(पंजीकरण) दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना: पंडित दीनदयाल योजना लागू


Pandit Dindayal Yojana Apply |
दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना रजिस्ट्रेशन | Dindayal Upadhyay Gramin Scheme In Hindi |

दोस्तों आज हम आपको दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के बारे में बता रहे हैं इस योजना के अंतर्गत आप इस पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करा सकते हैं भारत सरकार ने लगातार बढ़ रही बेरोजगारी और अपराध को देखते हुए दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना का शुभारंभ किया था ताकि देश के गरीब बेरोजगार लोगों को रोजगार मुहैया कराया जा सके इसके तहत केंद्र सरकार कई प्रकार की कौशल प्रशिक्षण योजनाओं को चला रही है ताकि इन युवाओं को ट्रेनिंग देकर इन्हें रोजगार उपलब्ध कराया जा सके ताकि अपने भविष्य के साथ साथ देश के विकास में भी अपना पूरा योगदान प्रदान कर सकें इस योजना से जुड़ी सारी जानकारी आज हम आपको दे रहे हैं।

Pandit Dindayal Yojana

Pandit Dindayal Yojana का उद्देश्य देश के बेरोजगार युवाओं को अपनी युवा शक्ति का सदुपयोग करना है जिसके जरिए युवाओं को उनके मनपसंद कौशल में ट्रेनिंग दी जाती है जब उनकी ट्रेनिंग पूरी हो जाती है और वह अपने काम में निपुण हो जाते हैं तो उन्हें नौकरी मुहैया कराई जाती है इसके साथ ही सरकार के द्वारा एक प्रमाण पत्र भी दिया जाता है इस प्रमाण पत्र से युवाओं को नौकरी मिलने में काफी आसानी होती है। इसके बाद देश के युवा रोजगार युवा अपने बेरोजगारी को दूर करते हैं इसके साथ ही देश की तरक्की भी होती है।

नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना प्रशिक्षण कार्यक्रम

इस योजना के अंतर्गत 18 दिसंबर 2020 से प्रशिक्षण कार्यक्रम आरंभ कर दिया गया है। ट्रिडेंट ग्रुप ने इस योजना के अंतर्गत 1500 उम्मीदवारों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम आरंभ किया है। Pandit Dindayal Yojana की पहली बेच का उद्घाटन ट्रिडेंट के तक्षशिला परिसर में किया गया है। जो कि धौला में स्थित है। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के पूरे कार्यकाल के दौरान छात्रों के लिए आवास, कपड़े और भोजन की सुविधा उपलब्ध होगी। इसके लिए छात्रों को समर्पित कार्यवाहक के साथ हॉस्टल ब्लॉक आवंटित किए गए हैं। इस प्रशिक्षण के अंतर्गत कवर किए जाने वाले क्षेत्र अपारेल तथा टेक्सटाइल है। दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के अंतर्गत 5 जिलों को टारगेट किया जा रहा है। जो कि बरनाला, भटिंडा, संगरूर, फाजिल्का तथा मानसा है। सिलाई मशीन ऑपरेटर और इनलाइन गारमेंट चेकर के दो बैचो के लिए प्रशिक्षण आरंभ हो गया है।

हिमायत फ्री प्लेसमेंट लिंग स्किल ट्रेनिंग प्रोग्राम

हिमायत फ्री प्लेसमेंट लिंक स्किल ट्रेनिंग प्रोग्राम के अंतर्गत जम्मू कश्मीर के नागरिकों को कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। यह प्रोग्राम दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के अंतर्गत संचालित किया जा रहा है। जिससे कि वह रोजगार प्राप्त कर सकें। इस योजना के माध्यम से जम्मू-कश्मीर में बेरोजगारी की दर में कमी आएगी। यह कौशल प्रशिक्षण उन छात्रों को प्रदान किया जाता है जिन्होंने अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी है एवं उन नागरिकों को भी प्रदान किया जाता है जिनके पास कोई रोजगार नहीं है। हिमायत फ्री प्लेसमेंट लिंक स्किल ट्रेनिंग प्रोग्राम के अंतर्गत छात्रों को यात्रा भत्ता भी प्रदान किया जाता है। जिससे कि वह प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए संस्थान तक आसानी से पहुंच सके हैं। इसी के साथ उन्हें अध्ययन सामग्री और स्टेशनरी भी प्रदान की जाती है।

  • इस योजना के अंतर्गत जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को सॉफ्ट स्किल, अंग्रेजी भाषा तथा इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी स्किल की जानकारी भी प्रदान की जाती है। प्रशिक्षण पूरा होने के बाद इस योजना के अंतर्गत प्लेसमेंट भी की जाती है।
  • जम्मू कश्मीर में इस योजना का कार्यान्वयन हिमायत मिशन मैनेजमेंट यूनिट द्वारा किया जा रहा है। जम्मू कश्मीर में इस योजना के लाभार्थी इस योजना के कार्यान्वयन से बहुत खुश हैं। उन्होंने अपनी खुशी जताते हुए इस योजना की तारीफ की है। कुछ छात्रों ने कहा है कि इस तरह की योजना पूरे भारत मैं कार्यरत की जानी चाहिए। इस योजना के माध्यम से बेरोजगार नागरिक आत्मनिर्भर बनेंगे।

Pandit Dindayal Yojana Highlights

योजना का नाम

दीनदयाल उपाध्याय कौशल ग्रामीण योजना

विभाग

ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार

आरंभ तिथि

25 सितंबर सन 2014

अंतिम तिथि

जारी है

योजना का उद्देश्य

ग्रामीण बेरोजगार युवाओं को 
  रोजगार  उपलब्ध कराना

आधिकारिक वेबसाइट

http://ddugky.gov.in/hi/apply-now

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना का उद्देश्य

इस योजना का खास उद्देश्य कम पढ़े लिखे बेरोजगार युवा को ट्रेनिंग देकर इस लायक बनाना कि वह अपने पैरों पर खड़े हो सकें और अपनी बेरोजगारी दूर करने के अलावा देश की तरक्की में योगदान दे सकें। इस योजना का मुख्य उद्देश्य खासतौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में वह युवा बेरोजगार जो अपने जीवन से निराश हो चुके हैं उन्हें प्रोत्साहित करना है।

पंडित दीनदयाल योजना लाभ लाभ

दीन दयाल उपाध्याय कौशल्या योजना से होने
वाले लाभ इस प्रकार है

  • Pandit Dindayal Yojana के अंतर्गत ग्रामीण बेरोजगार युवाओं को अलग-अलग किस्म के कामों की ट्रेनिंग दी जाएगी।
  • इस योजना से प्राप्त होने वाला प्रमाण पत्र पूरे भारत देश में माना जाएगा।
  • इस योजना से ज्यादा से ज्यादा युवाओं को लाभ मिल सके इसके लिए अलग-अलग राज्यों में प्रशिक्षण केंद्र बनाए जाएंगे।
  • दीनदयाल उपाध्याय योजना के तहत 200 ज्यादा अलग-अलग कामों को शामिल किया गया है जिसमें अपनी रुचि के हिसाब से ट्रेनिंग लेकर युवा उसमें निपुण हो सके।
  • इस योजना के तहत बेरोजगार ग्रामीण युवाओं को रोजगार मिल सकेगा।

दीनदयाल उपाध्याय योजना में कौन से कदम शामिल हैं

  • रोजगार के अवसर के बारे में ग्रामीण समुदाय के भीतर जागरूकता बढ़ाना।
  • गरीब ग्रामीण युवाओं की पहचान करना।
  • रोजगार पाने के अवसर ढूंढने वाले ग्रामीण युवाओं को जुटाना।
  • गरीब युवाओं और उनके माता-पिता की काउंसिलिंग।
  • योग्यता के आधार पर कुशलता विकसित करने के लिए युवाओं का चयन
  • रोजगार के अवसर के हिसाब से ज्ञान, उद्योग से जुड़े कौशल और विजन उपलब्ध कराना।
  • ऐसी नौकरी देना जिनका सत्यापन स्वतंत्र तरीके से किया जा सके।
  • इसमें युवाओं को न्यूनतम मजदूरी से ज्यादा भुगतान मिल सके।
  • नियुक्ति के बाद व्यक्ति की सतत आय में मदद उपलब्ध कराना।

dindayal upadhyay gramin koshalya yojana के जरूरी कागजात

हम यहां पर आपको दीनदयाल उपाध्याय कौशल
योजना के अंतर्गत काम आने वाले जरूर कागजातों के बारे में बता रहे हैं जो
निम्नलिखित हैं।

  • आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • आयु प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • स्थाई निवासी प्रमाण पत्र
  • तीन पासपोर्ट साइज फोटो

इसके अलावा आवेदक की आयु कम से कम 18 वर्ष और अधिक से अधिक 25 वर्ष
होना चाहिए यह योजना खासतौर पर ग्रामीण क्षेत्र के बेरोजगार युवाओं के लिए है
बेरोजगार ग्रामीण युवाओं को ही इस योजना का लाभ मिल सकेगा।

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना का ऑनलाइन आवेदन करने के लिए
आपको निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना पड़ेगा

  • इसके लिए सबसे पहले आपको दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा |
दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना
  • इस लिंक पर क्लिक करने के बाद आपको इस वेबसाइट का होम पेज दिखाई देगा।
  • इस होम पेज पर आपको न्यू रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर आप को क्लिक करना है।
दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने इस योजना का आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा। जिस पर आपको फोन नंबर लिखने का ऑप्शन दिखाई देगा इस पर आपको अपना रजिस्ट्रेशन मोबाइल नंबर लिखना है।
  • इस फोर्म में आपको अपने आप से संबंधित सभी जानकारियों को ध्यान से भरना होगा।
  • इस फॉर्म आपसे जरूरी दस्तावेजों के बारे में विवरण मांगा जाएगा।
  • सारे जरूरी दस्तावेजों को आप को स्कैन करके अपलोड करना होगा।
  • इसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।

तो दोस्तों इस प्रकार आप दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना मैं अपना पंजीकरण करा सकते हैं इसके बाद आपको संबंधित अधिकारियों की तरफ से एक s.m.s. द्वारा सूचित किया जाएगा कि आपको कौन से ट्रेनिंग सेंटर में ट्रेनिंग दी जाएगी।

संपर्क करें

कार्यालय का पता:
ग्रामीण कौशल प्रभाग,
ग्रामीण विकास मंत्रालय,
7 वीं मंजिल, NDCC-II बिल्डिंग,
जय सिंह रोड, नई दिल्ली -110001
कार्यालय समय: सुबह 9:30 से शाम 5:30 तक
[Monday to Friday Except Gazetted Holiday]

वेब सूचना प्रबंधक:
Shri Saurabh Kumar Dubey
पदनाम: निदेशक (रुपये / आरएल)
ईमेल आईडी: [email protected]

संपर्क करें

कार्यालय का पता:
ग्रामीण कौशल प्रभाग,
ग्रामीण विकास मंत्रालय,
7 वीं मंजिल, NDCC-II बिल्डिंग,
जय सिंह रोड, नई दिल्ली -110001
कार्यालय समय: सुबह 9:30 से शाम 5:30 तक
[Monday to Friday Except Gazetted Holiday]

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *