फ्री वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस, वाणी योजना पंजीकरण


प्रधानमंत्री-वानी योजना नि: शुल्क वाईफाई पंजीकरण, फ्री वाई-फाई वाणी योजना रजिस्ट्रेशन, PM-WANI Yojana Application Form, पीएम वाणी योजना के लाभ और अन्य जानकारी आप को इस लेख में दी जाएगी। डिजिटल इंडिया क्रांति के बाद, अब सरकार द्वारा वाईफाई क्रांति भी की जा रही है। इंटरनेट, आज के समय की एक बहुत ही महत्वपूर्ण जरूरत है, यही कारण है की  सरकार अब  देश के नागरिकों के लिए वाईफाई सुविधा प्रदान करेगी। इसके लिए सरकार द्वारा पीएम वाणी योजना शुरू की जा रही है।

सभी आवेदक जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड कर सकते हैं और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़े। आज हम यहाँ आपको अपने इस लेख के माध्यम से, प्रधानमंत्री-वानी योजना से जुड़ी  सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे; जैसे कि पीएम वानी योजना क्या है?, इसके लाभ क्या है , इसका उद्देश्य, सुविधाएँ, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो, यदि आप पीएम-वानी योजना से संबंधित जानकारी ढूंढ रहे है तो आपको इस लेख को अंत तक पढ़ना चाहिए।

प्रधानमंत्री-वानी योजना

भारत सरकार ने प्रधानमंत्री-वानी योजना, (वाई फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस) शुरू करने की घोषणा की है, जिसका उद्देश्य सभी को  मुफ्त और आसान इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान करना होगा। इस योजना को एक ऐसी सेवा के रूप में स्थापित किया जाएगा, जो पूरे भारत को इंटरनेट सेवाओं से जोड़ती है। पीएम-वानी वाई-फाई सेवा कैसे काम करेगी, यह बताते हुए केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि तैनाती के आधार पर सार्वजनिक डेटा कार्यालय (पीडीओ) होंगे। ये पीडीओ कोई भी स्थानीय दुकान, सेवा प्रदाता या छोटे पैमाने पर सार्वजनिक सेवा विभाग हो सकते हैं।

प्रधानमंत्री-वानी योजना

राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान

ये पीडीओ किसी भी इंटरनेट सेवा प्रदाता (आईएसपी) द्वारा संचालित इंटरनेट कनेक्टिविटी सेवाएं ले सकते हैं, और नेटवर्क कनेक्टिविटी हॉटस्पॉट स्थापित कर सकते हैं। प्रसाद के अनुसार, कोई भी इच्छुक पार्टी पीडीओ के रूप में स्थापित हो सकती है, और कोई लाइसेंस, कोई पंजीकरण नहीं होगा और पीडीओ के रूप में काम करने से जुड़ी कोई फीस नहीं होगी। दूसरी परत में, सार्वजनिक डेटा एग्रीगेटर (पीडीए) होंगे, इन्हे भी कोई परिचालन शुल्क  नहीं देना होगा। ये पीडीए लेखांकन, प्राधिकरण और पीडीओ के अन्य कार्यात्मक भागों जैसे पहलुओं की देखरेख करेंगे।

पीएम फ्री वाईफाई वाणी योजना का कार्यान्वयन

इस वाई फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस के सफल कार्यान्वयन के लिए, पूरे देश में सार्वजनिक डेटा केंद्र खोले जाएंगे। इन सार्वजनिक डेटा केंद्रों को खोलने के लिए आवेदक को कोई लाइसेंस शुल्क या पंजीकरण शुल्क नहीं देना होगा। प्रधानमंत्री जी का कहना है की फ्री वाई-फाई वॉयस प्लान एक ऐतिहासिक योजना साबित होगी। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 9 दिसंबर 2020 को इस योजना को मंजूरी दे दी है। छोटे दुकानदारों को भी इस योजना के माध्यम से वाईफाई सेवा मिलेगी, ताकि उनकी आय बढ़ सके। यह योजना निरंतर इंटरनेट कनेक्टिविटी को सुनिश्चित करती है ।

PM-WANI फ्री वाईफाई योजना की मुख्य विशेषताएं

योजना का नामपीएम वाणी योजना
वर्ष2021
लाभार्थीभारत के नागरिक
पंजीकरण प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यसार्वजनिक स्थानों पर वाई फाई सुविधा उपलब्ध कराना
लाभफ्री वाई फाई
श्रेणीप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा

वाई फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस (PM-WANI पंजीकरण)

यदि आप  इस वाई फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस योजना के तहत सार्वजनिक डेटा कार्यालय  तो आपको इसके लिए किसी लाइसेंस की आवश्यकता नहीं है, परन्तु पीडीओए और प्रदाताओं का पंजीकरण, दूरसंचार विभाग के साथ होना आवश्यक है। आवेदन के 7 दिनों के भीतर पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। मुख्य भूमि और लक्ष्य दीप समूह के बीच पनडुब्बी ऑप्टिकल फाइबर केबल कनेक्टिविटी के प्रावधान की  मंजूरी कैबिनेट द्वारा दे दी गयी है।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

फ्री वाईफाई वाणी योजना का उद्देश्य

पीएम वाणी योजना का मुख्य उद्देश्य सभी सार्वजनिक स्थानों पर वाई-फाई सुविधाएं प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से, पूरे देश का प्रत्येक नागरिक अब इंटरनेट से जुड़ सकता है, जिससे उन्हें कई सुविधाएं मिलेंगी।  सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क, सार्वजनिक डेटा कार्यालयों के माध्यम से प्रदान किया जाएगा जिसमें कोई लाइसेंस, शुल्क या पंजीकरण शामिल नहीं होगा। यह सार्वजनिक वाई-फाई का प्रसार न केवल रोजगार पैदा करेगा बल्कि छोटे और मध्यम उद्यमियों के हाथों में डिस्पोजेबल आय को बढ़ाएगा और देश की जीडीपी को बढ़ावा देगा।

प्रधानमंत्री-वानी योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • PM-WANI योजना अधिक व्यवसाय करने में आसानी को बढ़ावा देकर व्यापार के अनुकूल वातावरण पेश करेगी।
  • इसका उद्देश्य COVID-19 महामारी के दौरान आवश्यकता के रूप में सामने आए हाई-स्पीड इंटरनेट को उपलब्ध कराना है।
  • हाई-स्पीड इंटरनेट उन क्षेत्रों में सुलभ नहीं है, जिनमें 4 जी मोबाइल कवरेज नहीं है। PM WANI का उद्देश्य सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क सेवा की तैनाती में सहायता करना है।
  • सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क के प्रसार से रोजगार का सृजन होगा।
  • छोटे और मध्यम व्यापारियों के डिस्पोजेबल आय में वृद्धि की उम्मीद है और इससे जीडीपी में वृद्धि भी होगी।
  • सार्वजनिक वाई-फाई हॉटस्पॉट के उपयोग से पूरे देश में इसकी पैठ को बढ़ावा मिलेगा।
  • ट्राई के अनुसार, विभिन्न अर्थव्यवस्थाओं में, मोबाइल उपयोगकर्ता अपने शुद्ध समय के 50-70% तक संचार करने के लिए वाईफाई तकनीक का उपयोग करते हैं। लेकिन, भारत में यह आंकड़ा 10% से कम है। 2018 में विभिन्न सेवा प्रदाताओं ने कहा कि उन्होंने 31 मार्च, 2019 तक 5 लाख हॉटस्पॉट और 30 सितंबर, 2019 तक 10 लाख हॉटस्पॉट उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा है। इन लक्ष्यों को हासिल करना बाकी है।
  • वाई फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस शुरू करने का सरकार का कदम सराहनीय है और इससे हॉटस्पॉट की संख्या बढ़ने की उम्मीद है।

पीडीओ वाईफाई सेंटर के प्रकार

  • वाईफ़ाई हॉटस्पॉट केवल – यह केवल वाई-फाई की सुविधा प्रदान करेंगे।
  • पीडीओ केंद्र – कंप्यूटर के साथ इंटरनेट की सुविधा प्रदान करेंगे।

2.5 है लाख गांवों में बनाए जाएंगे १० लाख से ज्यादा वाईफाई हॉटस्पॉट

कैबिनेट की बैठक में लिए गए फैसलों के अनुसार पुरे देश में वाई-फाई सेऔर ब्रॉडबैंड की सुविधाओं के प्रसार के साथ-साथ बहरत नेट ऑप्टिक फाइबर प्रोजेक्ट के विस्तार को भी मंजूरी दी गयी है। अब देश में पब्लिक वाई-फाई के माध्यम से ब्रॉडबैंड का दायरा बढ़ाया जायेगा।

पब्लिक डाटा ऑफिस (पीडीओ) वाईफाई हॉटस्पॉट

अगर आपके पास CSE VlE है तो आपके आस-पास कोई न कोई न टेलीफोन बूथ जरूर होगा, या अपने 1रू डालकर बात किये जाने वाले टेलीफोन बूथ के बारे में आवश्यक सुना होगा। अब समय के बदलते पहिये के साथ यह बूथ कही खो से गए हैं, आज के समय में इंटरनेट ने एक दूसरे से जुड़ने को आसान और कम खर्चीला बना दिया है। इसी को देखते हुए केंद्र सरकार ने पीएम वानी योजना मुफ्त इंटरनेट वाईफ़ाई योजना की शुरूआत की है। इस योजना के तहत देश में लगभग 10 लाख नए वाई-फाई हॉटस्पॉट बनाये जायेंगे जिनके माध्यम से इंटरनेट कनेक्टिविटी पहुचायी जाएगी।इस योजना के अमल में आने के बाद कोई भी व्यक्ति 02 रूपये से 20 रूपये देकर भरपुर इंटरनेट का मजा ले सकता है।

पीएम वाणी योजना के अंतर्गत आवेदन कैसे करे?

यदि आप PM-WANI योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो आपको कुछ समय तक प्रतीक्षा करने की आवश्यकता है क्योंकि सरकार ने अभी तक आवेदन प्रक्रिया के बारे में कोई घोषणा नहीं की है। उम्मीद है, जल्द ही वे इस बारे में कोई अधिसूचना जारी करेंगे और हम इसे आपके लिए इस वेब पेज पर अपडेट करेंगे, इसलिए नियमित अपडेट के लिए हमारी पोस्ट की जांच करते रहें।

यह भी पढ़े – [न्यू लिस्ट] प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2021 (pmaymis.gov.in), पीएमएवाई सूची

हम उम्मीद करते हैं की आपको पीएम वाणी योजना फ्री वाई-फाई योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।



Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *