ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, GOBAR- Dhan आवेदन स्थिति


GOBAR- Dhan Yojana Apply | गोबर-धन योजना क्या है | गोबर-धन योजना एप्लीकेशन स्टेटस | GOBAR- Dhan Yojana In Hindi

में जानकारी आपको इस लेख में दी जाएगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मासिक संबोधन मन की बात में राष्ट्र के लिए 2018-19 के बजट में घोषित गोबर धन योजना (गैल्वनाइजिंग ऑर्गेनिक बायो-एग्रो रिसोर्सेज) के रोल-आउट का उल्लेख किया है। योजना के तहत, खेत के गोबर और अपशिष्ट उत्पादों को खाद, जैव-गैस और जैव-सीएनजी में परिवर्तित किया जाएगा। सभी आवेदक जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंडों को ध्यान से पढ़ें। उसके बाद आप योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। यहां हम आपको GOBAR Dhan Yojana के बारे में बताने जा रहे हैं। यहां हम आपको अपने लेख में गोबर धन योजना 2021, योजना के लाभ, पात्रता मानदंड, योजना की प्रमुख विशेषताएं, आवेदन की स्थिति और आवेदन प्रक्रिया जैसी   जानकारी प्रदान करेंगे, इसलिए इस लेख को अंत तक बहुत ध्यान से पढ़ें|

GOBAR Dhan Yojana 2021

केंद्र सरकार ने GOBAR Dhan Yojana 2021 की शुरुआत की है। गोबर धन योजना में  बायो-गैस और बायो -सीएनजी की रचना करने के लिए पशुओं के गोबर और ठोस कचरे को परिवर्तित करने पर ध्यान केंद्रित किया गया है। इस योजना के कार्यान्वयन के साथ, सरकार कचरे को ऊर्जा में परिवर्तित करने के अलावा किसानों को अधिक आत्मनिर्भर बनाने के लिए भी कार्य करेगी। गोवर्धन योजना के लागू होने से किसान ऊर्जा के लिए आत्मनिर्भर हो जाते हैं। केंद्र सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में अपशिष्ट पदार्थों को परिवर्तित करने के लिए यह एक बड़ी पहल की है। गोबर-धन योजना के तहत, सरकार का उद्देश्य किसानों और घर को आर्थिक और संसाधन लाभ प्रदान करना है। यह स्वच्छ भारत मिशन के साथ स्वच्छ गांवों को भी स्पोर्ट करेगा। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में अपने विचारों का परिचय दिया और 25 फरवरी 2018 को 41वें मन की बात कार्यक्रम में, किसानों को कचरे को खाद, जैव-गैस और जैव द्वंद्व में परिवर्तित करने के लिए कहा। इससे प्रदूषण भी कम होगा और किसानों के लिए अतिरिक्त आय होगी।

GOBAR Dhan Yojana 2021

उज्ज्वला योजना बीपीएल नई सूची 2021

गोबर-धन योजना क्या है?

क्या आपके मन में भी यही प्रश्न है कि यह गोबर-धन योजना क्या है? चलिए हम आपको इस योजना के बारे में विस्तार से बताते हैं कि यह योजना क्या है किस प्रकार कार्य करेगी और इसके क्या लाभ होंगे| इस योजना के द्वारा पशुओं के मल और अपशिष्ट पदार्थों जैसे पशु अपशिष्ट या खेत के ठोस अपशिष्ट जैसे चूरा, पत्ते, आदि को खाद, बायोगैस या जैव सीएनजी में परिवर्तित किया जाएगा, जिससे किसानो को बहुत फायदा होगा। गोवर्धन यानी गैल्वनाइजिंग ऑर्गेनिक बायो एग्रो रिसोर्स धन योजना का लक्ष्य गोबर से गैस का उत्पादन करना है। इस योजना का उद्देश्य ग्रामीणों के लिए कचरे से आय बनाकर कचरे को सोने में परिवर्तित करना है।

गोबर धन योजना जनवरी अपडेट

केंद्र सरकार ने सरकार ने  गौ के गोबर के उपयोग करने के लिए गोबर-धन योजना शुरू की गई है। गोबर खाद योजना के तहत शाहजहांपुर में 90 मीटर टन क्षमता का संयंत्र स्थापित किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत गाय के गोबर को किसानों से खरीदा जाएगा और संयंत्र में पहुंचाया जाएगा। 2018 में, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किसानों को इस योजना  के लिए आमंत्रित किया गया था और फिर इस योजना के तहत काम को बढ़ाया गया। गोबर से उत्पादित मीथेन गैस को गोबर र्धन योजना के तहत सीएनजी में परिवर्तित किया जाएगा और ईंधन के रूप में  इसका उपयोग किया जाएगा। गोबर धन योजना के सञ्चालन की निगरानी राज्य स्तर पर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित एक समिति करेगी और योजना के तहत प्राप्त गोबर को जिला स्तर पर डीएम की अध्यक्षता में बेचा जाएगा।

  • GOBAR- Dhan Yojana 2021, पंचायती राज निदेशालय द्वारा संचालित की जाएगी और योजना की नोडल एजेंसी, पंचायती राज निदेशालय होगी।
  • किसानों की आय गोबर योजना के माध्यम से बढ़ेगी और योजना के अंतर्गत बनाई गयी बायोगैस खाना पकाने और रोशनी के लिए ईंधन प्रदान करेगी और स्वच्छता बनाए रखने में भी मदद करेगी।

गोबर धन योजना का उद्देश्य

गोबर-धन योजना का उद्देश्य मवेशियों के गोबर और ठोस कचरे को खेतों में खाद, जैव-घोल, जैव-गैस और जैव-सीएनजी के प्रबंधन और परिवर्तित करना है। यह पहल जैव-अपशिष्ट अपशिष्ट की वसूली और संसाधनों में कचरे के रूपांतरण का समर्थन करेगी। GOBAR Dhan Yojana के कार्यान्वयन का उद्देश्य गोबर और अन्य ठोस अपशिष्टों को खाद, जैव-गैस और जैव-सीएनजी में बदलकर उपयोग में लाना है। योजना के द्वारा उपचार संयंत्रों में रोजगार प्रदान करके ग्रामीण महिलाओं को सशक्त बनाया जायेगा। इसके लिए महिलाएं स्वयं सहायता समूह में शामिल हो सकती हैं और कचरे को एकत्र कर योजना के अंतर्गत कार्य ईंधन उत्पन्न कर सकती हैं। ईंधन उत्पन्न करने के लिए कचरे का उपयोग करके गांवों में स्वच्छता को भी बढ़ावा मिलेगा एवं गांवों की आर्थिक संरचना बढ़ेगी।

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना

गोबर धन योजना स्टैटिसटिक्स

आवेदन/डीपीआर स्वीकृति की प्रतीक्षा में198
उन गांवों की संख्या जहां आवेदन/डीपीआर प्राप्त हुए हैं320
आवेदन/डीपीआर स्वीकृत११८
आवेदन/डीपीआर ब्लॉक द्वारा स्वीकृत170
आवेदन/डीपीआर अस्वीकृत14
गठित एसटीएसी की संख्या23
पैनल में शामिल तकनीकी एजेंसी की कुल संख्या130
प्राप्त आवेदन/डीपीआर३४१

GOBAR Dhan Yojana के लाभ

  • इस योजना के तहत खाद, बायोगैस या बायो सीएनजी बनाने के लिए जानवरों के मल या ठोस अपशिष्ट पदार्थ जैसे चूरा, पत्ते आदि का उपयोग किया जाएगा।
  • GOBAR Dhan Yojana का लाभ देश के ग्रामीण क्षेत्रों के किसानों को मिलेगा।
  • देश में इस योजना के आने से प्रदूषण कम होगा और किसानों की आय भी बढ़ेगी।
  • इस योजना के तहत, पशुओं के गोबर और खेतों के ठोस अपशिष्ट पदार्थों को किसानों से खरीदा जाएगा और बायोगैस में बदला जाएगा।
  • गोबर-धन योजना 2021 के तहत केंद्र सरकार ने किसानों की आय को दोगुना करने के लिए, एक ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया है, जिस पर ग्रामीण क्षेत्रों के किसानों को पंजीकरण करना होगा।
  • योजना के तहत, ग्रामीण क्षेत्रों में बायोगैस  के लिए संयंत्रों को व्यक्तिगत, सामुदायिक, स्वयं सहायता समूहों या गोशाला जैसे गैर सरकारी संगठनों के स्तर पर स्थापित किया जा सकता है।

गोबर-धन योजना 2021 की विशेषताएं

  • गोबर-धन योजना को अप्रैल 2018 में स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण द्वारा लॉन्च किया गया था।
  • वर्तमान में, योजना के अंतर्गत प्रत्येक जिले में एक क्लस्टर का निर्माण करते हुए, लगभग 700 क्लस्टर स्थापित करने की योजना है।
  • इस योजना के तहत जैव-ऊर्जा मूल्य श्रृंखला की सभी श्रेणियों में छोटे और बड़े पैमाने पर परिचालन को शामिल करते हुए विभिन्न व्यावसायिक मॉडल विकसित किए जा रहे हैं।
  • योजना का उद्देश्य मवेशियों के गोबर और ठोस कचरे को खेतों में खाद, जैव-घोल, जैव-गैस और जैव-सीएनजी का प्रबंधन और परिवर्तित करना है।
  • यह पहल जैव-अपशिष्ट और अपशिष्ट की वसूली और संसाधनों में कचरे के रूपांतरण का समर्थन करेगी।
  • GOBAR-DHAN योजना के दिशा-निर्देशों को भी लॉन्च किया गया, जिसमें योजना, कार्यान्वयन व्यवस्था, वित्तपोषण प्रावधान और केंद्र, राज्य सरकारों, जिलों और योजना के कार्यान्वयन में शामिल अन्य हितधारकों की भूमिकाएं और जिम्मेदारियां शामिल हैं।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना 2021

गोबर धन योजना 2021 पात्रता एवं आवश्यक दस्तावेज

  • केवल  देश के ग्रामीण क्षेत्रो में रहने वाला व्यक्ति ही योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकता है।
  • गोबर धन योजना के अंतर्गत केवल किसानो को ही पात्र मानकर योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • आवेदक को आवेदन के लिए नीचे  दिए गए दस्तावेजों की आवश्यकता होगी :
    • आवेदक का आधार कार्ड
    • निवास प्रमाण पत्र
    • मोबाइल नंबर
    • ईमेल आईडी
    • पासपोर्ट साइज फोटो

GOBAR Dhan Yojana 2021 Application Process

आप दिए गए आसान से चरणों के द्वारा गोबर धन योजना के लिए आवेदन की प्रकिया को पूरा कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको गोबर-धन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट के होमपेज खुल जायेगा।
गोबर-धन योजना 2021
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “रजिस्ट्रेशन” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जयेगा।
Gobar Dhan Yojana
  • इस नए पेज पर आपको गोबर-धन योजना का  एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा। इस फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरे जैसे  पर्सनल डिटेल्स , एड्रेस  डिटेल्स , रजिस्ट्रेशन  डिटेल्स आदि।
  • जानकारी भरने के बाद सबमिट का बटन दबाये और आपकी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
  • अंत में आपको एक रजिस्ट्रेशन संख्या प्राप्त होगी इसे आगे के लिए संभल कर रखे।

गोबर-धन योजना 2021 लॉगिन प्रक्रिया

आप नीचे दी गयी प्रकिया के द्वारा गोबर-धन योजना में रजिस्ट्रेशन के बाद पोर्टल पर लॉगिन भी कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको गोबर-धन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट के होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “लॉगिन” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जयेगा।
  • इस नए पेज पर आपको गोबर-धन योजना का  लॉगिन फॉर्म दिखाई देगा। इस फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरे जैसे  यूजरनाम, पासवर्ड और कैप्चा कोड।
  • जानकारी भरने के बाद लॉगिन का बटन दबाये और आप पोर्टल पर लॉगिन हो जायेंगे।

User Manual डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पेयजल और स्वच्छता विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट के होमपेज खुल जायेगा। वेबसाइट के होमपेज पर आपको यूजर मैन्युअल टैब पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने यूजर मैन्युअल खुल जायेगा, आप इसे यहां से डाउनलोड भी कर सकते हैं।

यह भी पढ़े – स्वच्छ सर्वेक्षण 2021, MyGov.in Swachh Survekshan लाभ व सभी जानकारी

हम उम्मीद करते हैं की आपको गोबर-धन योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

पूछे गए प्रश्नों के उत्तर

गोबर-धन योजना क्या है?

इस योजना के तहत सरकार जैविक अपशिष्ट की खरीद करने के बाद उसे रीसायकल करके उसकी खाद एवं कम्पोस्ट/बायो गैस बनाएगी।

केंद्र सरकार की गोबर धन योजना का लाभ किसे दिया जायेगा?

इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र के किसानों को लाभान्वित किया जायेगा

गोबर–धन योजना से क्या लाभ है?

केंद्र सरकार की गोबर धन योजना से किसानों की आय में भी वृद्धि होगी साथ ही ग्राणीण क्षेत्रों में स्वच्छता भी बनी रहेगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *