डॉ बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना 2021: पंजीकरण और लाभार्थी सूची


बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना लागू | डॉ बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना पंजीकरण | बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना फॉर्म

सरकार द्वारा किसानों की आय को बढ़ाने का निरंतर प्रयास किया जाता है। इसीलिए सरकार द्वारा तरह-तरह की योजनाएं संचालित की जाती है। महाराष्ट्र सरकार द्वारा भी ऐसी ही एक योजना आरंभ की गई है। जिसका नाम डॉ। बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना है। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा किसानों की आर्थिक आय में वृद्धि करने का प्रयास किया जाएगा। यह प्रयास उन्हें कई प्रकार के लाभ प्रदान करके किया जाएगा। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से Babasaheb Ambedkar Krमैंshi स्वावलंबन योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि यह योजना क्या है?,इसके लाभ, उद्देश्य, पात्रता, विशेषताएं, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Table of Contents

बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना

महाराष्ट्र की कृषि विभाग द्वारा डॉ। बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना आरंभ की गई है। इस योजना के माध्यम से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार करने का प्रयास किया जाएगा। यह प्रयास उनको टिकाऊ सिंचाई सुविधाएं प्रदान करके तथा मिट्टी की नमी बनाए रखेंके प्रदान किया जाएगा। इसके लिए उन को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना का लाभ केवल प्रदेश के अनुसूचित जाति तथा नवबौद्ध किसान ही उठा सकते हैं। इस योजना के माध्यम से किसानों के जीवन स्तर में सुधार आएगा और वह आत्मनिर्भर बनेंगे। बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना को 27 अप्रैल 2016 को आरंभ किया गया है। इस योजना को राज्य के सभी जिलों में मुंबई, सिंधुदुर्ग, रत्नागिरी, सतारा, सांगली तथा कोल्हापुर को छोड़कर संचालित किया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता ₹2.5 लाख रुपया से लेकर ₹500 तक की प्रदान की जाती है।

डॉ बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना

नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी योजना

डॉ बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना आवेदन

यदि आप बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आपको आवेदन करने के लिए किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं है। आप घर बैठे आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। इससे समय और पैसे दोनों की बचत होगी तथा प्रणाली में पारदर्शिता आएगी। इसके पश्चात आपको ऑनलाइन आवेदन की प्रति सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ कृषि अधिकारी के पास जमा करनी होगी। यदि आप बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप कृषि अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत चयन प्रक्रिया महा डीबीटी पोर्टल के माध्यम से की जाएगी।

मुख्य विचार का Babasaheb Ambedkar Krमैंshi स्वावलंबन योजना 2021

योजना का नामडॉ। बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना
किस ने लांच कीमहाराष्ट्र सरकार
लाभार्थीप्रदेश के किसान
उद्देश्यकिसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
साल2021
योजना आरंभ होने की तिथि27 अप्रैल 2016
आवेदन का प्रकारऑनलाइन

महाराष्ट्र मुख्यमंत्री सौर कृषि पंप योजना

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना औरंगाबाद के 600 लाभार्थियों को लाभ

महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले से इस योजना के लाभार्थियों का चयन किया गया है। इस योजना के अंतर्गत जिले के लाभार्थियों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा 15 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। इस योजना को कृषि विभाग द्वारा संचालित किया जाएगा। सन 2016 से प्रतिवर्ष इस योजना के अंतर्गत जिले के 400 से 600 किसानों को लाभ पहुंचाया जाता है। कोरोनावायरस संक्रमण के कारण सन 2020–21 में इस योजना को रोक दिया गया था। जिसकी वजह से जिले के 600 लाभार्थियों को लाभ नहीं मिल पाया था। लेकिन अब इस योजना को फिर से आरंभ किया जाएगा। और सन 2021–22 में लगभग 600 किसानों को इस योजना का लाभ पहुंचाया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत 1420 एप्लीकेशन को रिजेक्ट कर दिया गया है तथा इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों का चयन लाटरी के माध्यम से महा डीबीटी पोर्टल पर किया जाएगा।

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना के अंतर्गत प्रदान किए जाने वाले लाभ

  • नए कुओं का निर्माण
  • पुराने कुओं की मरम्मत
  • इंवेल बोरिंग
  • पंप सेट
  • पावर कनेक्शन साइज
  • फार्म ऑन प्लास्टिक लाइनिंग
  • माइक्रो इरिगेशन सेट
  • स्प्रिंकलर इरिगेशन सेट
  • पीवीसी पाइप
  • गार्डन

Babasaheb Ambedkar Krishi Swavalamban के अंतर्गत आर्थिक सहायता

नए कुओं का निर्माण2.50 लाख रुपए
पुराने कुओं की मरम्मत50 हजार रुपए
इंवेल बोरिंग20 हजार रूपए
पंप सेट20 हजार रूपए
पावर कनेक्शन साइज90 हजार रुपए
फार्म ऑन प्लास्टिक लाइनिंग1 लाख रुपए
माइक्रो इरिगेशन सेट50 हजार रुपए
स्प्रिंकलर इरिगेशन सेट25 हजार रूपए
पीवीसी पाइप30 हजार रुपए
गार्डन500 रुपए

महाराष्ट्र बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि योजना का उद्देश्य

Babasaheb Ambedkar Krमैंshi स्वावलंबन योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की आय में वृद्धि करना है। इस योजना के माध्यम से किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। जिससे कि वह कृषि से संबंधित कार्य आसानी से कर सकें। डॉ। बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना के माध्यम से किसान आत्मनिर्भर बनेंगे। यह योजना केवल अनुसूचित जाति तथा नवबौद्ध किसानों के लिए ही है। प्रदेश के किसान सिंचाई से संबंधित कोई भी सुविधा इस योजना के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत ₹2.5 लाख रुपए से लेकर ₹500 रुपए तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • डॉ। बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना को महाराष्ट्र सरकार द्वारा आरंभ किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों की आय में वृद्धि करने का प्रयास किया जाएगा।
  • इस योजना को महाराष्ट्र के कृषि विभाग द्वारा संचालित किया जाएगा
  • आय में वृद्धि टिकाऊ सिंचाई सुविधा प्रदान करके तथा मिट्टी की नमी बनाए रखेंके प्रदान किया जाएगा। जिसके लिए किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ प्रदेश के अनुसूचित जाति तथा नवबौद्घ किसान ही उठा सकते हैं।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों के जीवन स्तर में सुधार आएगा तथा वे आत्मनिर्भर बनेंगे
  • बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना को 27 अप्रैल 2016 को आरंभ किया गया है।
  • यदि आप भी इस योजना के अंतर्गत आवेदन उठाना चाहते हैं तो आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • आपको आवेदन करने के बाद आवेदन की प्रति सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ कृषि अधिकारी के पास जमा करने होंगे।
  • यदि आप इस योजना से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको कृषि अधिकारी से संपर्क करना होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत चयन प्रक्रिया महा डीबीटी पोर्टल के माध्यम से लॉटरी से की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के सभी जिले शामिल हैं। पर मुंबई, सिंधुदुर्ग, रत्नागिरी, सतारा, सांगली तथा कोल्हापुर शामिल नहीं है।
  • कोरोन संक्रमण के कारण सन 2020–21 में इस योजना को रोक दिया गया था। लेकिन अब इस योजना को दोबारा से शुरू किया जा रहा है।

योजना की पात्रता

  • आवेदक महाराष्ट्र का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक अनुसूचित जाति से होना चाहिए।
  • आवेदन के समय आवेदक को अपना जाति प्रमाण पत्र जमा करना होगा।
  • लाभार्थी की सालाना आए 2.5 लाख रुपए या फिर उससे कम होनी चाहिए।
  • कृषि भूमि का 7/12 तथा 8–A प्रति लेख प्रस्तुत करना अनिवार्य है।
  • आवेदन के समय आय का प्रमाण जमा करना भी अनिवार्य है।
  • किसान के पास न्यूनतम 0.20 हेक्टेयर तथा अधिकतम 6.00 हेक्टेयर कृषि भूमि होनी अनिवार्य है। (नई कुए के निर्माण के लिए न्यूनतम 0.40 कृषि भूमि)

महत्वपूर्ण दस्तावेज

कैटेगरीमहत्वपूर्ण दस्तावेज
नए कुओं के लिएसंबंधित विभाग से जाति प्रमाण पत्रतहसीलदार से पिछले वर्ष का आय प्रमाण पत्रकृषि भूमि को 7/12 सर्टिफिकेट तथा 8A ट्रांसक्रिप्टलाभार्थी का एफिडेविटडिसेबिलिटी का सर्टिफिकेटतलाठी से सर्टिफिकेट –कॉमन होल्डिंग एरिया, non-existence ऑफ वेल, प्रपोज्ड वेल सर्वे नंबर मेप एंड बाउंड्रीजग्राउंड वॉटर सर्वे डेवलपमेंट सिस्टम द्वारा प्रदान किया गया पानी की उपलब्धता का प्रमाण पत्रग्राम सभा का रिजर्वेशनएग्रीकल्चर ऑफिसर का फील्ड इंस्पेक्शन तथा रिकमेंडेशन लेटरग्रुप डेवलपमेंट ऑफिसर का रिकमेंडेशन लेटरकाम शुरू होने से पहले का फोटोग्राउंड वॉटर सर्वे डेवलपमेंट सिस्टम द्वारा प्रदान की गई फीजिबिलिटी रिपोर्ट इन वेल बोरिंग के लिए
पुराने कुओं की मरम्मत के लिए/इन्वेल बोरिंगसंबंधित विभाग से जाति प्रमाण पत्रतहसीलदार से पिछले वर्ष का आय प्रमाण पत्रकृषि भूमि को 7/12 सर्टिफिकेट तथा 8A ट्रांसक्रिप्टग्राम सभा का रेजोल्यूशनतलाठी से सर्टिफिकेट –टोटल रिटेंशन एरिया, वेल बीइंग, वेल सर्वे नंबर मेप एंड बाउंड्रीजबेनेफिशरी बॉन्डएग्रीकल्चर ऑफिसर का फील्ड इंस्पेक्शन तथा रिकमेंडेशन लेटरग्रुप डेवलपमेंट ऑफिसर का रिकमेंडेशन लेटरकाम शुरू होने से पहले का फोटोग्राउंड वॉटर सर्वे डेवलपमेंट सिस्टम द्वारा प्रदान की गई फीजिबिलिटी रिपोर्ट इन वेल बोरिंग के लिएडिसेबिलिटी का सर्टिफिकेट
लाइनिंग/पावर कनेक्शन साइज/पंप सेट/माइक्रो इरिगेशन सेट फॉर द फार्मसंबंधित विभाग से जाति प्रमाण पत्रतहसीलदार से पिछले वर्ष का आय प्रमाण पत्रकृषि भूमि को 7/12 सर्टिफिकेट तथा 8A ट्रांसक्रिप्टतलाठी से टोटल रिटेंशन एरिया का प्रमाणग्राम सभा का रिकमेंडेशन या अप्रूवलफार्म लाइनिंग पूरे होने की गारंटीकाम शुरू होने से पहले की फोटोकोई इलेक्ट्रिक कनेक्शन या फिर पंप सेट ना होने की गारंटी

डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको नवीन यूजर लिंक पर क्लिक करना होगा।
बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी जैसे कि आपका नाम, आपके जिले का नाम, तालुका, गांव, पिन कोड आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करके सेंड ओटीपी के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको ओटीपी को ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको रजिस्टर के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।

पोर्टल पर लॉगिन करने की प्रक्रिया

पोर्टल पर लॉगिन
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगइन सेक्शन के अंतर्गत यूजर आईडी, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पोर्टल पर लॉगिन कर पाएंगे।

रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रिपोर्ट के लिंक पर क्लिक करना होगा।
बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना
  • अब आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको साल चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको योजना में डॉ बाबासाहेब आंबेडकर कृषि स्वावलंबन योजना का चयन करना होगा।
  • अब आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको एक्सपोर्ट रिपोर्ट इन पीडीएफ के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • रिपोर्ट आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

संपर्क जानकारी

हमने अपनी इस लेख के माध्यम से आपको डॉ। बाबासाहेब अम्बेडकर कृषि स्वावलंबन योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर 022-49150800 है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *