नेशनल पेंशन स्कीम (NPS), राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली रजिस्ट्रेशन फॉर्म, Open NPS Account


National Pension Scheme Application, नेशनल पेंशन स्कीम 2021, Open NPS Account Online, राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली एनपीएस क्या है और (NPS) से जुड़े अन्य प्रश्नो के उत्तर आपको इस लेख में दिए जायेंगे। नेशनल पेंशन स्कीम भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक पेंशन योजना है जो के व्यक्ति को रिटायरमेंट के बाद के जीवन में आ रही समस्याओं के समाधान के रूप में प्रदान की गई है। राष्ट्रीय पेंशन योजना को शुरू करने के पीछे सबसे बड़ा उद्देश्य यही है कि प्रत्येक व्यक्ति जो किसी प्राइवेट संस्थानों में काम करता है, एक निश्चित आयु के बाद वह काम करने में सक्षम नहीं होता ऐसे समय में वह बिना किसी रोजगार के अपनी आर्थिक समस्याओं का समाधान कर सके।

इस योजना के तहत कोई भी व्यक्ति आवेदन कर एक निश्चित राशि पेंशन फंड में जमा करवाने पर अपनी रिटायरमेंट की आयु पूरी करने के बाद इस पेंशन योजना का लाभ ले सकता है। आज हम यहां आपको अपने इस लेख में नेशनल पेंशन स्कीम 2021 से संबंधित सभी तथ्यों के बारे में विस्तारपूर्वक बताएंगे जैसे कि नेशनल पेंशन स्कीम क्या है? इसका उद्देश्य लाभ पात्रता मानदंड आवश्यक दस्तावेज एवं आवेदन प्रक्रिया आदि । तो यदि आप भी प्राइवेट कर्मचारी हैं और एनपीएस 2021 से संबंधित सभी जानकारी लेना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

राष्ट्रीय पेंशन योजना 2021

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई राष्ट्रीय पेंशन योजना एक सरकारी निवेश की स्कीम है। इस योजना को शुरू करने के पीछे सरकार का उद्देश्य रिटायरमेंट के बाद पेंशन की सुविधा उपलब्ध कराना है। इस योजना की शुरुआत वर्ष 2004 में की गई थी परंतु तब यह योजना केवल सरकारी कर्मचारियों के लिए ही शुरू की गई थी। इसके बाद वर्ष 2009 में इस योजना में एक परिवर्तन लाया गया और इसे देश के सभी नागरिकों के लिए खोल दिया गया चाहे वह किसी भी केटेगरी से संबंधित हो।

राष्ट्रीय पेंशन योजना

नेशनल पेंशन स्कीम का लाभ लेने के लिए देश के नागरिक को अपने कामकाजी जीवन में कुछ राशि का योगदान अपने पेंशन खाते में करना होगा और इसके बाद इस योगदान के द्वारा वह अपनी रिटायरमेंट के बाद इस योजना का लाभ उठा सकेंगे। इतना ही नहीं व्यक्ति इस पेंशन खाते में अपनी रिटायरमेंट से पहले भी कुछ राशि निकाल सकते हैं और शेष राशि को अपनी रिटायरमेंट के बाद नियमित आय के रूप में प्राप्त कर सकते हैं।

NPS में निवेश का प्लान कुछ इस तरह है जिसमें नियोक्ता और कर्मचारी दोनों को कुछ राशि जमा करानी पड़ती है। वह व्यक्ति जो एनपीएस 2021 के तहत रजिस्टर होता है वह अपने रिटायरमेंट पर कुल राशि का 60% निकाल सकता है और शेष बची हुई 40% राशि उसे पेंशन के रूप में प्रदान की जाती है।

राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली न्यू अपडेट

अब तक नेशनल पेंशन स्कीम के तहत पंजीकृत होने के लिए सरकारी कर्मचारियों को भौतिक विधि का प्रयोग करना पड़ता था। इसमें केंद्र रिकॉर्ड कंपनी एजेंसी या फिर सरकार के नोडल कार्यालय द्वारा अपनाए गए ऑनलाइन मॉड्यूल का पालन करके पंजीकरण किया जाता था। परंतु अब नेशनल पेंशन स्कीम के अंतर्गत पेंशन फंड नियामक और विकास पढ़ीकरण ने ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा भी उपलब्ध करा दी है। अब कोई भी कर्मचारी अपना ऑनलाइन NPS अकाउंट खोल सकता है जिसे e-NPS का नाम दिया गया है। e-NPS को होस्ट करने की जिम्मेदारी सीआरए को दी जाएगी। अब कोई भी व्यक्ति सीआरए के तहत अपना पंजीकरण कर सकता है और एनपीएस के अंतर्गत अपना योगदान भी दे सकता है।

ई-एनपीएस पंजीकरण

कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन नेशनल पेंशन स्कीम के तहत पंजीकरण करवाकर अपना पीआरएएन नंबर जनरेट कर सकता है। यदि आपका एनपीएस अकाउंट पहले से ही खुला हुआ है तो अब आप e-nps के माध्यम से भी अपना योगदान दे सकते हैं और अपना टायर 2 अकाउंट खुलवा सकते हैं। प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले व्यक्ति आधार ऑफलाइन ईकेवाईसी के माध्यम से या पैन कार्ड या बैंक अकाउंट के माध्यम से भी पंजीकरण करवा सकते हैं। ई-एनपीएस के माध्यम से ऑनलाइन योगदान के कुछ मुख्य लाभ है।

  • जैसा कि आप जानते हैं यह एक ऑनलाइन प्रक्रिया है इसलिए इसमें अकाउंट ओपनिंग पर होने वाले खर्च से आपका बचाव होगा।
  • पोर्टल की इस ऑनलाइन सुविधा के द्वारा नोडल अधिकारियों का काम आसान हो जाएगा।
  • अब नामांकन की प्रक्रिया भी पेपर लेस हो जाएगी।
  • कर्मचारियों के अपना फॉर्म खुद भरने से फॉर्म भरने में होने वाले गलती की संभावना कम हो जाएगी।
  • अब क्योंकि नेशनल पेंशन स्कीम के लिए अकाउंट खोलने की प्रक्रिया आसान हो जाएगी इसलिए ज्यादा से ज्यादा लोग अपना एनपीएस अकाउंट खुलवा सकेंगे।

राष्ट्रीय पेंशन योजना की मुख्य विशेषताएं

नामनेशनल पेंशन स्कीम (NPS)
आरम्भ की गईभारत सरकार के द्वारा
वर्ष2021
लाभार्थीभारत के नागरिक
रजिस्ट्रेशन की प्रक्रियाऑनलाइन
लाभरिटायर कर्मचारियों के लिए पेंशन प्रदान करना
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटhttps://www.npscra.nsdl.co.in/

एनपीएस का उद्देश्य

नेशनल पेंशन स्कीम शुरू करने के पीछे सरकार का सबसे बड़ा उद्देश्य यह था कि योजना का लाभ लेने वाले सभी निवेशक रिटायरमेंट के बाद एक पेंशन की राशि प्राप्त कर सके। यह पेंशन की राशि प्राप्त करके सभी रिटायर व्यक्ति आत्मनिर्भरता से जीवन व्यतीत कर सकेंगे और उनकी आर्थिक परेशानियों में भी कमी आएगी। इस योजना के तहत पेंशन प्राप्त करने के लिए आप अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार निवेश कर सकते हैं एवं रिटायरमेंट के बाद आपको आपके निवेश के हिसाब से ही पेंशन प्रदान की जाएगी। कुल 2 तरह के खाते NPS के तहत खुलवाए जा सकते हैं। जिन्हें टायर वन और टायर टू कहा जाता है। आम शब्दों में कहें तो रिटायरमेंट के बाद आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर रहने के लिए राष्ट्रीय पेंशन योजना 2021 सरकार द्वारा उठाया गया एक बड़ा कदम है।

PFRDA आरंभ करेंगी नेशनल पेंशन ई-केवाईसी सर्विसेज

नेशनल पेंशन स्कीम मुख्य रूप से संगठित क्षेत्रों के कर्मचारियों की आवश्यकताओं को पूरा करने के उद्देश्य से शुरू की गई है। अटल पेंशन योजना तथा NPS फंड नियामक तथा विकास प्राधिकरण की दो मुख्य योजनाएं हैं। इन दोनों योजनाओं के पीछे का उद्देश्य असंगठित तथा संगठित क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों की आवश्यकताओं को पूरा करना है। पेंशन फंड नियामक एवं विकास प्राधिकरण ने राष्ट्रीय पेंशन योजना तथा अटल पेंशन योजना के ग्राहकों के लिए ईकेवाईसी की सुविधा आरंभ करने का निर्णय लिया है।

  • राजस्व विभाग में यह सेवा शुरू करने की मंजूरी दे दी है। एनपीएस खाता खोलने की प्रक्रिया ऑनलाइन ईकेवाईसी के माध्यम से और आसान हो जाएगी। इसके साथ ही योजना के लाभार्थियों को योजना के तहत आवेदन करने या प्रोत्साहन राशि प्राप्त करने के लिए किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर नहीं लगाने होंगे। क्योंकि ईकेवाईसी प्रक्रिया की शुरुआत से ही आवेदन की पूरी प्रक्रिया डिजिटल हो जाएगी। इसलिए घर बैठे वे इस योजना का लाभ आसानी से प्राप्त कर सकेंगे।
  • यह प्रक्रिया समय और पैसा दोनों बचाएगी और इसके साथ ही प्रणाली में पारदर्शिता लाने में भी सहायक होगी। पहले नागरिकों को कागजी कार्यवाही की लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ता था परंतु अब वे इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करेंगे एवं लंबी का अगली कार्यवाही की प्रक्रिया से भी बच सकेंगे।
  • पीएफआरडीए ने ओटीपी आधारित प्रमाणीकरण, पेपरलेस ऑनबोर्डिंग, ईसाइन आधारित प्रमाणीकरण, वीडियो ग्राहक पहचान को सुगम बनाने के लिए दुरुस्त ऑनबोर्डिंग, ऑनलाइन निकास उपकरण, सरकारी क्षेत्र के ग्राहकों के लिए ऑनलाइन नामांकन आदि जैसी सुविधाओं को ऑनलाइन उपलब्ध करा दिया है। एनएसडीएल ई गवर्नेंस इंफ्रास्ट्रक्चर को केंद्रीय रिकॉर्ड रखने वाली एजेंसी बना दिया गया है और यह ग्लोबल आधार यूजर एजेंसी के रूप में कार्य करेगी।

राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली खाता खोले | एनपीएस खाता खोलें

आप ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी प्रक्रिया के माध्यम से नेशनल पेंशन स्कीम में अपना खाता खोल सकते हैं। इसके लिए प्रक्रिया नीचे दी गई है।

ऑनलाइन प्रक्रिया

ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया दो टायरों में विभाजित की गई है जो इस प्रकार है।

टायर 1

  • सबसे पहले आपको नेशनल पेंशन सिस्टम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
नेशनल पेंशन स्कीम
नेशनल पेंशन स्कीम
  • यहां आपको नेशनल पेंशन सिस्टम के लिंक पर क्लिक कर देना है और उसके बाद रजिस्ट्रेशन के लिंक को दबाना होगा।
एनपीएस पंजीकरण
  • अब आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा। इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक भरे जैसे एप्लीकेशन टाइप, स्टेटस आफ एप्लीकेंट, रजिस्टर विद, आधार नंबर, मोबाइल नंबर आदि और अकाउंट टाइप में टायर वन ओन्ली।
  • सभी जानकारी भरने के बाद कंटिन्यू का बटन दबाएं। अब आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर कंप्लीट पेंडिंग रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म में मांगी गई सभी आवश्यक जानकारियां भरें जैसे एक्नॉलेजमेंट नंबर, एक्नॉलेजमेंट डेट, फर्स्ट नेम, डेट ऑफ बर्थ, ईमेल एड्रेस, आदि।
  • अंत में सभी जानकारी भरकर सबमिट का बटन दबाएं और आपके सामने एक ईसाइन फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक भरे और सबमिट का बटन दबाएं। इस प्रकार आपके नेशनल पेंशन स्कीम के लिए टायर 1 के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

टियर 1 और 2

  • सबसे पहले आपको नेशनल पेंशन सिस्टम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “अपना एनपीएस खाता खोलें / ऑनलाइन योगदान करें” के लिंक पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • यहां आपको नेशनल पेंशन सिस्टम का विकल्प दिखाई देगा इस विकल्प पर क्लिक करें और उसके बाद रजिस्ट्रेशन का बटन दबाएं।
  • अब रजिस्ट्रेशन फॉर्म आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जाएगा। इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी जैसे एप्लीकेशन टाइप, स्टेटस आफ एप्लीकेंट, रजिस्टर विद, आधार नंबर, मोबाइल नंबर आदि और अकाउंट टाइप में टायर वन और टायर टू आदि भरे।
  • अंत में कंटिन्यू का बटन दबाएं और आपके सामने कंपलीट पेंडिंग रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा। इस फॉर्म में बाकी के बचे हुए सभी आवश्यक जानकारियां जैसे एक्नॉलेजमेंट नंबर, एक्नॉलेजमेंट डेट, फर्स्ट नेम, डेट ऑफ बर्थ, ईमेल एड्रेस, आदि दर्ज करें और सम्मिट का बटन दबाएं।
  • अब आपके सामने ईसाइन फॉर्म होगा जिसमें आपको सभी आवश्यक जानकारियां भरनी होगी।
  • सभी जानकारियां भरने के बाद सबमिट का बटन दबाएं और आपकी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

ऑफलाइन प्रक्रिया

आप नेशनल पेंशन स्कीम के लिए ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। इसके लिए नीचे दिए गए चरणों को ध्यान पूर्वक देखें।

एनपीएस फॉर्म पीडीएफ
  • इस फॉर्म में पूछी गए सभी जानकारी साफ एवं स्पष्ट शब्दों में भरे। सभी जानकारी भरने के बाद इस फॉर्म के साथ सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करें।
  • अब इस संपूर्ण फॉर्म को पीओपी पॉइंट ऑफ प्रोसेस में सबमिट करें। इस फॉर्म के साथ आपको ईकेवाईसी के डाक्यूमेंट्स भी जमा करवाने होंगे।
  • फॉर्म जमा होने के बाद आपको एक रेफरेंस नंबर प्रदान किया जाएगा जिसके माध्यम से आप अपना एप्लीकेशन ट्रैक कर सकते हैं।
  • आवेदन के समय आपको अपनी पहली कंट्रीब्यूशन राशि जमा करवानी होगी और आपको इसके लिए एक इंस्ट्रक्शन स्लिप जमा करनी होगी जिसमें आपकी पेमेंट डीटेल्स होंगी।

सम्पर्क करने का विवरण

कांटेक्ट डिटेल्स देखने के लिए आप नीचे दी गयी चरण दर चरण  प्रक्रिया का पालन करे।

  • सबसे पहले आपको नेशनल पेंशन सिस्टम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “संपर्क करें” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
संपर्क करें
  • इस पेज पर आप कांटेक्ट डिटेल्स की विस्तारपूर्वक जानकारी  देख सकते है।

हेल्पलाइन का विवरण

यहाँ हमने आपको नेशनल पेंशन स्कीम से सम्बंधित विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की गयी है। यदि आपको अभी भी पोर्टल से सम्बंधित किसी समस्या का सामना करना  पड़ रहा है या योजना से सम्बंधित कोई प्रश्न है तो आप नीचे दिया गए संपर्क सूत्र पर संपर्क करके सहायता ले सकते है।

हेल्पलाइन नंबर: 1800110069

यह भी पढ़े – वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना 2021 ऑनलाइन फॉर्म, LIC Varishtha Pension Bima लोन

हम उम्मीद करते हैं की आपको राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (NPS) से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *