ऐसे संगठन को पात्र माना जाएगा भले ही वह 3 साल से कम समय के लिए काम करता हो। सभी कोचिंग संस्थान जो प्रवेश परीक्षाओं के लिए कोचिंग कर रहे हैं और उनके छात्र प्रतिष्ठित संस्थानों में प्रवेश करने में सक्षम हैं, उन्हें हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना के तहत प्राथमिकता दी जाएगी।
  • सभी छात्रों की सूची विभागीय वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई है। सभी चिन्हित छात्रों को संस्था का चयन करना होगा और 10 फरवरी 2021 को शाम 5:00 बजे तक [email protected] पर ईमेल द्वारा जानकारी प्रदान करनी होगी।

हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना का उद्देश्य

राज्य के लोग जो आगे उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रतियोगी परीक्षा देने के लिए कोचिंग लेना चाहते हैं, लेकिन आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण कोचिंग नहीं ले पाते हैं। इस समस्या को देखते हुए, राज्य सरकार ने प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए मेधावी छात्रों को कोचिंग प्रदान करने के लिए 1 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए एचपी मेधा प्रोत्साहन योजना 2021 शुरू की है।

हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि इस योजना के माध्यम से दी गई धनराशि का उपयोग छात्रों को प्रतियोगिता की तैयारी के दौरान उनके रखरखाव, संस्थान की फीस, किताबें, कोचिंग सेंटर की फीस आदि के लिए किया जा सकता है। इस योजना के माध्यम से, छात्र आत्मनिर्भर और सशक्त बनेंगे, साथ ही छात्र अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं, जिससे वे अपनी आर्थिक स्थिति सुधार सकेंगे।

मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन योजना

हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना 2021 के तथ्य

  • हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के स्कूलों और कॉलेजों के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को 1 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना 2021 में 30 प्रतिशत सीटें लड़कियों के लिए आरक्षित होंगी और अन्य सीटों में आरक्षण सरकार के नियमों के अनुसार होगा।
  • सभी 12 वीं कक्षा के छात्रों को प्रवेश परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए उचित मार्गदर्शन की आवश्यकता होती है। इसलिए, सरकार राज्य में या राज्य के बाहर कोचिंग प्राप्त करने में उनकी सहायता करेगी।
  • नौकरी से संबंधित परीक्षाओं के लिए कोचिंग प्राप्त करने के लिए कॉलेज के छात्रों की सहायता की जाएगी।
  • इस योजना के तहत आवेदन करने वाले लाभार्थियों के परिवारों की वार्षिक आय 2.50 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • सरकार द्वारा शुरू की गयी HP Medha Protsahan Yojana 2021 के तहत, JEE, NEET, FMC, NDA, CLAT, UPSC, SSC, बैंकिंग / बीमा और रेलवे क्षेत्र में नौकरियों के लिए कोचिंग के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • राज्य सरकार ने इस योजना के तहत कोचिंग सहायता के लिए 5 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है।

Himachal Pradesh Medha Protsahan Scheme 2021 पात्रता मानदंड

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको दिए गए पात्रता मानदंडों को अनिवार्य रूप से निम्न प्रकार पूरा करना होगा-

  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदक हिमाचल प्रदेश का मूल-निवासी होना आवशयक है।
  • हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना 2021 के तहत चयनित आवेदकों को संसथान में उपस्थित रहना आवश्यक है।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदक के पास सभी आवश्यक दस्तावेज होना अनिवार्य है।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया

आपके द्वारा ऊपर दिए गए पात्रता मानदंडों को पूरा किये जाने की स्थिति में आप दिए गए चरणों के द्वारा आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको शिक्षा विभाग हिमाचल प्रदेश – शिमला की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “आवेदन पत्र पीडीएफ” डाउनलोड कर लेना है।
  • इसके बाद आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- नाम, पता, पैन कार्ड नंबर, मोबाइल नंबर आदि दर्ज कर देना है।
  • अब आपको अपना आवेदन पोस्ट ऑफिस 171001 या ईमेल – [email protected] के माध्यम से निदेशक, उच्च शिक्षा, हिमाचल प्रदेश, शिमला के कार्यालय में भेज सकते हैं।
    • ध्यान दें- आपको बता दें कि इस योजना के तहत आवेदन करने की अंतिम तिथि 25 दिसंबर 2019 से बढ़ाकर 15 जनवरी 2020 कर दी गई है।
    • योजना का पूरा विवरण निदेशक उच्च शिक्षा हिमाचल प्रदेश की वेबसाइट www.educationhp.org पर उपलब्ध है।

संपर्क करें

हमारी वेबसाइट माध्यम से आपको हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि इसके बाद भी आपको किसी भी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी सभी समस्याओं का समाधान कर सकते हैं। आप निम्न हेल्पलाइन नंबर तथा ई मेल आईडी के माध्यम से सहायता प्राप्त कर सकते हैं-

  • फोन नंबर: 0177-265662
  • फैक्स नंबर: 2811247
  • ईमेल आईडी- [email protected]

यह भी पढ़े – HP मुख्यमंत्री एक बीघा योजना CM 1 Bigha Yojana ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

हम उम्मीद करते हैं की आपको हिमाचल प्रदेश मेधा प्रोत्साहन योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *