उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव 2021|UP Gram Panchayat chunav 2021Yojanagyan


यूपी पंचायत चुनाव 2021|यूपी ग्राम पंचायत चुनाव 2021 ग्राम प्रधान चुनाव उत्तर प्रदेश 2021 कब होगा|प्रधानी चुनाव उत्तर प्रदेश 2021|up gram panchayat chunav 2021|up gram panchayat chunav kab hoga|up gram panchayat election date 2021|next gram panchayat election in up 2021|

प्यारे दोस्तों आज हम अपनी आर्टिकल में यूपी ग्राम पंचायत 2021 की जानकारी देने जा रहे हैं| जैसा कि आप जानते हैं उत्तर प्रदेश में 2015 में पंचायत चुनाव हुए हैं|अब यूपी ग्राम पंचायत का 5 साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव होने जा रहे हैं|उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनावों अब मतदाता नोटा (None of Above) का भी इस्तेमाल कर सकेंगे। 22 जनवरी को राज्य निर्वाचन आयोग ने प्रदेश सरकार को एक प्रस्ताव भेजा है, जिसमें पंचायत चुनावों में नोटा के इस्तेमाल करने की बात कही गई है। योगी सरकार अगर आयोग के इस प्रस्ताव पर मुहर लगा देती है|

अगले साल (UP panchayat chunav 2021) प्रदेश में होने जा रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत व जिला पंचायत सदस्य) में मतदाता उम्मीदवारों के न पसंद आने पर ‘नोटा’ (NOTA) का इस्तेमाल कर सकेंगे।इस बार के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य व जिला पंचायत सदस्य का चुनाव एक साथ कराया जाएगा। इससे चुनाव पर आने वाला खर्च लगभग आधा हो जाएगा। इधर, जिले में मतदाता पुनरीक्षण सहित चुनाव संबंधी अन्य कार्य जनवरी व फरवरी से शुरू हो जाएगा।

उप प्रधानी/ सरपंच पंचायत चुनाव 2021|UP Gram Panchayat chunav 2021

ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत व जिला पंचायतों के चुनाव होने वाले हैं। चुनावी तैयारी में लगभग एक वर्ष का समय लग जाता है। राज्य निर्वाचन आयोग की बैठक में पंचायती राज निदेशक को पंचायतों के परिसीमन, नवगठन, पुनर्गठन की आवश्यकता का आकलन कर प्रस्ताव शासन को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। इसके बाद प्रत्येक स्तर पर निर्वाचन के लिए सीटों के आरक्षण का प्रस्ताव तैयार कर कार्रवाई कराई जाएगी

ग्राम पंचायत चुनाव का एलान हो गया है|अगले वर्ष 2021 जनवरी-व फरवरी माह में पंचायत चुनाव होंगे|राज्य निर्वाचन आयोग ने आदेश जारी किये है| राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनाव वर्ष 2021 का कार्यक्रम घोषित कर दिया है| जनवरी-फरवरी महीने में पंचायत चुनाव संपन्न कराए जाएंगे| राज्य निर्वाचन आयोग ने इसके आधिकारिक आदेश जारी कर दिए हैं. विस्तृत कार्यक्रम दिसंबर के अंत तक घोषित किया जाएगा|

New Update— प्रदेश में पंचायत चुनाव अगले वर्ष होने हैं। निर्वाचन आयोग ने चुनाव पर करीब 600 करोड़ रूपये खर्च होने का अनुमान लगाया है।शासन स्तर पर पंचायती राज विभाग, निर्देशक पंचायती राज व राज्य निर्वाचन आयोग के बीच वार्ता हुई। बैठक में जून से लेकर नवंबर 2021 के पहले त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों को संपन्न कराने की योजना पर चर्चा हुई । अब प्रत्येक स्तर पर निर्वाचन के लिए सीटों के आरक्षण का प्रस्ताव तैयार कर आगे की कार्रवाई की जाएगी ।

यूपी पंचायत चुनाव 2021|uttar pradesh Panchayat chunav 2021

उत्तर प्रदेश में ग्रामपंचायत चुनाव में राजनीतिक दल बढ़ चढ़कर साझेदारी करते हैं। इस​ लिहाज से ग्रामीण क्षेत्रों में चुनाव लड़ने के इच्छुक उम्मीदवारों पहले से ही मैदान में आ चुके हैं। अपने स्तर पर मतदाताओं से संपर्क कर अपनी दावदारी पेश करना शुरू कर दिया है। साथ ही राजनीतिक दल भी इन चुनावों की तैयारी के लिए गणित बिठाना शुरू कर दिया है। स्वाभाविक है निर्वाचन आयोग की आगामी पंचायत चुनाव की घोषणा के बाद अब उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में हलचल बढ़ने वाली है।
गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में वर्ष 2015 में पंचायत चुनाव नवंबर—दिसंबर के महीने में हुआ था।

22 हजार से ज्यादा ग्राम पंचायतें

प्रदेश में 22795 ग्राम पंचायत, 313 जनपद पंचायत और 52 जिला पंचायतों में चुनाव होना हैं। इसमें 843 जिला पंचायत सदस्य, 6816 जनपद पंचायत सदस्य, 22795 सरपंच और 363337 पंच चुने जाएंगे। पिछले चुनाव में करीब साढ़े तीन करोड़ मतदाता थे। इनके चुनाव के बाद जिला पंचायत अध्यक्ष व उपाध्यक्ष, जनपद पंचायत अध्यक्ष व उपाध्यक्ष और उप सरपंचों का चुनाव भी चुनाव आयोग कराएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *