ऑनलाइन चेक, जमीन रजिस्ट्री नियम व फीस


बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री: बिहार ई पंजीकरण ऑनलाइन, बिहार संपत्ति पंजीकरण, बिहार प्रॉपर्टी-जमीन रजिस्ट्री, प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन बिहार और अन्य जानकारी आपको इस लेख में दी जाएगी। आप सभी जानते हैं कि हर सरकारी डिपार्टमेंट के डिजिटलीकरण की प्रक्रिया सरकार द्वारा तेजी से लागू की जा रही है और इसके अंतर्गत बहुत सी सरकारी सुविधाएं ऑनलाइन की जा रही हैं। इसी के चलते, बिहार सरकार ने बिहार संपत्ति पंजीकरण पोर्टल शुरू की है। आम जनता को इसका यह लाभ रहता है कि अब उन्हें बहुत से सरकारी कार्यों के लिए किसी सरकारी दफ्तर के चक्कर नहीं लगाने पड़ते और घर बैठे ऑनलाइन माध्यम से बहुत से सरकारी कार्य हो जाते हैं।

आज हम यहाँ आपको अपने इस लेख में बिहार प्रॉपर्टी रजिस्ट्री से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी देंगे, जैसे; बिहार संपत्ति पंजीकरण क्या है?, इसके लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, संपत्ति के पंजीकरण की ऑनलाइन प्रक्रिया, आदि।  तो, अगर आप बिहार राज्य से सम्बंधित है और बिहार प्रॉपर्टी रजिस्ट्री से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप सही जगह है। हमने आपकी सुविधा के लिए ही इस लेख में सभी जानकारी प्रदान की है।  तो इस लेख को अंत तक ध्यान से पढ़े और योजना से सम्बंधित सभी जानकारी देखे।

बिहार प्रॉपर्टी रजिस्ट्री

सरकार द्वारा बिहार प्रॉपर्टी रजिस्ट्री पोर्टल शुरू किया गया है। अब बिहार के नागरिक इस पोर्टल के माध्यम से अपनी जमीन के पंजीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अब उन्हें  अपनी जमीन की रजिस्ट्री कराने के लिए किसी सरकारी कार्यालय के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। वे अपनी संपत्ति घर से पंजीकृत करवा सकते हैं। यह सुविधा से समय और धन दोनों बचाएगी और प्रणाली में पारदर्शिता लेन में सहायक होगी। Bihar Property Registration पोर्टल को ई रजिस्ट्रेशन ऑफ प्रॉपर्टी नाम भी दिया गया है।

बिहार राशन कार्ड लिस्ट 2021

इस पोर्टल के माध्यम से संपत्ति को पंजीकृत करने के साथ-साथ संपत्ति से संबंधित पूरी जानकारी भी प्राप्त की जा सकती है। कई बार भू-माफिया जमीन पर कब्जा कर लेते हैं और ऐसी स्थिति में जमीन के असली मालिक के पता लगाना मुश्किल होता है। अब इस पोर्टल के माध्यम से जमीन के असली मालिक के बारे में जानकारी प्राप्त करना आसान हो गया है। बिहार संपत्ति पंजीकरण पोर्टल को ई-सेवा पोर्टल के रूप में भी जाना जाता है।

बिहार संपत्ति पंजीकरण का उद्देश्य

बिहार सरकार ने बिहार के नागरिकों को अच्छी सुविधा प्रदान करने के लिए यह बिहार संपत्ति पंजीकरण शुरू किया है ताकि बिहार के नागरिक इस सुविधा का ऑनलाइन लाभ उठा सकें। इस पोर्टल के माध्यम से, बिहार के नागरिक घर बैठे अपनी जमीन या संपत्ति का पंजीकरण ऑनलाइन कर सकते हैं। अब उन्हें इसके लिए रजिस्ट्रार कार्यालय के चक्कर लगाने की आवश्यकता नहीं होगी। इसके लिए बस आपको इसकी ऑनलाइन सुविधा के पोर्टल पर क्लिक करना होगा और आप आसानी से इस पर अपनी जमीन या संपत्ति को पंजीकृत कर सकेंगे।

बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

ई सेवा पोर्टल के ऑनलाइन  पंजीकरण के लिए आप नीचे दिए गए चरणों को फॉलो कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको बिहार संपत्ति पोर्टल रजिस्ट्री की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको मेन्यू में “ई-सर्विसेज” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको लैंड रजिस्ट्रेशन का विकल्प दिखाई देगा इस लिंक पर क्लिक करे।
  • सामने एक लॉगिन फॉर्म खुल जायेगा यहाँ आपको अपनी लॉगिन आईडी बनाने के लिए ईमेल आईडी और फोन नंबर भरना होगा।
  • जानकारी भरने के बाद OTP द्वारा अपना अकाउंट वेरीफाई करे और पोर्टल पर लॉगिन करे।
  • अब आपको एक और फॉर्म दिखाई देगा,  मांगू गयी सभी जानकारी ध्यान से भरे और आवश्यक दस्तावेज अपलोड करे।
  • दस्तावेज अपलोड करने के बाद आपको फीस का भुगतान करना होगा जिसकी प्रक्रिया निचे दी गयी है।

ई-रसीद डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको बिहार संपत्ति पोर्टल रजिस्ट्री की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको मेन्यू में “ई-सर्विसेज”के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • अब आपको इस पेज में “ई-रसीद” का विकल्प दिखाई देगा, इसके बाद आपको इस विकल्प पर क्लिक देना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, इस पेज  पर आपको एक पीडीऍफ़ फॉर्मेट में फॉर्म दिखाई देगा।
  • इसके बाद आपको इस फॉर्म को डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक  के इसे डाउनलोड कर लेना है |
  • इस तरह आप e-Receipt Form डाउनलोड कर सकते है |

भूमि की जानकारी देखने की प्रकिया

  • सबसे पहले आपको बिहार संपत्ति पोर्टल रजिस्ट्री की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको ई-सर्विसेज के विकल्प पर क्लिक कर देना है। अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इसके बाद आपके सामने कुछ विकल्प आए होंगे, अब आपको Bhumi Jaankari के विकल्प पर क्लिक करना होगा |
  • जैसे ही आप क्लिक करेंगे तो आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, इस पेज में पूछी गई सभी जानकारी को भरना होगा |
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक कर देना है, और अब आपके सामने भूमि की सभी जानकारी आ जाएगी |

सोसाइटी रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको बिहार संपत्ति पोर्टल रजिस्ट्री की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको मेन्यू में “ई-सर्विसेज” के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको सोसाइटी / फिर्म रजिस्ट्रेशन का विकल्प दिखाई देगा इस विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा,  अब आपको इस पेज में रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • आपके द्वारा क्लिक करने के बाद एक फॉर्म खुल जाएगा, इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी भरनी होगी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस तरह आप सोसाइटी रजिस्ट्रेशन कर सकते है।

बिहार संपत्ति संपत्ति रजिस्ट्री शुल्क

रजिस्ट्री शुल्क का भुगतान करने के 2 तरीके हैं, सबसे पहले आप अपने पंजीकरण फॉर्म को डाउनलोड और प्रिंट कर सकते हैं और इसे बैंक में दिखाकर  फीस का भुगतान  कर सकते हैं। दूसरा तरीका यह है कि आप क्रेडिट कार्ड के माध्यम से ऑनलाइन प्रक्रिया द्वारा पोर्टल पर भी  फीस जमा कर सकते हैं, जिसमे पैसा आपके खाते से काट लिया जाएगा और फिर उस पोर्टल से आपको रजिस्ट्री कार्यालय में जाने के समय की जानकारी मिलेगी।

बिहार लेबर कार्ड

रजिस्ट्री ऑफिस में मांगे जाने वाले डॉक्यूमेंट

  • फॉर्म-4 के साथ
  • संपत्ति के खरीदार और विक्रेता दोनों का पहचान प्रमाण पत्र
  • फॉर्म-13,
  • संपत्ति के खरीदार और विक्रेता दोनों  के पैन कार्ड
  • फॉर्म 60/61
  • ई-फिलिगं रसीद दोनों होना भी आवश्यक है।

इन सभी दस्तावेजों को जमा करने के बाद, आपका पंजीकरण पूरा हो जाएगा।

यह भी पढ़े – Bihar Apna Khata | भूलेख बिहार, भूमि नक्शा, खसरा खतौनी, जमाबंदी, Land Records

हम उम्मीद करते हैं की आपको बिहार संपत्ति संपत्ति रजिस्ट्री से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है। यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *