(रजिस्ट्रेशन) प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना 2021: PMRF एप्लीकेशन फॉर्म


प्रधान मंत्री फैलोशिप योजना, प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना ऑनलाइन आवेदन, PMRF Application Form PDF, प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना फॉर्म पीडीऍफ़ और अन्य जानकारी आपको इस लेख में दी जाएगी। प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना की शुरुआत देश के विभिन्न उच्च शिक्षण संस्थानों में अनुसंधान की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए की गई है। वर्ष 2018 में मोदी सरकार द्वारा Prime Minister Fellowship Scheme की शुरुआत की गयी थी। प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना अनुसंधान में सर्वश्रेष्ठ प्रतिभा को आकर्षित करने का प्रयास करती है और इसके लिए यह आकर्षक फेलोशिप के ऑफर प्रदान करती है।

सभी आईआईटी आईआईएसआर भारत विज्ञान संस्थान बेंगलुरु और अन्य कुछ शीर्ष केंद्रीय विश्वविद्यालय एनआईटी जो विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी की डिग्री प्राप्त करते हैं इस योजना के तहत शिक्षण एवं फेलोशिप प्रदान करते हैं। इस प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना में माननीय शिक्षा मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशांक के द्वारा बहुत से संशोधनों की घोषणा की गई है। जिसका मुख्य उद्देश्य यह है कि अधिक से अधिक छात्र इस फेलोशिप योजना का लाभ उठा सकें। शिक्षा मंत्री ने इसके आवेदन के लिए गेट का स्कोर 750 से घटाकर 650 कर दिया है।

प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना 2021

हमारे देश के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत बीटेक के 1000 छात्रों को आईआईटी एवं आईआईएससी में पीएचडी करने का अवसर प्रदान किया जाएगा। प्रधानमंत्री अनुसंधान सेल योजना के तहत हर साल प्रमुख संस्थानों के 1000 सर्वश्रेष्ठ भी तक के विद्यार्थियों की पहचान करके उन्हें आईआईटी और भारतीय विज्ञान संस्थान में पीएचडी करने का अवसर प्रदान किया जाता है।

प्रधान मंत्री फैलोशिप योजना

इतना ही नहीं वे सभी चयनित लाभार्थी छात्र एक अच्छी फेलोशिप राशि भी प्राप्त करेंगे। Pm research fellowship program का लाभ पीएचडी एवं एमटेक के स्कॉलर्स को मिल सकता है। इसके तहत उन्हें हर महीने ₹75000 की राशि प्रदान की जाएगी। यह फेलोशिप प्रोग्राम उन सभी विद्यार्थियों के लिए काफी लाभदायक सिद्ध होगा जो हायर डिग्री करने जा रहे है। अधिकतर विद्यार्थियों को बीटेक के बाद कोई नौकरी करनी पड़ती है और वे हायर एजुकेशन प्राप्त नहीं कर पाते|

प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना

इसका सबसे बड़ा कारण यह होता है कि वे अब अपने परिवार की आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के कारण आगे की स्टडीज नहीं कर पाते। परंतु अब आर्थिक तंगी किसी की नौकरी करने की मजबूरी नहीं होगी क्योंकि सरकार ने एक ऐसी नई पहल की है जिसके द्वारा मध्यम वर्ग के सभी होनहार छात्रों के भविष्य को उज्जवल किया जा सकेगा एवं उन्हें आगे की शिक्षा प्राप्त करने के लिए स्कॉलरशिप भी प्रदान की जाएगी।

प्रधान मंत्री फैलोशिप योजना की मुख्य विशेषताएं

योजना का नामप्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना
आरम्भ की गईकेंद्र सरकार द्वारा
वर्ष2021
लाभार्थीछात्र-छात्राएं
पंजीकरण प्रक्रियाऑनलाइन
लाभआईआईटी एवं आईआईएससी में पीएचडी करने का अवसर
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटhttp://www.primeministerfellowshipscheme.in/

योजना का उद्देश्य

  • प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना के तहत, एक हजार बीटेक छात्र, आईईआईटी और आईआईएससी में पीएचडी करने का अवसर प्राप्त करेंगे।
  • सरकार की तरफ से, छात्रों को हर माह कुछ आर्थिक सहायता भी दी जाएगी।
  • यह फेलोशिप उच्च डिग्री प्राप्त करने में बहुत सहायक होगी।
  • इस योजना के तहत, जो छात्र IIT या NIT आदि से पिछले 5 वर्षों में कम से कम 8.0 CGPA के साथ बीटेक या इंटीग्रेटेड MTech या Msc पूरा कर चुके हैं या अपने अंतिम वर्ष में हैं, उन्हें IIT या IIS में पीएचडी कार्यक्रम में सीधे प्रवेश दिया जाएगा। ।
  • यह योजना मध्यम वर्ग के होनहार छात्रों के भविष्य को उज्ज्वल करेगी
  • प्रौद्योगिकी और विज्ञान के क्षेत्र के लिए अनुसंधान के क्षेत्र में उच्च शिक्षा हासिल करने के इच्छुक योग्य उम्मीदवारों को लाभ प्रदान करना।
  • उम्मीदवारों को नई वेब पोर्टल सेवाओं का उपयोग करके कार्यक्रम के तहत तत्काल पंजीकरण की सुविधा भी प्रदान की जाएगी।
  • नई ड्राइव का उद्देश्य प्रतिभाओं को आकर्षित करना है और देश के व्यापक मंच से प्राथमिकता के आधार पर, नई प्रतिभाओं को अवसर दिया जा सकता है जो किसी विशेष राज्य या क्षेत्र और जाति तक सीमित नहीं है।

प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना का लाभ

  • इस योजना के तहत पहले 2 वर्षों के लिए लाभार्थी छात्रों को प्रतिमाह ₹7000 की फेलोशिप दी जाएगी। इसके बाद तीसरे वर्ष में फेलोशिप की राशि ₹75000 होगी और चौथे वर्ष यह राशि ₹80000 हो जाएगी।
  • वह सभी विद्यार्थी जो प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना के तहत पीएचडी कर रहे होंगे उन्हें अपने रिसर्च पेपर को पेश करने के लिए विदेश यात्रा का खर्च भी प्रदान किया जाएगा। 5 साल की हर फैलो को ₹200000 की रिसर्च राशि ग्रांट की जाएगी।  पिछले वर्ष सरकार ने 7 वर्षों के लिए इस योजना की खातिर 1650 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया था।
  • भारत के बहुत से ऐसे गरीब बच्चे हैं जो अपने धन के अभाव के कारण उच्च शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाते। सरकार इन होनहार बच्चों को पैसों की कमी के कारण पढ़ाई अधूरी ना छोड़ने के उद्देश्य के साथ यह योजना शुरू कर रही है।

प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना के तहत छात्रवृत्ति वितरण

  • प्रोग्राम के पहले 2 वर्षों में सरकार द्वारा प्रत्येक कैंडिडेट को ₹70000 प्रति माह की छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
  • प्रोग्राम के 2 वर्ष उत्तर इन करने के बाद तीसरे वर्ष में एक रजिस्टर्ड कैंडिडेट को ₹75000 प्रति माह की छात्रवृत्ति का लाभ मिलेगा।
  • प्रोग्राम के चौथे और पांचवें वर्ष में हर कैंडिडेट ₹80000 प्रति माह का स्टीफन प्राप्त करेगा।
  • ऊपर दिए गए टिफन के अलावा सरकार द्वारा 5 साल के लिए प्रति वर्ष ₹200000 की ग्रांट अर्थात पूरे कोर्स में 1000000 रुपए के ग्रांट प्रदान करने की घोषणा की गई है।

पढ़ाई के वर्ष

स्टाइपेंड राशि(हर महीने)

स्टाइपेंड राशि (प्रति वर्ष)

कुल

1

70 हजार

2 लाख

10,40,000 रु

70 हजार

2 लाख

10,40,000 रु

75 हजार

2 लाख

11,00,000

80 हजार

2 लाख

11,60,000 रु

80 हजार

2 लाख

11,60,000 रु

कुल

55 लाख

प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना का शुल्क

  • आवेदन करने के लिए आवेदक को आवेदन पत्र के शुल्क के रूप में ₹1000 का भुगतान करना होगा।
  • आवेदन शुल्क का भुगतान सीधे ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से किया जाएगा।
  • जब आप ऑनलाइन पोर्टल पर भुगतान का चयन करेंगे तो आपको एसबीआई के पोर्टल की ओर भेज दिया जाएगा। इस पोर्टल पर आपको सभी नियम और शर्तें दिखाई देंगे इन्हें ध्यान पूर्वक पढ़ने के बाद इसमें सहमति देने पर आप प्रत्यक्ष रूप से भुगतान कर पाएंगे।
  • आवेदन शुल्क का भुगतान होने के बाद पीडीएफ प्रारूप के रूप में आप के संदर्भ के लिए एक रिसिप्ट आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जाएगी। आप इसे डाउनलोड कर सकते हैं और इसका प्रिंट भी निकाल सकते हैं।
  • इसके साथ ही आपको आपका एप्लीकेशन नंबर भी प्रदान किया जाएगा।

प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना के लिए पात्रता मानदंड

  • आवेदक की उच्च शिक्षा पासिंग मार्क्स के साथ पूरी हुई होनी चाहिए या फिर आवेदक अपने शिक्षा के अंतिम वर्ष में होना चाहिए।
  • योजना के तहत आवेदन के लिए आवेदक का पहले से एमटेक प्रोग्राम में 5 साल में नामांकित होना या m-tech प्रोग्राम को पूरा किया होना आवश्यक होगा।
  • यूजी पीजी एग्जाम के डिग्री कोर्स के अंतर्गत शिक्षा प्राप्त कर चुका या पढ़ रहा कोई भी कैंडिडेट Prime Minister Fellowship Scheme के लिए आवेदन कर सकता है।
  • केवल आईआईएससी, आईआईटी, एनआईटी, आईआईएसईआर से विज्ञान और टेक्नोलॉजी में शिक्षा पूर्ण करने वाले विद्यार्थी ही डॉक्टरेट फैलोशिप प्रोग्राम के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • कैंडिडेट के सीजीपीए या सीपीआई में 10 में से कम से कम आठ स्कोर होने चाहिए।
  • 5 वर्षीय यूजी पीजी कोर्स कर रहे कैंडिडेट के 4 वर्ष किस को भी प्रोग्राम की योग्यता में गिने जाएंगे।

प्रधान मंत्री फैलोशिप योजना आवश्यक दस्तावेज

प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना के तहत आवेदन करने के लिए आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी।

  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • अंतिम पूर्ण सेमेस्टर तक प्रतिलेख / प्रतिलिपि / मार्कशीट की प्रतिलिपि पीडीएफ
  • सार पीडीएफ (1000 शब्द)
  • प्रासंगिक पाठ्यचर्या Vitae (CV) की पीडीएफ
  • एसबीआई कलेक्ट ई-रसीद का पीडीएफ

प्रधानमंत्री फैलोशिप योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

आप नीचे दी गई आसान प्रक्रिया के द्वारा प्रधानमंत्री फेलोशिप रिसर्च योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री फैलोशिप रिसर्च प्रोग्राम की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको अप्लाई ऑनलाइन के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आप आवेदन फॉर्म देख सकते हैं। इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक दर्ज करें।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद अपने आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करें। अंत में एक बार फिर से सभी जानकारी को चेक करें और फिर सबमिट का बटन दबाकर इस आवेदन फॉर्म को सबमिट करते।
  • आप भविष्य के लिए अपने आवेदन फॉर्म का प्रिंट आउट भी निकाल सकते हैं।

प्रधान मंत्री फैलोशिप योजना अनुदान संस्थान

पीएमआरएफ के तहत सभी चुनिंदा लाभार्थी निम्नलिखित संस्थानों में उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं।

  • IISc, बेंगलुरु
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय
  • जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय
  • जामिया मिलिया इस्लामिया
  • दिल्ली विश्वविद्यालय
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय
  • राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, तिरुचिरापल्ली
  • सभी IISERs
  • सभी आई.आई.टी.
  • हैदराबाद विश्वविद्यालय

संपर्क जानकारी

ऊपर के इस लेख में हमने आपको प्रधानमंत्री फेलोशिप रिसर्च योजना से संबंधित सभी जानकारी बता दी है। परंतु यदि ऊपर के लेख को पढ़ने के बाद भी आपके मन में कोई प्रश्न है या योजना से संबंधित कोई समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो आप इसके लिए नीचे दिए गए हेल्पलाइन डिटेल्स के माध्यम से अधिकारियों से संपर्क करके सहायता प्राप्त कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दी गई इनके ऑफिशल वेबसाइट पर विजिट भी कर सकते हैं।

वेबसाइट: https://may2019.pmrf.in/

हेल्पलाइन नंबर: + 91-8330913053

ईमेल: [email protected]

यह भी पढ़े – (पंजीकरण) प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फॉर्म

हम उम्मीद करते हैं की आपको प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *