ऑनलाइन आवेदन, CG Godhan Nyay, रजिस्ट्रेशन फॉर्म


छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना आवेदन, सीजी गोधन न्याय योजना ऑनलाइन, Chhattisgarh Godhan Nyay Yojana Application Form, गोधन न्याय योजना लाभ व पात्रता मानदंडों की जानकारी आपको इस लेख में दी जाएगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा किसानो को आय के अतिरिक्त अवसर प्रदान करने के लिए छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना नाम से एक नयी योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा पशुपालक किसानो से उनके दूधिया पशु के गोबर को खरीदने का कार्य किया जायेगा। Godhan Nyay Yojana के तहत किसानो द्वारा ख़रीदे गए गोबर का इस्तेमाल वर्मी कंपोस्ट खाद बनाने में किया जायेगा।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार राज्य में पशुपालको की आय में वृद्धि करने के लिए गोबर की खरीद हेतु एक योजना के साथ आयी है। छत्तीसगढ़ सरकार अब गायों के लिए भी काम कर रही है, जिसका सीधा लाभ पशु पालने वालो को होगा और इसी लिए गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ का एलान किया गया है।  CG गोधन न्याय योजना का लाभ जो भी किसान उठाना चाहते हैं उन्हें इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना आवश्यक है। इस लेख में हम छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के ऑनलाइन आवेदन, पात्रता एवं आवश्यक दस्तावेजों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे।

CG Godhan Nyay Yojana Apply

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना का आयोजन छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भुपेश बघेल जी द्वारा किया गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेलपहली बार इस योजना के अंतर्गत 21 जुलाई 2020 को पहली बार गोबर खरीद की प्रकिया की शुरुआत करेंगे। राज्य सरकार द्वारा शुरू की गयी इस योजना के माध्यम से किसानो और पशु पालन करने वाले नागरिको की आय में वृद्धि होगी, और गोबर के दाम मिलने से कोई गाय को बाहर खुला नहीं छोड़ पायेगा।

CG Godhan Nyay Yojana

हम जानते हैं कि कई राज्य में पशुओं का दूध निकाल कर उन पशुओं को खुला छोड़ दिया जाता है, जिससे गाँव तथा शहरों में गोबर व्यर्थ ही पड़ा रहता है और गन्दगी भी होने लगती है। छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के माध्यम से पशुओं को खुला छोड़ने के लिए रोक लग सके और पशुपालकों को गोबर का दाम मिलने पर आय के रूप में पशुपालकों को आर्थिक लाभ भी मिल सकेगा। वह अभी पशुपालक जो इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं उन्हें सीजी गोधन न्या योजना के लिए आवेदन की प्रकिया को पूरा करना होगा।

गोधन न्याय योजना जारी की गई 11वीं एवं 12वीं किस्त

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री द्वारा अपने निवास कार्यालय में एक समारोह आयोजित किया गया था। इस समारोह में, उन्होंने छत्तीसगढ़ गौधन न्याय योजना के सभी लाभार्थियों को संबोधित किया। इस अवसर पर, उन्होंने लाभार्थियों के बैंक खाते में 11 वीं और 12 वीं किस्तों की राशि हस्तांतरित की। दिनांक 11 दिसंबर से 31 दिसंबर के बीच खरीदे गए गोबर विक्रेताओं को 11 वीं किस्त के 4.5 अरब रुपये का भुगतान किया गया था। दिनांक 1 जनवरी से 15 जनवरी के बीच, गोबर की 12 वीं राशि के 3.02 करोड़ रुपये ऑनलाइन लाभार्थियों के खाते में स्थानांतरित किए गए। छत्तीसगढ़ गौधन न्याय योजना के तहत अब तक 71 करोड़ 72 लाख रुपये का भुगतान किया जा चुका है।
मुख्यमंत्री द्वारा यह भी बताया गया कि 57 हजार से अधिक भूमिहीन किसान इस योजना के लाभार्थियों में से हैं। गोबर बेचना इन सभी भूमिहीन किसानों के लिए आय का साधन बन गया है, ताकि किसानों की आय बढ़ाने के सरकार के उद्देश्य को भी हासिल किया जा सके। छत्तीसगढ़ गोधनिया योजना के तहत अब तक 35 लाख 86 हजार क्विंटल गोबर की खरीद की जा चुकी है। यह खरीद आने वाले समय में सरकार द्वारा जारी रखी जाएगी।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना न्यू अपडेट

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के द्वारा इस योजना के तहत पंजीकृत आवदेकों के गोबर की खरीद की प्रकिया की शुरुआत कर दी है। इस योजना के तहत अभी तक कुल 65,694 लोगो ने पंजीकरण करा लिया है जिसमे से 46,764 लोगो से लगभग 82,711 क्विंटल गोबर ख़रीदा जा चूका है। अभी तक के लिए ख़रीदे गए गोबर की कुल डेय राशि 1,65,00,000 रुपये है जिसे पहली किस्त के रूप में सहकारी बैंक के माध्यम से सीधे लाभार्थियों के सीधे बैंक खाते में ट्रांसफर किया जा चूका है।

गोधन न्याय योजना की पृष्ठभूमि

राज्य सरकार द्वारा ग्रामीण अर्थव्यवस्था में सुधार के लिए नरवा, गुरुवा आदि जैसी कई योजनाएं पिछले डेढ़ साल से चलाई जा रही हैं। सरकार द्वारा मवेशियों के लिए गौशालाओं का निर्माण भी किया गया है। छत्तीसगढ़ राज्य के 2200 गांवों में गौशालाओं का निर्माण किया जा चूका है और आने वाले समय में 5000 गौशालाओं का निर्माण किया जाएगा। छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना राज्य की अर्थव्यवस्था और ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिए बहुत फायदेमंद साबित होगी। इस योजना के माध्यम से रोजगार के अवसर भी उत्पन्न होंगे। इस योजना के अंतर्गत पशुधन मालिक अपने पशुओं को उचित चारा पानी प्रदान कर पाएंगे और गाय के गोबर को बेचकर आर्थिक लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

  • देश में सह-गोबर खरीदने वाला छत्तीसगढ़ पहला राज्य बन जाएगा। गौशालाओं का निर्माण सुरजी गाँव योजना के माध्यम से किया जाएगा और गोदान न्याय योजना इन गौशालाओं के माध्यम से लागू की जाएगी। महिला एसएचजी इन केंद्रों पर वर्मीकम्पोस्ट तैयार करने सहित कई अन्य प्रमुख योजनाओं का संचालन करेंगी।
  • छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना का विस्तार सरकार द्वारा चरणबद्ध तरीके से गौशालाओं का निर्माण करके किया जाएगा। गौशालाओं का निर्माण लगभग 11,630 ग्राम पंचायतों और 2000 गांवों में किया जाएगा।

सीजी गोधन न्याय योजना का अवलोकन

योजना का नामChhattisgarh Godhan Nyay Yojana
आरम्भ की गईमुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा
लाभार्थीराज्य के किसान
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यकिसानों की आय में वृद्धि करना
लाभआय के अतिरिक्त साधन
श्रेणीछत्तीसगढ़ सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटwww.cgstate.gov.in/

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय स्कीम का उद्देश्य

हम जानते हैं कि एक बड़ी  मात्रा में छत्तीसगढ़ राज्य के किसान और अन्य लोग हैं जो पशु पालन का कार्य करते हैं, परन्तु इस कार्य में अधिक आमदनी ना होने के कारण वे अपने पशुओं को चरने के लिए यहाँ-वहां खुला छोड़ देते हैं, जिसके गोबर के कारण गन्दगी बहुत फैलती है और इन पशुओं की वजह से सड़क हादसे भी हो जाते हैं। इन्ही समस्या के समाधान के लिए राज्य सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना की शुरुआत की गयी है।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना (Chhatisgarh Godhan Nyay Yojana) का उद्देश्य सरकार द्वारा गायों का गोबर खरीद कर गोबर का इस्तेमाल वर्मी कंपोस्ट खाद बनाने में करना है, जिसके माध्यम से पशुपालकों की आय में वृद्धि होगी और आय के अतिरिक्त अवसर भी उपलब्ध हो जायेंगे। इस योजना के माध्यम से पशुपालकों की आय में वृद्धि होने से पशुओं को उनके पशुपालन में ही रखा जायेगा, जिससे कि पशुओं को इधर-उधर चरने की भी जरुरत नहीं होगी।

Benefits of Chhatisgarh Godhan Nyay Yojana

  • छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना 2020 पशुपालन के माध्यम से व्यावसायिक रूप मिलेगा।
  • इस योजना के माध्यम से आय में वृद्धि होने से गायों को सही तरहा का चारा प्राप्त होगा।
  • पशुओ के साथ होने वाले हादसो पर इस योजना के ज़रिये रोक भी लग जाएगी।
  • राज्य में किसानो और पशुपालन करने वालों को राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना की वजह से होने वाले आर्थिक लाभ से पशुपालक अपनी गायों को खुला नहीं छोड़ेंगे जिससे गंदगी कम फैलेगी।
  • इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा गोबर खरीदकर गोबर का इस्तेमाल खाद बनाने के लिए किया जाएगा।
  • छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के कारण गांवों में गोबर के उपले बना कर उसे जलाने पर रोक लगेगी।

Godhan Nyay Yojana महत्वपूर्ण तथ्य

  • इस योजना को दो चरण में चलाया जाएगा, जिसमें पहले चरण में राज्य के 2240 गोशालाओं को जोड़ा जाएगा, फिर कुछ ही दिनों में 2800 गठनों का निर्माण होने के बाद दूसरे चरण में भी गोबर खरीदा जाएगा।
  • भविष्य में इस योजना को और भी ज्यादा कारगर बनाने के लिए राज्य के 20 हजार गांवों और शहरो में भी इस योजना को चलाया जाएगा।
  • छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से 21 जुलाई 2020 को पहली बार गोबर खरदीने की शुरआत करेगी।
  • गोबर को कितना खरीदा जाएगा और इसका दाम क्या होगा यह जानकारी 8 दिन के अंदर ही जारी कर दी जाएगी।

गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ पात्रता मानदंड

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको दिए गए पात्रता मानदंडों को अनिवार्य रूप से निम्न प्रकार पूरा करना होगा –

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक के पास आधार कार्ड होना आवश्यक है।
  • बड़े जमींदारों व्यापारियों को उनकी समृद्धता के आधार पर इस योजना का लाभ नहीं दिया जायेगा।
  • यदि आवेदक इस योजना में आवेदन करना चाहता है तो उसको छत्तीसगढ़ का मूल-निवासी होना आवश्यक।
  • वे आवेदक जो इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो उन्हें पशुओं की संख्या की जानकारी दर्ज करवाना आवश्यक है।

सीजी गोधन न्याय योजना आवश्यक दस्तावेज

  • मूल-निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता
  • मोबाइल नंबर
  • पहचान पत्र
  • आय प्रमाण पत्र

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

वे सभी इच्छुक आवेदक जो छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना में आवेदन करके इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, उन सभी को थोड़ो इंतज़ार करना होगा। क्योंकि अभी हाल ही में 20 जुलाई को इस योजना की केवल घोषणा की गयी है और इस योजना को सार्वजनिक रूप से अभी शुरू नहीं किया गया है। इस समय इस योजना के तहत आवेदन के लिए आधिकारिक वेबसाइट को भी लांच नहीं किया गया है। किसी भी विभाग के द्वारा इस योजना के लिए आवेदन प्रकिया की शुरुआत की जाएगी तब आप सभी को हमारी वेबसाइट द्वारा सूचित कर दिया जायेगा, और आप लोग Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।

यह भी पढ़े – छत्तीसगढ़ सौर सुजला योजना ऑनलाइन आवेदन, पंजीकरण प्रक्रिया

हम उम्मीद करते हैं की आपको छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

पूछे गए प्रश्नों के उत्तर

किस राज्य के किसान भाई गोधन न्याय योजना का लाभ ले सकते हैं?

छत्तीसगढ़ राज्य के किसान भाइयो के द्वारा गोधन न्याय योजना का लाभ लिया जा सकता है।

क्या पूरे देश में किसी भी व्यक्ति के द्वारा गोधन न्याय योजना का लाभ लिया जा सकता है?

नहीं,

छत्तीसगढ़ गोबर खरीद स्कीम का लाभ मुख्य रूप से किस वर्ग को दिया जायेगा?

इस योजना के द्वारा छत्तीसगढ़ के किसान भाइयो को लाभान्वित करने का कार्य किया जायेगा।



Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *