डाउनलोड करे, Ayushman Bharat Health Card Download


पीएम पब्लिक हेल्थ गोल्डन कार्ड ऑनलाइन, Ayushman Bharat Golden Card, PM Ayushman Bharat Golden Card Download, आयुष्मान भारत जन आरोग्य गोल्डन कार्ड डाउनलोड करने के चरणों की जानकारी आपको इस लेख में दी जाएगी। देश में कोई भी व्यक्ति जिसका नाम आयुष्मान भारत योजना में आता है वह Ayushman Bharat Health Card के माध्यम से भारत सरकार के द्वारा चुने और निजी हॉस्पिटल में 5 लाख तक का मुफ्त इलाज करवा सकते हैं।

इस गोल्डन हेल्थ कार्ड के माध्यम से उन गरीब परिवारों को लाभान्वित किया जायेगा जो परिवार अपनी आर्थिक स्थिति के कारण स्वास्थ्य सेवाएं प्राप्त नहीं कर सकते हैं। भारत सरकार द्वारा अभी हाल ही में आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया की शुरुआत की है। आप जन आरोग्य कार्ड के लिए आवेदन करने के बाद स्वर्ण कार्ड को डाउनलोड भी कर सकते है और प्रिंट भी निकाल सकते हैं।

पीएम जन आरोग्य कार्ड 2021 – आयुष्मान भारत / जन आरोग्य कार्ड ऑनलाइन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड की शुरुआत गरीब परिवारों के लोगो को मुफ्त में  सेवाएं प्रदान करने के उद्देश्य से की गयी है। आयुष्मान भारत स्वर्ण कार्ड उन लोगो को दिया जायेगा जिनका नाम सार्वजनिक स्वास्थ्य लाभार्थियों की सूची में आएगा। देश के वह सभी लोग जो आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवाना चाहते है वह अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र में जाकर लाभार्थी सूची की जांच कर सकते है। आप जन सेवा केंद्र से ही आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड के लिए आवेदन और डाउनलोड भी कर सकते हैं।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड

आपको बता दे की भारत सरकार के निर्देशों के बाद आयुष्मान भारत जन आरोग्य कार्ड के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। आप अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र के माध्यम से PMJAY गोल्डन कार्ड के लिए आवेदन तथा डाउनलोड भी कर सकते है। यहाँ इस लेख में हम आपको स्वर्ण कार्ड बनवाने की प्रकिया, इससे जुडी जानकारी तथा अन्य विवरा प्रदान करेंगे। आपसे अनुरूष है की आप इस लेख को शुरू से अंत तक पूरा पढ़े।

पीएम जन आरोग्य योजना 2021

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत पहले 1350 से अधिक उपचार जैसे: – सर्जरी, मेडिकल डे केयर ट्रीटमेंट ,डायग्रोस्टिक आदि को शामिल किया गया था जिसे अब बढ़ाकर 19 अन्य आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक, यूनानी तथा योग उपचार को पैकेज में शामिल किया गया है। देश के गरीब तबके के लोग अपना गोल्डन कार्ड बनवाकर निजी और सरकारी अस्पतालों में मुफ्त स्वास्थ्य सेवाएं प्राप्त कर सकते हैं।

इस योजना के शुरुआत के बाद गरीब परिवारों किसी गंभीर बिमारी का शिकार होने की स्थिति में 5 लाख तक का मुफ्त हेल्थ कवर प्राप्त कर सकते हैं। केंद्र सरकार द्वारा राज्यों सरकारों के सहयोग से कुछ निजी और सरकारी अस्पतालो को चिन्हित किया गया है। इन अस्पतालों में आपसे पब्लिक हेल्थ गोल्डन कार्ड उपलब्ध होने की स्थिति में किसी भी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जायेगा।

आयुष्मान भारत योजना 2021

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा वर्ष 2018 में राष्टीय स्वास्थ्य मिशन के तहत Ayushman Bharat Yojana की शुरुआत की गयी है। इस योजना के तहत गरीब परिवारों को गोल्डन कार्ड प्रदान किये जाते हैं। इन स्वर्ण कार्ड के माध्यम से आप गंभीर बिमारी की स्थिति में चयनित अस्पतालों में 5 लाख तक का मुफ्त हेल्थ कवर (इलाज) करवा सकते हैं। इस योजना को ओबामा केयर के बाद सब बड़ी स्वास्थ्य योजना माना गया है।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड न्यू अपडेट

उत्तराखडं राज्य के मुख्य सचिव कार्मिक राधा रतूड़ी की अध्यक्षता में रोडवेज कर्मियों की एक बैठक का आयोजन किया गया इस बैठक में मुख्य सचिव के द्वारा कहा गया की उत्तराखंड के सभी सार्वजानिक निगमों के कर्मचारियों को दिसम्बर तक आयुष्मान भारत योजना के तहत जन आरोग्य कार्ड उपलब्ध करा दिए जायेंगे। वैश्चिक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते बायोमेट्रिक प्रक्रिया में देरी हो रही है।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड जारी किये जाने का उद्देश्य

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत सरकार का उद्देश्य देश के गरीबी रेखा से नीचे जीवा-यापन करने वाले परिवारों को 5 लाख तक का मुफ्त हेल्थ कवर मुहैया कराना है। हमारे देश में अनेको गरीब अलग गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं, पैसे की कमी के चलते वह स्वास्थ्य सेवाएं प्राप्त नहीं कर पाते है। इसी समस्या को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की गयी है। पीएम जन आरोग्य योजना के तहत सालाना देशभर में 10 करोड़ से अधिक लोगो को स्वास्थ्य लाभ प्राप्त हो रहा है।

आयुष्मान भारत जन आरोग्य कार्ड

देश के गरीब लोगों के लिए, जो आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण अपनी बीमारी का इलाज नहीं करा पा रहे हैं और अपनी बीमारी से जूझ रहे हैं, भारत सरकार ने उन सभी गरीब लोगों के लिए आयुष्मान भारत स्वर्ण कार्ड को इस स्वर्ण कार्ड को बनाने का आदेश दिया है। इसके माध्यम से, वह अपनी सबसे बड़ी बीमारी का इलाज मुफ्त में कर सकता है, सरकार उन लोगों को 5 लाख तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान कर रही है।

लोग इस योजना के तहत अपना स्वर्ण कार्ड बहुत आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड देश के हर ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में बनाए जा रहे हैं, जिन लोगों ने अभी तक गोल्ड कार्ड नहीं बनवाए हैं, वे जल्द से जल्द बनवा लें। इस गोल्डन कार्ड के माध्यम से सरकार द्वारा लाभार्थी को 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा दिया जा रहा है, जिसके तहत लाभार्थी 5 लाख रुपए तक का इलाज मुफ्त करवा सकता है।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो

आयुष्मान भारत गोल्डन हेल्थ कार्ड प्राप्त करने के लिए पात्रता कि जांच कैसे करे?

वह सभी लोग जो नीचे दी गयी Ayushman Bharat Golden Card की पात्रता सूची में शामिल किये जायेंगे उन्हें ही जन आरोग्य कार्ड का लाभ दिया जायेगा। यहाँ आपको आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड की पूरी प्रकिया दी गयी है।

  • सबसे पहलेआपको आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको दिए गए स्थान में पंजीकृत मोबाइल नंबर भरकर “ओटीपी जनरेट करें” के बटन पर क्लिक कर देना है। इसेक बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा।
  • आपको इस ओटीपी को दिए गए स्थान में भरकर अपने “प्रस्तुत” कर देना है। इसके बाद आपके सामने कुछ विकल्प दिखाई देंगे।
    • मोबाइल नंबर से
    • राशन कार्ड के द्वारा
    • RSBI द्वारा यू.आर.एन.
  • अपनी इच्छा के अनुसार किसी एक विकल्प का चयन करके पूछी गयी सभी जानकारियों को भर दे। अब आपकी कंप्यूटर और मोबाइल स्क्रीन पर परिणाम दिखाई देंगे।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड कैसे डाउनलोड करे?

वह सभी जिनका नाम जन आरोग्य हेल्थ कार्ड सूची में आया है वह Ayushman Bharat Golden Card जनसेवा केंद्र अथवा डीएम कार्यालय से प्रिंट करवा सकते हैं। हालांकि आप गोल्डन आक्रद को वही से डाउनलोड कर सकते हैं जहा से अपने इसे बनवाया है अथवा जिस एजेंट से बनवाया है। इसेक लिए आपको दिए गए चरणों का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
Ayushman Bharat Health Card
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “लॉग इन करें” का विकल्प दिखाई देगा। आपको सी विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको दिए गए स्थान में ईमेल आईडी और पासवर्ड डालकर “साइन इन करें” के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • आपके सामने का नया पेज खुल जायेगा, यहां आपको दिए गए स्थान में अपना आधार नंबर भरकर अंगूठे के निशान मो वेरीफाई करना होगा।
  • आपके अंगूठे के वेरीफाई होने के बाद आपको कुछ और ऑप्शन दिखाई देंगे। इसमें से आपको अप्रूवड बेनिफिशियरी के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपका गोल्डन कार्ड अप्रूवड हो जायेगा।
  • इसके बाद आपको अल लिस्ट दिखाई देगी, यहाँ अपना नाम देखे और कंफर्म प्रिंट के ऑप्शन पर क्लिक कर दे। आपके द्वारा ऑप्शन पर क्लिक किये जाने के बाद आप जन सेवा केंद्र वेलेट पर रीडायरेक्ट हो जायेंगे।
  • अब आपको CSC वेलेट में लॉगिन करने के लिए अपना पासवर्ड और वालेट पिछ भर देना है। इसके बाद आप होमपेज पर जाये और केंडिडेट के नाम के आगे डाउनलोड कार्ड के बटन पर क्लिक कर दे।

अब आपका आयुष्मान भारत गोल्ड कार्ड डाउनलोड हो जायेगा। इस तरह आपका आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड डाउनलोड हो जायेगा।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड कैसे बनवाये?

वह सभी इच्छुक आवेदक जो आयुष्मान भारत हेल्थ कार्ड (PMJAY) बनवाना चाहते हैं उन्हें दिए गए आसान से चरणों को फॉलो करना होगा। आप निम्न दो तरीको के द्वारा गोल्डन कार्ड को डाउनलोड कर सकते है।

जनसेवा केंद्रों के माध्यम से

  • इसके लिए आपको सबसे पहले अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र में जाना होगा। यह जनसेवा केंद्र के कर्मचारी के द्वारा आयुष्मान भारत योजना की सूची में देखा जायेगा।
  • अगर आपका नाम सूची में आता है तब आपको आयुष्मान गोल्डन हेल्थ कार्ड दे दिया जायेगा।
  • इसके बाद आपको कुछ दस्तावेजों जैसे: – आधार कार्ड ,राशन कार्ड, पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि को जन सेवा केंद्र के एजेंट को ले जाकर देना होगा।
  • अब जनसेवा कर्मचारी के द्वारा आपका सफलतापूर्वक पंजीकरण कराया जायेगा और एक पंजीकरण आईडी दी जाएगी।
  • आपको जनसेवा केंद्र से 10 से 15 दिनों में आयुष्मान हेल्थ कार्ड दिया जायेगा। आपको गोल्डन कार्ड के लिए 30 रूपये की फीस देनी होगी।

पंजीकृत और निजी हॉस्पिटलों के माध्यम से

  • सबसे पहले आपको अपने नजदीकी  निजी या सरकारी अस्पतालों में अवहसिका दस्तावेजों जैसे: – आधार कार्ड ,राशन कार्ड, पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि को साथ ले जाना है।
  • सीके बाद आपका नाम  जन आरोग्य हेल्थ योजना की सूची जांचा जायेगा। इस सूची में आने के बाद ही आपको आयुष्मान कार्ड प्रदान किया जायेगा।

यह भी पढ़े – प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फॉर्म

हम उम्मीद करते हैं की आपको आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

पूछे गए प्रश्नों के उत्तर

आयुष्मान भारत योजना के लाभ क्या
है?

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से कोई भी नागरिक जिसके पास Ayushman Bharat Golden Card है उसे 500,000 {पांच लाख} तक की मुफ्त स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जाएँगी। इस योजना के तहत गंभीर बीमारियों जैसे :-कैंसर, दिल की बीमारी, किडनी, लीवर, डायबिटीज समेत करीब 13 सौ से अधिक बीमारियों का इलाज कराया जा सकता है। इस योजना के लागु होने के बाद अब किसी भी गरीब को इलाज के बिना मरने की नौबत नहीं आएगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *