(रजिस्ट्रेशन) यूपी कौशल सतरंग योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म


यूपी कौशल सतरंग योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री आदित्य योगी नाथ जी के द्वारा राज्य के युवाओं को रोजगार प्रदान करने के लिए की गई है। इस योजना द्वारा यूपी सरकार, राज्य के युवाओं को कौशल प्रशिक्षण और रोजगार के अवसर प्रदान करने जा रही है। उत्तर प्रदेश कौशल सतरंग योजना 2021 का मुख्य उद्देश्य केंद्र कौशल युवाओं में कौशल का विकास करना है। इस योजना के तहत राज्य के हर जिले में रोजगार कार्यालयों में मेकर जॉब फेयर का आयोजन किया जाएगा। योजना का लक्ष्य 2.37 लाख लोगों को विशेष प्रशिक्षण प्रदान करना है।

अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार योजना के 7 ऐसे प्रमुख परिणाम होंगे जो राज्य के शिक्षित युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करेंगे। योजना का लाभ लेने के लिए इच्छुक लाभार्थियों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आज हमारे इस लेख के माध्यम से आप यूपी कौशल सतंग योजना 2021 से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त करेंगे जैसे आवेदन प्रक्रिया दस्तावेज पात्रता एवं और भी बहुत कुछ। इसलिए अधिक जानकारी के लिए हमारे इस लेख को अंत तक ध्यान से पढ़ें।

यूपी कौशल सतरंग योजना 2021

यूपी कौशल सतरंग योजना 2.37 लाख लोगों को विशेष प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए एक कौशल विकास योजना है। कौशल सतरंग में 7 घटक होंगे जो युवाओं को नौकरी के अवसर प्रदान करेंगे। इस उत्तर प्रदेश कौशल सतरंग योजना 2021 में, प्रत्येक जिला जिला सीवेजन कार्यालय में मेगा जॉब फेयर का आयोजन करेगा। यूपी कौशल सतरंग योजना 2021 न केवल प्रशिक्षण पाठ्यक्रम में शामिल होने वाले किसी भी व्यक्ति का उज्ज्वल भविष्य बनाएगी, बल्कि लाभार्थी प्रभावी रूप से उन प्रशिक्षण कॉलेजों में भी अपना कौशल बनाएंगे, जिनमे सरकार ने यूपी में सत्यांग योजना प्रदान की है।

यूपी के हर जिले में, नए कौशल विकास केंद्र स्थापित किए जाएंगे ताकि गाँव के युवा शहर के क्षेत्रों में न जाएँ। योजना के अंतर्गत कौशल विकास मिशन के प्रमुख अपने जिलों में नौकरियों की खोज करने के लिए युवाओं की संभावनाओं को भी देखेंगे। यूपी कौशल सतंग योजना 2021, युवा हब योजना और सीएमएपीएस की शुरूआत करते हुए, सीएम योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि यूपी औद्योगिक क्षेत्र को पिछले 3 वर्षों के दौरान लगभग 3 ट्रिलियन रु का निजी और सार्वजनिक क्षेत्र का निवेश मिला है।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना 2021

यूपी कौशल सतरंग योजना 2021 का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश राज्य में एक बड़ी संख्या में ऐसे बेरोजगार लोग हैं जो रोजगार के अवसर की तलाश में हैं। यूपी कौशल सतंग योजना को शुरू करने के पीछे सरकार का उद्देश्य, राज्य के युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान करके रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाना है। यह योजना न केवल प्रशिक्षण पाठ्यक्रम के द्वारा उज्ज्वल भविष्य का निर्माण करेगी, बल्कि इस योजना के द्वारा लाभार्थी प्रशिक्षण कॉलेज में अपने कौशल को प्रभावी ढंग से बनाएंगे। राज्य  के प्रत्येक जिले में, नए कौशल विकास केंद्र स्थापित किए जाएंगे ताकि गाँव के युवाओ को शहर के क्षेत्रों में न जाना पड़े। राज्य में इस यूपी कौशल सतरंग योजना को चलाने के लिए नई योजनाएँ एक साथ काम करेंगी, इसका विवरण हमने नीचे दिया है।

उत्तर प्रदेश कौशल सतरांग योजना की मुख्य विशेषताएं

योजना का नामयूपी कौशल सतरंग योजना, UP Kaushal Satrang Yojana
आरम्भ की गईमुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा
राज्यउत्तर प्रदेश
लाभार्थीराज्य के लोग
पंजीकरण प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्ययुवाओं को प्रशिक्षण देकर रोजगार देना
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं

यूपी रोजगर मेला

कौशल सतरंग योजना के तहतयोजनाए

  • मुख्यमंत्री अपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम: इस योजना के तहत, सरकार द्वारा राज्य के युवाओं को 2500/ – का मानदेय दिया जाएगा और वे बेरोजगार लोगों को प्रशिक्षण देंगे और शेष राशि संबंधित उद्योग द्वारा वहन की जाएगी।
  • जिला कौशल विकास योजना: इस योजना में जिले में डीएम की अध्यक्षता में गठित एक समिति राज्य बेरोजगार युवाओं के लिए नौकरी के पंजीकरण का कार्य करेगी?
  • सीएम युवा हब योजना: इस सीएम युवा हब योजना के अंतर्गत, सभी विभागों की स्वरोजगार योजना एक साथ काम करेगी, जिसके लिए 1200 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है। योजना के अंतर्गत  30 हज़ार स्टार्ट-अप इकाइयां भी स्थापित होंगी, जो बेरोजगार युवाओं को अपनी योग्यता के अनुसार उपयुक्त नौकरी प्राप्त करने में सहायता करेगी। इस प्रकार यह  सीएम युवा हब योजना राज्य के लाखों प्रशिक्षित युवाओं को रोजगार के अवसर देगी।
  • तीन प्लेसमेंट एजेंसी के साथ एएमओयू किया गया है: यह युवाओं को बेहतर रोजगार प्रदान करेगी। इन योजनाओं के माध्यम से, बेरोजगार युवाओं को राज्य सरकार द्वारा प्रशिक्षित कर रोजगार प्रदान किया जाएगा। जिसके साथ वे अपने और अपने परिवार का खर्च आसानी से उठा सकेंगे।
  • प्रशिक्षण द्वारा रोजगार प्रदान करने के लिए: इस योजना के तहत IIT कानपुर, IIM लखनऊ के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए हैं। जहां आरोग्य मित्र और गाय पालकों को बेसिक शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग और पशुपालन विभाग से एएमओयू के तहत प्रशिक्षित किया जाएगा। इसके साथ ही, आउट-ऑफ-स्कूल बच्चों को कौशल विकास का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।
  • रिकग्नीशन ऑफ प्रायर लर्निग (आरपीएल): इस योजना के अंतर्गत, पारंपरिक उद्योगों से जुड़े शिल्पकारों को प्रमाणित किया जाएगा।
  • तहसील स्तर पर कौशल पखवाड़ा योजना: इस योजना के तहत युवाओं को एलईडी वैन कौशल विकास योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी।

उत्तर प्रदेश कौशल सतरंग योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश कौशल सतरंग योजना के तहत सभी बेरोजगार युवा कवर किये जायेंगे।
  • यूपी कौशल सतंग योजना के तहत, यूपी के युवाओं को कौशल प्रशिक्षण और रोजगार के अवसर मिलेंगे।
  • इस योजना के तहत रोजगार मेले का आयोजन करके युवाओ को शामिल किया जायेगा।
  • इस योजना के तहत राज्य सरकार, युवाओं को प्रशिक्षण देकर, उन्हें रोजगार के अवसर प्रदान करेगी।
  • यूपी कौशल सतरंग योजना 2021 के लिए सात नई योजनाएँ भी शुरू की गई हैं।
  • इस योजना का लाभ राज्य के सभी वर्गों के लोगों को मिलेगा।
  • लाभार्थियों का वेतन सीधा उनके बैंक खाते में स्थानांतरित किया जाएगा।

यूपी कौशल सतरंग योजना 2021 पात्रता मापदंड

सभी इच्छुक उम्मीदवार जो इस यूपी कौशल सतरंग योजना के लिए आवेदन करने और पंजीकरण करने की इच्छा रखते हैं, उन्हें इस योजना के लिए आवेदन करने से पहले निम्नलिखित पात्रता मानदंड अवश्य पढ़ने चाहिए:

  • आवेदक उत्तर प्रदेश राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • बेरोजगार युवा होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु 35 से 40 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

Uttar Pradesh Kaushal Satrang Scheme 2021 आवश्यक दस्तावेज

सभी आवेदक जो इस यूपी कौशल सतरंग योजना के लिए आवेदन करने के पात्र हैं, उन्हें उत्तर प्रदेश रोजगार कार्यक्रमों के लिए निम्नलिखित महत्वपूर्ण दस्तावेजों की आवश्यकता होगी:

  • आधार कार्ड
  • पहचान प्रमाण
  • आवासीय प्रमाण
  • शैक्षिक प्रमाण पत्र
  • अधिवास प्रमाणपत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • वोटर आई कार्ड
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • वैध मोबाइल नंबर
  • मान्य ईमेल आईडी

यूपी कौशल सतरंग योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

वह सभी इच्छुक लाभार्थी जो यूपी कौशल सतरंग योजना के तहत आवेदन की प्रकिया को पूरा करना चाहते हैं उन्हें इस योजना की पंजीकरण प्रक्रिया के लिए कुछ समय तक प्रतीक्षा करनी होगी। अभी किसी भी विभाग अथवा मंत्रालय के द्वारा इस योजना के आवेदन के सम्बन्ध में किसी प्रकार की कोई विशेष अधिसूचना जारी नहीं की गयी है। किसी भी प्रकार की आधिकारिक अधिसूचना प्राप्त करने के बाद हम तदनुसार सभी जानकारी यहां अपडेट करेंगे। इसलिए योजना से जुड़े हर अपडेट के लिए आप हमारे पेज को निरंतर चेक करते रहे।

यह भी पढ़े – Bhu Naksha UP | उत्तर प्रदेश भू नक्शा ऑनलाइन मैप (शजरा रिपोर्ट) UP Plot Map Online

हम उम्मीद करते हैं की आपको उत्तर प्रदेश कौशल सतरंग योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

पूछे गए प्रश्नों के उत्तर

यूपी कौशल सतरंग योजना क्या है?

यह उत्तर प्रदेश राज्य की राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई राज्य सरकार की एक योजना है।

यूपी कौशल सतरंग योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट http://up.gov.in/ है।

यूपी कौशल सतरंग योजना के तहत किसे लाभ मिलेगा ?

राज्य के बेरोजगार युवाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा।

यूपी कौशल सतरंग योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है?

इस योजना का मुख्य उद्देश्य बेरोजगार युवाओं को रोजगार का अवसर प्रदान करना है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *