मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना: ऑनलाइन पंजीकरण, पात्रता मानदंड


झारखंड सरकार ने राज्य के आदिवासी विद्यार्थियों के लिए नए साल पर मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना नाम का एक नया तोहफा दिया है। इस Marang Gomke Jaipal Singh Munda Transnational Scholarship Scheme के तहत झारखंड सरकार राज्य के अनुसूचित जाति के प्रतिभावान छात्र छात्राओं को ऑक्सफोर्ड और कैंब्रिज जैसे प्रतिष्ठित विदेशी यूनिवर्सिटी में उच्च शिक्षा प्राप्त करने का मौका प्रदान कर रही है। झारखंड भारत का पहला ऐसा राज्य है जो अपने राज्य के नागरिकों के लिए ऐसी नई योजना शुरू करने जा रहा है।

इस योजना के तहत अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति अल्पसंख्यक एवं अन्य पिछड़े वर्ग कल्याण विभाग द्वारा अनुसूचित जाति के 10 विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा जो Marang Gomke Jaipal Singh Munda Transnational Scholarship Scheme के तहत अपनी उच्च शिक्षा मास्टर डिग्री एमफिल हेतु विदेशों में शिक्षा प्राप्त करने के लिए छात्रवृत्ति प्राप्त करेंगे। सरकार द्वारा हर साल ऐसे 10 प्रतिभावान विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा एवं उन्हें छात्रवृत्ति की सुविधा प्रदान की जाएगी।

मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना 2021

झारखंड सरकार ने राज्य के आदिवासी युवाओं को विदेशों में उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना के तहत राज्य के आदिवासी कल्याण आयुक्त ने वित्तीय वर्ष 2021 22 में युवाओं को लाभ प्रदान करने के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। वह सभी इच्छुक आभार थी जो इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें 30 मई तक अधिकारी की ईमेल आईडी के माध्यम से अपने आवेदन जमा करवाने होंगे।

मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना

इसके बाद अधिकारियों द्वारा आपके आवेदनों की जांच की जाएगी और फिर 10 योग्य अभ्यर्थियों का नाम इस योजना के तहत चुना जाएगा। वह 10 प्रतिभावान अभ्यार्थी जो इस योजना के तहत चुने जाएंगे उन्हें विदेश में जाकर अपनी शिक्षा प्राप्त करने का अवसर प्राप्त होगा। आज हम यहां आपको Marang Gomke Jaipal Singh Munda Transnational Scholarship Scheme से संबंधित सभी जानकारी प्रदान करने जा रही हैं। इसलिए हमारे इस लेख को अंत तक ध्यान पूर्वक पढे।

की मुख्य विशेषताएं मारंग गोमके जयपाल सिंह मुंडा ट्रांसनेशनल स्कॉलरशिप स्कीम

योजना का नाममरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना
आरम्भ की गईमुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा
वर्ष2021
लाभार्थीराज्य के लोग
पंजीकरण प्रक्रियाऑनलाइन/ऑफलाइन
लाभविदेशो में शिक्षा के अवसर
श्रेणीझारखड सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटhttps://www.jharkhand.gov.in/

योजना का उद्देश्य

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि झारखंड के मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा राज्य के पहले ऐसे आदिवासी थे जिन्होंने इंग्लैंड में जाकर अपनी शिक्षा प्राप्त की थी और राज्य का मान बढ़ाया था। इतना ही नहीं यह भारतीय हॉकी टीम के कप्तान भी थे और उन्होंने भारत को ओलंपिक में स्वर्ण पदक भी दिलाया था। खेलो और शिक्षा के साथ-साथ इनका राजनीति में भी योगदान रहा है यह संविधान सभा के सदस्य रहे हैं और इन्होंने झारखंड आंदोलन की नींव रखी थी।

यही कारण है इनके नाम पर यह नई योजना चलाई जा रही है। योजना नई पीढ़ी के आदिवासी युवाओं को संभावनाओं को अवसर में बदलने का मौका देगी। झारखंड के श्री हेमंत सोरेन जी की सरकार का मानना है कि यदि गठन के बाद भी राज्य के निवासियों को अपनी प्रतिभा को निखारने का अवसर प्रदान नहीं किया गया, तो इसका मुख्य कारण गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के सीमित अवसर होना है। यही कारण है कि इस छात्रवृत्ति योजना का शुभारंभ किया गया ताकि राज्य के युवाओं को राज्य एवं देश निर्माण में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाने का अवसर प्रदान किया जा सके।

मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना का लाभ

इस योजना के तहत प्रत्येक वर्ष अनुसूचित जनजाति के चुने गए 10 युवाओं को यूनिवर्सिटी ऑफ ऑक्सफोर्ड कैंब्रिज जैसे बड़े विदेशी शैक्षणिक संस्थानों में 22 विषयों में स्नातकोत्तर की डिग्री प्राप्त करने का मौका मिलेगा। इसके लिए सरकार द्वारा उन्हें आर्थिक सहायता की जाएगी। इस योजना के तहत चुने गए लाभार्थी मानव विज्ञान, कृषि, कला और संस्कृति, जलवायु परिवर्तन, अर्थशास्त्र, विधि, मीडिया एंड कम्युनिकेशन, पर्यटन आदि जैसे 22 अलग-अलग विषयों में से किसी भी विषय में आगे की शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं।

मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना उन विद्यार्थियों के लिए काफी लाभदायक है जो अपनी शिक्षा में बहुत अधिक प्रतिभाशाली हैं परंतु उनके पास आगे की शिक्षा के लिए अधिक धन ना होने के कारण उन्हें कम में ही संतोष करना पड़ रहा है। परंतु अब ऐसा नहीं होगा सरकार हर साल 10 ऐसे लाभार्थियों का चयन करेगी जो अपने उच्च शिक्षा विदेशों में जाकर अच्छे शैक्षणिक संस्थानों में शिक्षा प्राप्त करने का अवसर पाएंगे।

इस योजना के तहत चुने गए छात्रों को शिक्षण शुल्क पुस्तकों आवश्यक उपकरण वार्षिक अनुरक्षण भत्ता वीजा शुल्क हवाई यात्रा का शुल्क स्वास्थ्य बीमा का प्रीमियम यात्रा का एवं स्थानीय खर्च का वाहन आदि सब खर्चे राज्य सरकार द्वारा दिए जाएंगे। शिक्षणशुल्क का भुगतान सरकार द्वारा सीधे संबंधित विश्वविद्यालय को किया जाएगा एवं अन्य सभी खर्चों का भुगतान छात्रों के बैंक के अकाउंट में डीवीटी के माध्यम से किया जाएगा।

मारंग गोमके जयपाल सिंह मुंडा ट्रांसनेशनल स्कॉलरशिप स्कीम चयन प्रक्रिया

इस योजना के तहत आए गए आवेदनों में राज्य सरकार द्वारा उन विद्यार्थियों को प्राथमिकता दी जाएगी जो चिन्हित संस्थानों में दाखिले के लिए ऑफर लेटर प्राप्त कर चुके हैं। इसके बाद उन विद्यार्थियों को प्राथमिकता मिलेगी जो आइईसीटीएस, जीआरफ या टॉफेल की परीक्षा पास कर चुके हैं और इसमें उनका काफी अच्छा परिणाम रहा है। इसके साथ ही आवेदन के साथ अभ्यार्थियों को यह सब घोषणा भी करनी होगी कि इस योजना के लिए आवेदन देने वाले वह अपने परिवार के पहले सदस्य हैं तथा उनके माता-पिता केंद्र या राज्य सरकार में मंत्री नहीं है अर्थात मंत्रियों की संताने इस योजना का लाभ नहीं ले सकती।

मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना 2021 पात्रता मानदंड

  • मास्टर डिग्री एम फिल डिग्री के लिए अभ्यार्थी के स्नातक की डिग्री में 55% या इससे अधिक अंक होने चाहिए एवं संबंधित विषय में 2 वर्ष का शिक्षण कार्य वांछनीय होगा।
  • ऐसे आवेदक जिनके पास अनुभव होगा उन्हें इस योजना के तहत प्राथमिकता दी जाएगी।
  • किसी भी आवेदक की आयु 40 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। यदि किसी आवेदक की आयु 40 वर्ष से अधिक होती है तो ऐसी स्थिति में वह योजना के लिए पात्र नहीं होगा।
  • केवल झारखंड राज्य का स्थाई निवासी ही इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है।
  • मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास उनका अनुसूचित जनजाति का जाति प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • आवेदक की वार्षिक पारिवारिक आय 1200000 या इससे कम होनी चाहिए। इससे अधिक आय वाला व्यक्ति योजना के लिए पात्र नहीं होगा।
  • एक ही माता-पिता या अभिभावक के एक से अधिक बच्चे Marang Gomke Jaipal Singh Munda Transnational Scholarship Scheme के तहत पात्र नहीं होंगे।
  • इस योजना का लाभ किसी भी लाभार्थी को किसी भी विशेष पाठ्यक्रम के लिए मात्र एक बार ही दिया जाएगा।
  • भारत सरकार या राज्य सरकार के मंत्री के बच्चे इस योजना के तहत शामिल नहीं किए जाएंगे।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • शैक्षणिक दस्तावेज
  • आय प्रमाण पत्र या आयकर रिटर्न की प्रति
  • जाति प्रमाण पत्र
  • अन्य आवश्यक दस्तावेज

मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना आवेदन प्रक्रिया

वे सभी इच्छुक उम्मीदवार जो इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं, नीचे दी गई आवेदन प्रक्रिया के द्वारा अपना आवेदन जमा करवा सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको झारखंड सरकार की वेलफेयर डिपार्टमेंट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना के लिंक पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • यहां आपको योजना के आवेदन के दिशा निर्देश आवेदन पत्र एवं अन्य आवश्यक दस्तावेजों की संपूर्ण जानकारी दिखाई देगी। सभी जानकारी देखने के बाद आवेदन पत्र का फॉरमैट डाउनलोड कर लीजिए।
  • अब इस आवेदन का प्रिंट निकाल कर इस फॉर्म में मांगी गई जानकारी भरें। सभी जानकारी भरने के बाद अपने आवेदन फॉर्म को स्कैन करें और इसे सेव कर ले।
  • अब अपने सिस्टम में अपने ब्राउज़र पर अपनी ईमेल आईडी खोलिए। अपने ईमेल में न्यू मेल कंपोज कीजिए और एड्रेस में [email protected] भरे।
  • इसके सब्जेक्ट में Application for Marang Gomke Jaipal Singh Munda Transnational Scholarship Scheme लिखें। अब अपने एप्लीकेशन फॉर्म की स्कैन कॉपी को अपलोड करें।
  • अंत में सेंड का बटन दबाकर अपनी मेल सेंड कर दें और इस प्रकार आपकी आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

महत्वपूर्ण तारीख

इस योजना के तहत आवेदन करने की अंतिम तिथि 3 मई 2021 है इसलिए यदि आप योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो अंतिम तिथि से पहले अपना आवेदन जमा कराना ना भूले।

यह भी पढ़े – झारखंड मुख्मंत्री श्रमिक रोज़गार योजना: ऑनलाइन आवेदन (जॉब कार्ड) श्रमिक रोज़गार कार्ड

हम उम्मीद करते हैं की आपको मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है। यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *